fbpx

Dolo 650 Uses In Hindi | जानें क्या है फायदे और नुकसान

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Table of Contents

Dolo 650 Tablet Uses in Hindi

जाने Dolo Tablet Uses in Hindi (डोलो टेबलेट के उपयोग इन हिंदी ), फायदे, नुकसान और सम्पूर्ण जानकारी डोलो टेबलेट के बारे में ।

डोलो 650 सामान्य दावाओं में से एक है, खासतौर पर हल्के दर्द में डॉक्टरो द्वारा राहत देने के लिए सबसे ज्यादा निर्धारित की जाती है। यह दवा बुखार और हल्के से मध्यम दर्द को कम करने में प्रभावी रूप से काम करती है। आज हम आपको इस आर्टिकल में डोलो 650 को लेकर अक्सर लोगों के जहन में आने वाले सवालों का जवाब देने की कोशिश करेंगे। आज हम आपको इसके उपयोग करने के तरीके से लेकर इसको होने वाले और नुक्सान से रुबरु करेंगे। अगर आप भी हल्के दर्द या बुखार आने पर डोलो 650 का सेवन करते हैं तो यह आपके के लिए कितना फायदेमंद है और नुकसानदेह भी हो सकता है इस विषय पर आपके साथ जानकारी सांझा करेंगे। साथ ही जानेंगे की आखिर किस तरह से यह दवा दर्द या बुखार को कम करने के लिए किस प्रकार की क्रिया करती है।

डोलो की यह डोज मस्तिष्क को भेजे जाने वाले दर्द के संकेतों को रोकता है, जिसके परिणाम स्वरूप इसे लेने के बाद व्यक्ति द्वारा अनुभव किया जाने वाला दर्द कम हो जाता है पेरासिटामोल डोलो 650 का मुख्य घटक है। इसका उपयोग शरीर के दर्द को कम करने के लिए भी किया जाता है। पेरासिटामोल अकेले या अन्य दवाओं के संयोजन में कैंसर और पोस्टऑपरेटिव रोगियों के लिए दर्द से राहत के लिए निर्धारित किया जाता है। वयस्कों के लिए सामान्य खुराक यदि आवश्यक हो तो हर चार घंटे में 1 से 2 गोलियां हैं, लेकिन प्रति दिन 4000 मिलीग्राम से अधिक नहीं होनी चाहिए।

Advertisement

जाने डोलो 650 के बारे में

About to Dolo 650 in Hindi

डोलो 650 टैबलेट डॉक्टर के द्वारा निर्धारित की जाने वाली दवा है, जो मेडिकल स्टोर से बड़ी ही आसानी से मिल जाती है। इस दवा का उपयोग विशेष रूप से बुखार, सिरदर्द, दर्द का इलाज करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा Dolo 650 Tablet का उपयोग कुछ दूसरी इन समस्याओं के लिए भी किया जा सकता है। आयु, लिंग और रोगी की पिछली स्वास्थ्य जानकारी के अनुसार Dolo 650 Tablet की खुराक दी जाती है। इसकी खुराक मरीज की समस्या और दवा देने के तरीके पर भी आधारित की जाती है।

इनके अलावा Dolo 650 Tablet के कुछ अन्य दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं, जो आगे आर्टिकल में संक्षेप के साथ बताएं गए हैं। Dolo 650 Tablet के इस तरह के साइड इफेक्ट सामान्यतः लंबे समय तक नहीं रहते और एक बार इलाज पूरा होने जाने के बाद अपने आप खत्म हो जाते हैं। हालांकि अगर ये समस्याएं लंबे समय तक बनी रहती हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। गर्भवती महिलाओं पर Dolo 650 Tablet का प्रभाव सुरक्षित होता है और स्तनपान कराने वाली महिलाओं पर इस दवा का प्रभाव सुरक्षित है।

अगर आपको पहले से ही गुर्दे की बीमारी, लिवर रोग, Drug Allergies जैसी समस्याएं हैं तो इस दवा का उपयोग न करें, इससे दुष्परिणाम हो सकते हैं। इनके आलावा कुछ अन्य समस्याएं भी हैं जिनमें Dolo 650 Tablet लेने से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। Dolo 650 Tablet को कुछ दवाओं के साथ लेने से गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। वाहन चलाते वक्त Dolo 650 Tablet लेना सुरक्षित नहीं है, साथ ही इसकी लत पड़ सकती है।
डोलो 650 टैबलेट को जिस तारीख को बनाई जाती है उस दिन गया होता है उस तारीख से लेकर के यह 1 साल तक वैध होती है और उसके बाद यह दवा एक्सपायर हो जाती है इसलिए जब भी आप मेडिकल स्टोर से इस दवा को खरीदे तो इसकी एक्सपायरी डेट को अवश्य चेक कर ले।

डोलो 650 टैबलेट कैसे करती है काम ?

