fbpx

अगर शनिदेव के साथ-साथ काल भैरव का भी चाहते है आशीर्वाद, तो बस शनिवार को कर लें ये खास उपाय ?

Must read

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

ऐसा कहा जाता है कि अगर किसी व्यक्ति पर शनिदेव और काल भैरव की कृपा हो तो उस व्यक्ति के जीवन के सभी दुख और परेशानियां समाप्त हो जाती है। साथ ही जिस व्यक्ति के साथ काल भैरव का आशीर्वाद होता है उसके जीवन से भय भी कोसों दूर रहता है।
लेकिन अगर दोनों की बात की जाए तो दोनों को ही कर्मफल दाता माना जाता है यानी कि दोनों देव लोगों को उनके कर्मों के अनुसार फल देते है और एक बार अगर इनका उग्र रूप किसी व्यक्ति पर पड़ जाए तो यह दोनों ही व्यक्ति के जीवन में भूचाल ला देते है।
तो कैसे पाई जाए दोनों की कृपा यही सोच रहे है ना आप। तो ज्योतिष शास्त्र में दोनों का आशीर्वाद पाने के लिए कुछ खास उपाय बताए गए है जिनकी जानकारी लेकर आज हम आपके बीच आए है। तो कौनसे है ये उपाय और क्या मिलते है इनसे लाभ आइए यह जान लेते है।

Table of Contents

काल भैरव और शनिदेव के खास उपाय ?

इस मंत्र का करें जाप

अगर किसी व्यक्ति को शनिदेव और काल भैरव दोनों का आशीर्वाद प्राप्त करना हो तो ऐसे व्यक्ति को शनिवार के दिन स्नान करने के बाद ऊं प्रां प्रीं प्रौं शं शनिश्चराय नमः मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए। ऐसा करने से दोनों की कृपा प्राप्त होती है।

नीले पुष्प करें अर्पित

अगर आप शनिदेव की कृपा पाना चाहते है तो आपको 43 दिनों तक शनिदेव को नीले रंग के पुष्प अर्पित करने चाहिए।

Advertisement

तेल में देखें अपना चेहरा

यह उपाय सुनने में आपको अजीब लगेगा लेकिन अगर किसी बर्तन में सरसों का तेल भरकर और उसमें अपना चेहरा देखकर जमीन में गाड़ दिया जाए। तो शनिदेव की कृपा प्राप्त होती है।

पक्षियों को डाले दाना

अगर कोई व्यक्ति अपनी छत की सफाई रखता है और पक्षियों के लिए दाना-पानी रखता है तो ऐसे व्यक्ति से शनिदेव और काल भैरव दोनों प्रसन्न होते है और व्यक्ति को दोनों का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

ये उपाय भी जाने ?

• 1 लीटर सरसों तेल से करें शनिदेव का अभिषेक।
• कौए को चावल खिलाएं।
• 800 ग्राम दूध और काली उड़द की दाल को बहते जल में प्रवाहित करें।

ये भी पढ़े अगर पाना चाहते है माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद, तो शुक्रवार को करें ये खास उपाय ?

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article