fbpx

अगर रहना चाहते है सेहतमंद, तो कभी ना करें इन चीजों का सेवन ?

Must read

एक समय हुआ करता था जब लोग कहते थे कि हम तो पत्थर को भी पचा लेंगे लेकिन आज का समय उन दिनों से बहुत अलग है क्योंकि आज के समय में हमारा खान-पान इतना गलत हो गया है कि जिनकी वजह से हमारे शरीर में कई बीमारियां अपना घर बना लेती है।

इतना ही नहीं इस गलत खान-पान का असर हमारे शरीर पर इस तरह से पड़ रहा है कि आज हर कोई मोटापे का शिकार हो रहा है। इसलिए हमें यह ध्यान में रखना चाहिए कि हम केवल हेल्दी खाने को ही अपनी डाइट में शामिल करें।

इसके अलावा हमें कुछ नियमों का भी ध्यान रखना चाहिए, जिनसे हम अपने शरीर को फिट और हेल्दी रख सके। वैसे तो वजन कम करने के लिए आज के समय में तरह-तरह की डाइट मौजूद है लेकिन हम उन्हें फॉलो करने से कतराते है कि कहीं इसका गलत साइड इफेक्ट्स ना पड़ जाए।

इसी को देखते हुए आज हम आपके लिए कुछ ऐसी चीजों की लिस्ट लेकर आए है, जिन्हें अगर आप अपनी डाइट से हटा देते है। तो आपको इनके कई लाभ मिल सकते है। तो आइए उन चीजों के बारे में जानते है।

Advertisement

कभी ना करें ओमेगा 6 फैट वाले वेजिटेबल ऑयल का इस्तेमाल

ओमेगा 6 फैट हमारी सेहत के लिए बहुत ही खतरनाक माना जाता है। इसके सेवन से हमारे शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है और यह फैट सोयाबीन ऑयल, केनोला ऑयल, कार्न ऑयल और कॉटन सीड ऑयल में मौजूद होता है।

अगर ओमेगा 6 फैट का सेवन लंबे समय तक किया जाए तो इससे हार्ट स्ट्रोक और अन्य हृदय की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। इसीलिए अपनी डॉइट में ओमेगा 6 फैट के इस्तेमाल से बचना चाहिए।

आर्टिफिशियल ट्रांस फैट से बचे

ट्रांस फैट भी हमारे शरीर के लिए बहुत खतरनाक होता है। इसी को देखते हुए काफी देशों में तो ट्रांस फैट बैन है। ट्रांस फैट प्रोसेस किए गए खाने में पाया जाता है और अगर इसका इस्तेमाल डाइट में किया जाए। तो यह भी दिल की बीमारियों को न्यौता देने के समान होता है।

अपने खाने में करें कैलोरीज को कम

कैलोरीज को हमें अपना दुश्मन मानना चाहिए क्योंकि इसका सेवन हमारे शरीर में मोटापे को बढ़ाने का काम करता है। इसी को देखते हुए हमें हमारी डाइट में केवल उन्हीं चीजों का सेवन करना चाहिए जिनमें कैलोरीज ना हो। ऐसे भोजन से हमारे शरीर का मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है और शरीर में अनचाहा मोटापा भी नहीं बढ़ता।

रिफाइंड कार्ब्स का ना करें इस्तेमाल

हम जिस गेहूं के आटे का इस्तेमाल करते है उसमें बहुत अधिक मात्रा में रिफाइंड कार्ब्स पाए जाते है और रिफाइंड कार्ब्स में बहुत अधिक मात्रा में शुगर मौजूद होती है। जो कि हमारे शरीर में कैलोरीज को बढ़ाती है और इसी वजह से हमें कोई न्यूट्रिएंट्स नहीं मिल पाते।

इसलिए हमें हमारी डाइट में रिफाइंड कार्ब्स के इस्तेमाल से बचना चाहिए क्योंकि रिफाइंड कार्ब्स से हमारे शरीर में मोटापा, टाइप-2 डायबिटीज और अन्य हृदय की बीमारियां बढ़ सकती है।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article