अधिकतर मामलों में दी जाने वाली Dolo 650 टैबलेट के अंदर जो मुख्य तत्व है उसका नाम पेरासिटामोल है। इसी तत्व के कारण जब हम इस टैबलेट का सेवन पानी के साथ करते है तो यह हमारी बॉडी में पहुंचती है और फिर हमारी बॉडी के पाचन एंजाइम इसके साथ केमिकल रिएक्शन करते है जिसके कारण यह टैबलेट साइक्लोन ऑक्सीजन एंजाइम को रोकने का काम करती है और इसी की वजह से बुखार और शरीर में सूजन तथा अन्य समस्याएं चली जाती हैं।

Dolo 650 Tablet के लाभ

डोलो 650 एक पैरासेटामॉल है, जिसका इस्तेमाल दर्द निवारक दवा के तौर पर किया जाता है। यह मस्तिष्क में केमिकल मैसेंजर्स को ब्लॉक करके काम करता है। ये केमिकल मैसेंजर्स ही हमें बताते हैं कि हमें दर्द हो रहा है।

दर्द से राहत

डोलो 650 टैबलेट बुखार और दर्द के इलाज में इस्तेमाल होने वाली एक सामान्य दर्द निवारक दवा (पेनकिलर) है। इसका व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाता है और अगर सही तरीके से लिया जाए तो इससे शायद ही कभी कोई साइड इफ़ेक्ट होता है। इससे अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए इसे डॉक्टर के सलाह अनुसार ही लें। जरूरत से ज्यादा खुराक या लंबे समय तक इसका सेवन ना करें क्योंकि यह खतरनाक हो सकता है।

बुखार का इलाज

डोलो 650 टैबलेट का इस्तेमाल उच्च तापमान (बुखार) को कम करने के लिए भी किया जाता है। यह कुछ केमिकल मैसेंजर्स को रिलीज होने से रोकता है जो बुखार का कारण बनते हैं। इसे अकेले या अन्य दवाओं के साथ लेने की सलाह दी जा सकती है। इसे डॉक्टर द्वारा पर पर्ची में लिखे गए गए अनुसार लें।

दर्द का इलाज

सिर दर्द, माइग्रेन, नसों में दर्द, दांत में दर्द, गले में खराश, पीरियड में दर्द, आर्थ्रराइटिस और मांसपेशियों के दर्द में यह प्रभावशाली साबित हुआ है। इस दवा का व्यापक तौर पर इस्तेमाल किया जाता है और इसे डॉक्टर द्वारा बताए अनुसार ही लेना चाहिए। प्रेगनेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के समय होने वाले दर्द से भी यह राहत दिलाता है।

डेंगू या मलेरिया

यदि किसी व्यक्ति को डेंगू या मलेरिया बुखार है, तो उस में भी इस दवाई का इस्तेमाल किया जा सकता है परंतु दवाई पहले आपको एक बार डॉक्टर से परामर्श कर लेना चाहिए।

डोलो 650 टैबलेट के नुकसान क्या है? dolo 650 side effects in hindi

देखिए अगर सही मात्रा में इसका सेवन किया जाता है, तो आपको इसके फायदे ही फायदे प्राप्त होंगे, परंतु अगर आप इसका सेवन ज्यादा करते हैं तो कुछ साइड इफेक्ट भी आपको दिखाई दे सकते है जो नीचे आपको बताए जा रहे हैं।

Dolo 650 के साइड इफेक्ट्स

  • डॉक्टर मुताबिक डोलो 650 टैबलेट को नहीं खाते है तो आपको अपनी बॉडी में सूजन हो सकती है या फिर आपको ऐसा भी महसूस हो सकता है कि आपको सांस लेने में दिक्कत हो रही है।
  • दवाई के दुष्प्रभाव के तौर पर आपको अपनी स्कीन पर खुजली का एहसास भी हो सकता है अथवा थोड़ी बहुत जलन भी हो सकती है या फिर आपकी त्वचा पर छोटे छोटे दाने भी निकल सकते है जो दिखाई देने में लाल रंग के होते है और वहां पर आपको ज्यादा खुजलाहट हो सकती हैं।
  • दस्त होना भी इस दवा के साइड इफेक्ट में शामिल है।
  • यह दवा आपकी भूख को कम कर सकती है और लीवर को भी प्रभावित कर सकती है, जिसके कारण आपको पाचन से संबंधित समस्या हो सकती हैं।
  • एनीमिया, एडिमा, अस्थमा जैसी प्रॉब्लम भी दवा के साइड इफेक्ट में शामिल है।

