fbpx

द कश्मीर फाइल से लेकर हामिद तक, Kashmir के मुद्दों पर बनी है ये फिल्मे, यहां जानें लिस्ट और उनकी कहानी

Must read

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

विवेक रंजन अग्निहोत्री के डायरेक्शन में बनी फिल्म ‘The Kashmir Files’ इन दिनों चर्चा में हैं। यह फिल्म कश्मीरी पंडितों के जीवन पर आधारित है। रिलीज के समय से ही इस फिल्म और इसके किरदारों ने खूब सुर्खियां बटोरी है। फिल्म को लेकर जबरदस्त रिस्पॉन्स देखने को मिल रहा है। IMDB पर इसकी रेटिंग 10 है। कश्मीर का मुद्दा देश के सबसे बड़े मुद्दों में से एक रहा है। इस पर पहले भी कई फिल्में बनी हैं। उन फिल्मों को भी दर्शकों ने काफी पसंद किया है। यहां जानें ऐसी कुछ अन्य फिल्मों के बारे में।

द कश्मीर फाइल-

द कश्मीर फाइल्स मूवी रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में साल 1990 में कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार को दिखाया गया है। इस फिल्म में अनुपम खेर, दर्शन कुमार, मिथुन चक्रवर्ती जैसे कई बड़े सितारे हैं। फिल्म की कहानी कश्मीर के एक टीचर पुष्कर नाथ पंडित की जिंदगी के इर्द-गिर्द घूमती है, जिनका किरदार अनुपम खेर ने निभाया है। पुष्कर नाथ, कृष्णा (दर्शन कुमार) के दादा है। कृष्णा दिल्ली से कश्मीर आता है, अपने दादा पुष्कर नाथ पंडित की आखिरी इच्छा पूरी करने के लिए। कृष्णा अपने दादा के सबसे अच्छे दोस्त ब्रह्मा दत्त जिनका किरदार मिथुन चक्रवर्ती ने निभाया है, उनके यहां ठहरता है। उस दौरान पुष्कर के अन्य दोस्त भी कृष्णा से मिलने आते हैं। इसके बाद फिल्म फ्लैशबैक में जाती है। जहां दिखाया गया है कि, 1990 से पहले कश्मीर कैसा था।

शिकारा-

Advertisement

साल 2020 में आई फिल्म ‘शिकारा’ भी कश्मीरी पंडितों पर आधारित है। इस फिल्म में लव स्टोरी दिखाई गई है। इसका निर्देशन विधु विनोद चोपड़ा ने किया है। फिल्म की कहानी तब की है जब साल 1987 में कश्मीरी पंडितों और मुसलमानों की संख्या बराबर थी, सब मिल-जुलकर रहते थे। लेकिन बाद में दंगे होने लगे। कश्मीरी पंडितों के घर जलाए जाने लगे उन्हें तंग किया जाने लगा, जिसके कारण उन्हें जान बचाकर जाना पड़ा। इस फिल्म में आदिल खान और सादिया मुख्य भूमिका में थे।

हैदर-

डायरेक्टर विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘Haider’ भी इसी पर आधारित है। इस फिल्म में शाहिद कपूर, तब्बू जैसे बड़े एक्टर हैं। इस फिलम में शाहिद कपूर एक कश्मीरी युवा की भूमिका में नजर आते हैं। इस फिल्म में कश्मीर की राजनीतिक हालातों को दिखाया गया है। यह फिल्म सच्ची घटना पर आधारित नहीं है और इसे शेक्सपियर के नाटक हैमलेट से बनाया गया है। इस फिल्म में श्रद्धा कपूर भी हैं।

तहान-

फिल्म तहान कश्मीर में फैले आतंकवाद को दिखाया गया है। फिल्म में दिखाया गया है कि एक स्थानीय साहूकार एक आठ साल के बच्चे का पालतू गधा ऋण के एवज में ले जाता है। जब वह बच्चा अपना गधा वापस लेने जाता है, तो वहां उसकी मुलाकात एक आतंकवादी से होती है, वह उसके काम पूरा करने के लिए ग्रेनेड देता है।

रोजा-

यह फिल्म एक खूबसूरत लव स्टोरी है, जिसमें आतंकवाद की समस्या को दिखाने की कोशिश की गई है। इस फिल्म में एक्ट्रेस मनीषा कोईराला और साउथ एक्टर अरविंद स्वामी अहम भूमिका में नजर आए हैं। कहानी में रोजा तमिलनाडु की रहने वाली महिला होती है, जिसके पति को एक अंडरकवर ऑपरेशन के दौरान आतंकवादी उठा कर ले जाते हैं। इस फिल्म को हिंदी के अलावा, मराठी, तेलुगू, मलयालम समेत कई अन्य भाषाओं में रिलीज किया गया था।

मिशन कश्मीर-

कश्मीर के बारे में आपने कई बार आपने देखा होगा, या पढ़ा होगा कि, वहां युवाओं को आतंकवादी बनाने की कोशिश की जाती है। यह फिल्म भी ऐसी ही एक कहानी पर आधारित है। फिल्म में ऋतिक रोशन, संजय दत्त और प्रीति जिंटा अहम भूमिका में नजर आते हैं।

हामिद

साल 2019 में आई फिल्म हामिद भी कश्मीर के हालातों पर आधारित है। इस फिल्म को डायरेक्टर एजाज खान ने बनाया था। इस फिल्म में 7 साल के कश्मीरी बच्चे की कहानी को दर्शाया गया है, जिसके पिता अचानक से गायब हो जाते हैं। यह फिल्म मोहम्मद अमिन भट्ट के नाटक ‘फोन नंबर 786 पर आधारित है। वो बच्चा अपने पिता को खोजने में लगा रहता है।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article