fbpx

कांग्रेस छोड़ पार्टी बनाने का फैसला अंतिम, अब बातचीत की गुंजाईश नहीं – अमरिंदर सिंह

Must read

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को कांग्रेस के साथ बैकएंड वार्ता की खबरों को खारिज करते हुए कहा कि मेलजोल का समय आब खत्म हो गया है। पार्टी छोड़ने का उनका फैसला अंतिम है। सिंह ने दोहराया कि वह जल्द ही अपनी राजनीतिक पार्टी शुरू करेंगे और कहा कि वह “पंजाब के हित में एक मजबूत सामूहिक ताकत” बनाना चाहते हैं।

सिंह के मीडिया सलाहकार ने ट्वीट किया, पार्टी से अलग होने का निर्णय बहुत सोच-विचार के बाद लिया गया और अंतिम है। मैं सोनिया गांधी जी का उनके समर्थन के लिए आभारी हूं। लेकिन अब में कांग्रेस में नहीं रहूंगा, ”

सिंह कुछ मीडिया रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे, जिसमें कहा गया था कि कांग्रेस के कुछ नेता उन्हें पार्टी में बने रहने के लिए मनाने के लिए बैकएंड बातचीत में लगे हुए हैं।

जिस पर सिंह ने कहा है कि “मैं जल्द ही अपनी पार्टी लॉन्च करूंगा और 2022 में पंजाब (विधानसभा) चुनाव के लिए बीजेपी से अलग हुए अकाली गुटों और अन्य के साथ सीटों के बंटवारे के लिए बातचीत करूंगा। बस एक बार किसानों की समस्या का समाधान हो जाए ”

Advertisement

मुख्य रूप से पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान, तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली सीमा बिंदुओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, जो पिछले साल सितंबर में बनाए गए थे, और इन्हें निरस्त करने की मांग कर रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ने बुधवार को कहा था कि जब चुनाव आयोग नाम और चुनाव चिह्न को मंजूरी देगा तो वह अपनी नई राजनीतिक पार्टी शुरू करेंगे। उन्होंने दावा किया कि पार्टी के कई लोग उनके संपर्क में हैं। पंजाब में अगले साल की शुरुआत में चुनाव होने हैं।

सिंह ने पहले कहा था कि वह जल्द ही अपनी पार्टी शुरू करेंगे, और उन्हें भाजपा के साथ सीट समायोजन की उम्मीद थी, बशर्ते कि कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसानों के आंदोलन को उनके हित में हल किया गया हो। उन्होंने पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिद्धू के साथ सत्ता संघर्ष के बीच पिछले महीने पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article