Dolo 650 टैबलेट का उपयोग अथवा सेवन

  • सामान्य तौर पर डाक्टरों द्वारा आपको इस दवाई को लेने के लिए खाना खाने के बाद का समय दिया जाता है या फिर खाना खाने के आधे घंटे पहले का टाइम दिया जाता है, क्योंकि इस दवा को सामान्य तौर पर लेने का सही तरीका यही है।
  • जब आप इस दवा को खाए तब आपको इसे सीधा निगल जाना है, आपको इसे कूचना नहीं है, वरना आपकी जीभ का स्वाद खराब हो सकता है।
  • एक डोलो टैबलेट खाने के बाद आपको दूसरी डोलो टैबलेट कम से कम 7 घंटे के बाद खानी चाहिए।
  • डॉक्टर द्वारा इस दवा को जब किसी व्यक्ति को दिया जाता है तब डॉक्टर उस व्यक्ति का वजन, उसकी उम्र और उसकी शारीरिक स्थिति के हिसाब से ही इस दवा का सेवन करने के लिए कहता है। ऐसे में आपको अपनी समस्या से राहत पाने के लिए इस टैबलेट को वैसे ही खाना चाहिए, जैसे डॉक्टर ने कहा है।

डोलो 650 टैबलेट का इस्तेमाल

अधिकतर हमें जब बुखार या शरीर में कहीं दर्द होने लगता है तो हम मेडिकल स्टोर पर दवा लेने के लिए जाते है तो मेडिकल स्टोर पर काम करने वाले व्यक्ति हमें डोलो 650 टैबलेट देते हैं, जिसका काम बुखार को कम करना होता परंतु इसके फायदे सिर्फ यही तक ही सीमित नहीं है। डोलो 650 टैबलेट के कई अन्य फायदे भी है और इसका इस्तेमाल कई अन्य समस्याओं के लिए भी किया जाता है।

कुछ दवाई ऐसी होती हैं, जिनका सेवन किसी अन्य दवा के साथ करने से आपको उसके साइड इफेक्ट हो सकते हैं। डोलो 650 टैबलेट भी एक ऐसी दवा है, जो कुछ अन्य दवाओं के साथ अगर आप लेते है तो यह दिक्कत पैदा कर सकती है। नीचे आपको यह बताया जा रहा है कि ऐसी कौन सी समस्याएं हैं, जिनकी दवा खाने के साथ ही साथ अगर आप इस दवा को लेते है तो आपको नुकसान हो सकते हैं।

. डोलो 650 टेबलेट का सेवन एलर्जी की दवाओं के साथ ना करें।

. अगर आप अस्थमा की दवाइयां खा रहे हैं तो इस दवा को ना लें।

. लिवर का इलाज करा रहे व्यक्ति को इस दवा का सेवन लीवर की दवाओं के साथ नहीं करना चाहिए।

. ब्लड प्रेशर की दवाओं के साथ भी इसका सेवन करना मना किया गया है।

. दारू के साथ इस दवा को लेने के लिए सख्त मनाही है।

डोलो 650 का सेवन किन बीमारियों में नहीं करना चाहिए?

. अस्थमा

. लीवर से संबंधित समस्या

. ब्लड प्रेशर की समस्या

. एलर्जी

. कैंसर

. दिमाग की नसों से संबंधित समस्या

All substitutes for Dolo 650 Tablet

यदि आपको कभी अपने घर के आस-पास स्थित मेडिकल स्टोर पर डोलो 650 ना मिले तो आप ऐसी अवस्था में इन कुछ दवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं जिनके नाम कुछ प्रकार है-

  • किन 650 एमजी गोली
  • कैलपॉल 650 एमजी टैबलेट
  • डॉलीपरेन 650 एमजी टैबलेट
  • पारापाईप 650 एमजी टैबलेट
  • एक्टन 650 एमजी टैबलेट

डोलो 650 टैबलेट से जुड़ी ये खास बातें

किसी भी दवा को अगर ऐसी जगह पर रखा जाता है जहां पर उसे ज्यादा हवा लग जाती है या फिर वहां तेज गर्मी होती है तो वह दवा खराब हो सकती है। इसलिए डोलो 650 टैबलेट को आपको ऐसी जगह पर रखना चाहिए, जहां का तापमान ना तो ज्यादा गरम हो ना ही ज्यादा ठंडा हो। इसके अलावा आपको इस दवा को बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

