fbpx
Home हेल्थ हद से ज्यादा पालक का सेवन हो सकता है आपकी सेहत के...

हद से ज्यादा पालक का सेवन हो सकता है आपकी सेहत के लिए खतरनाक, जानिए कैसे ?

0
101
Consuming spinach in excess can be dangerous

पालक हमारी सेहत के लिए सबसे अच्छी सब्जी मानी जाती है जिसे लोग बड़े ही चाव के साथ खाना पसंद करते है। कई लोग पालक पनीर के रूप में इसका सेवन करते है, कई लोग पालक का साग बनाकर खाते है और कई लोग तो इसका जूस के रूप में सेवन करते है।

तरीका चाहे कुछ भी हो लेकिन लोग इसे खाते इसलिए है क्योंकि इससे हमारी सेहत को कई पोषक तत्व मील जाते है। जैसे कि आयरन, कैल्शियम, विटामिन ए, विटामिन सी, एंटी-ऑक्सीडेंट व और भी कई पोषक तत्व।

इसीलिए लोगों को पालक को अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है। अब भले ही पालक को सेहतमंद माना जाता है लेकिन क्या आप जानते है कि पालक आपकी सेहत को कई नुकसान पहुंचाती है। परंतु तभी जब आप इसका जरूरत से ज्यादा सेवन करने लगे।

क्योंकि चाहे दवाई ही क्यों ना हो अगर जरूरत से ज्यादा किसी चीज का सेवन किया जाता है तो वह आपके लिए जहर बनने में समय नहीं लगाती। तो आइए अब बात कर लेते है कि अगर अधिक मात्रा में पालक का सेवन किया जाए तो यह आपको कैसे और क्या नुकसान पहुंचा सकती है।

Advertisement

किडनी स्टोन की हो सकती है समस्या

वैसे तो पालक का सेवन करना अच्छा होता है लेकिन अगर पालक का हद से ज्यादा सेवन किया जाता है तो इससे आपको पथरी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि पालक में बहुत अधिक मात्रा में कैल्शियम ऑक्सीलेट पाया जाता है।

इसीलिए जब हम पालक का हद से ज्यादा सेवन करते है तो यह किडनी में छोटे-छोटे स्टोन बनाने लगता है। इसके अलावा पालक के अधिक सेवन से आपको जोड़ों मे दर्द और गठिया की भी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या

भले ही पालक का सेवन करना हमारे पेट के लिए अच्छा माना जाता है लेकिन अगर आप पालक का हद से ज्यादा सेवन करते है तो इसका सीधा असर आपके पाचन तंत्र पर भी पड़ सकता है।

ब्लड क्लॉटिंग की समस्या

अगर आपका खून गाढ़ा हो और आप खून को पतला करने के लिए दवा ले रहे हो तो आपको इस कंडीशन में पालक का भूलकर भी सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपको ब्लड क्लॉटिंग की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

मिनरल की कमी की समस्या

जैसा कि हम सभी जानते है कि पालक में अच्छी मात्रा में ऑक्सालिक एसिड, जिंक, मैग्नीशियम और कैल्शियम पाए जाते है और जब इनकी मात्रा हमारे शरीर में बढ़ जाती है तो हमारा शरीर पर्याप्त पोषक तत्वों को अवशोषित करने में असमर्थ हो जाता है। जिससे आगे चलकर हमारे शरीर में मिनरल की कमी की समस्या पनपने लगती है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here