याद रखें ये बातें

  • अगर आपका पेट खराब हो गया है तो आपको एक गिलास दूध के साथ डोलो 650 टैबलेट का सेवन करना चाहिए या फिर आप 1 गिलास पानी के साथ एक टैबलेट इसकी ले सकते हैं।
  • अगर आपने डॉक्टर को दिखा करके इसे टैबलेट को लेना चालू किया है तो जिस प्रकार से डॉक्टर ने आपको कहा है उसी प्रकार से इसे लेना चाहिए ताकि आपको जल्दी फायदा हो।
  • इस टैबलेट को खाने के तकरीबन 2 घंटे तक आपको अपच की दवा नहीं लेनी है।
  • शराब के साथ इस दवा को लेने के लिए मना किया गया है। इसीलिए जब आप ऐल्कोहॉल का सेवन करें तो इस दवा को ना लें। ऐल्कोहॉल का नशा उतर जाने के बाद आप इस दवा को ले सकते हैं।
  • अगर आपको लीवर की समस्या है फिर भी आप इस दवा को लेना चाहते हैं तो एक बार डॉक्टर से अवश्य मिल ले। वह आपकी परिस्थिति के अनुसार इस दवा को आपको लेना चाहिए या नहीं, यह बताएगा।
  • अगर आप 2 से 3 महीने तक इस दवा को लेना चाहते है तो आपको अपने लीवर का विशेष तौर पर ध्यान रखना पड़ेगा। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर आपको तुरंत डॉक्टर के पास चले जाना चाहिए।

डोलो 650 टैबलेट: अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न: Dolo 650 टैबलेट की भारत में क्या किमत है?

उत्तर: आपको इसकी 15 गोलियां ₹25.30 की मिल जाएंगी।

प्रश्न: डोलो 650 टैबलेट को कहां से खरीद‌ सकते हैं?

उत्तर: यह एक ऐसी टैबलेट है, जो आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर मिल जाएगी। अगर आप ग्रामीण इलाके में रहते है तो आप चाहें तो इसे ऑनलाइन भी मंगा सकते हैं, क्योंकि यह ऑनलाइन भी बिकती है।

प्रश्न: डोलो 650 टैबलेट अपना असर कब दिखाती है?

उत्तर: जब आप इस दवा को लेते है तो उसके 1 घंटे के बाद आपको आराम मिलना चालू हो जाता है क्योंकि इसकी गिनती अंग्रेजी दवा में होती है।

प्रश्न: हम 1 दिन में डोलो 650 टैबलेट की कितनी खुराक ले सकते हैं?

उत्तर: आपको 1 दिन में अधिक से अधिक डोलो 650 की चार टेबल का सेवन करना चाहिए। एक सुबह, एक दोपहर, एक शाम और एक रात में।

प्रश्न: डोलो 650 टैबलेट को किसके साथ लेना चाहिए?

उत्तर: आप इसे पानी के साथ भी खा सकते है या फिर दूध के साथ भी खा सकते हैं।

प्रश्न: क्या इस टैबलेट को बच्चों को दिया जा सकता है?

उत्तर: इस टैबलेट को बच्चों को देने से पहले आप डॉक्टर को अवश्य दिखा दें और वह जैसा कहते है, वैसा ही करें।

प्रश्न: डोलो 650 टैबलेट का मुख्य घटक क्या है?

उत्तर: इसका मुख्य घटक पेरासिटामोल है, जो सर दर्द जैसी समस्या को दूर करने का काम करता है।

प्रश्न: डोलो 650 टैबलेट का उपयोग क्या है?

उत्तर: यह सर दर्द, बदन दर्द, जोड़ों का दर्द जैसी समस्या को दूर करता है। इसके अलावा भी कई अन्य प्रॉब्लम में इसका इस्तेमाल होता है।

प्रश्न: डोलो 650 टैबलेट के 1 पत्ते में कितनी गोलियां होती हैं?

उत्तर: इसके 1 पत्ते यानी की Strip में आपको 15 गोलियां मिलती है।

ये भी पढ़े पेट बढ़ने के पीछे हो सकतें हैं ये कारण, तेजी से इसे कम करने में आपके काम आएंगे यह घरेलू उपाय!

Dolo 650 uses in hindi price

Dolo tablet uses in hindi

Dolo 650 side effects in hindi

Dolo 650 tablet

Dolo 650 price

Dolo 650 composition

डोलो टैबलेट

Dolo 650 गर्भावस्था के दौरान

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article