IPL: स्पॉट फिक्सिंग कांड से लेकर, श्रीसंत के थप्पड़-गेट और शाहरुख खान का वानखेड़े में बैन तक, जानें IPL के 5 सबसे बड़े विवादों के बारे में - Duniyakamood

IPL: स्पॉट फिक्सिंग कांड से लेकर, श्रीसंत के थप्पड़-गेट और शाहरुख खान का वानखेड़े में बैन तक, जानें IPL के 5 सबसे बड़े विवादों के बारे में

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

IPL की शुरूआत साल 2008 में हुई थी। इंडियन प्रीमियर लीग एक टी 20 मैच है, जिसकी शुरूआत साल 2008 में हुई थी। इस लीग में अलग-अलग देशों के कई खिलाड़ी भाग लेते हैं। इस वीग में नए खिलाड़ीयों को भी अपना खेल देखने और उसे बेहतर करने का मौका मिलता है। दूसरी तरफ यह कहना गलत नहीं होगा, कि IPL एक अच्छा Business भी है। इसमें अलग-अलग फ्रेंचाईज़ी, अलग-अलग टीम को खरीदती है और खिलाड़ीयों की नीलामी करती है। आईपीएल की क्रिकेट टीमें भारतीय शहरों या राज्यों को रिप्रेजेंट करती हैं। इन टीमों में ही पूरी लीग के मैच होते है। जो टीम लगातार जीत दर्ज करती रहती है वह अंत में फ़ाइनल तक पहुंच जाती है। खैर इस खेल से कई विवादों का भी गहरा नाता रहा है। इंडियन प्रीमियर लीग में रोमांचक क्रिकेट के बीच कई जबर्दस्त विवाद हुए हैं, इनमें से कुछ विवाद तो ऐसे रहे हैं, जिन्होंने क्रिकेटर की जिंदगी पूरी तरह से बदल कर रख दी। आइए आज हम ऐसे ही कुछ विवादों के बारे में बात करेंगे।

  • हरभजन-श्रीसंत स्लैप-गेट (2008)

IPL का सबसे पहला विवाद हुआ था, हरभजन-श्रीसंत स्लैप-गेट। IPL के सबसे पहले साल में, किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाड़ी श्रीसंत को हरभजन सिंह ने थप्पड़ मार दिया था। उस दौरान हरभजन सिंह मुंबई इंडियंस की कप्तानी करते थे। आपको बता दें कि प्रेजेंटेशन सेरेमनी से पहले श्रीसंत को मैदान पर रोते हुए देखा गया था, जिसके बाद हुई जांच में जब पूरा मसला पता चला तो, हरभजन को बाकि के टूर्नामेंट से प्रतिबंधित कर दिया गया और उनका वेतन रोक दिया। इस किस्से के बाद BCCI ने भी भज्जी पर पांच वनडे का प्रतिबंध भी लगा दिया था।

  • ललित मोदी बर्खास्त (2010)

ललित मोदी IPL के पहले अध्यक्ष और आयुक्त थे, उन्हें कथित तौर पर गलत व्यवहार और अनुशासनहीनता के आरोप के बाद बर्खास्त कर दिया गया था। बीसीसीआई ने उन्हें दोषी पाया और 2013 में उनपर हमेशा के लिए प्रतिबंध लगा दिया। उनके ऊपर लगाए गए इन आरोपों से उन्होंने मना कर दिया और बाद में ED की जांच से पहले वो देश छोड़कर लंदन भाग गए।

  • शाहरुख खान को वानखेड़े से बैन किया गया (2012)

बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख खान, का भी विवादों से पुराना नाता रहा है। कोलकाता नाइट राइडर्स के मालिक शाहरुख खान को मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने आईपीएल मैच के बाद अधिकारियों के साथ गलत बर्ताव करने के कारण वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने से पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। ख़बरों के मुताबिक, शाहरुख की एक गार्ड से बहस हो गई और उन्होंने उन्हें गालियां भी दी थी।

  • आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग (2013)

साल 2013 में जब स्पॉट फिक्सिंग का मामला सामने आया, तो उस किस्से ने सबको हिलाकर रख दिया। इस किस्से के बाद, खिलाड़ियों का करियर भी रुक गया था और टीम पर भी दो साल के लिए बैन लग गया था। आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस ने राजस्थान रॉयल्स के तीन खिलाड़ियों एस श्रीसंत, अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण को स्पॉट फिक्सिंग के मामले में गिरफ्तार कर लिया था। इसके अलावा मुंबई पुलिस ने विंदू दारा सिंह और सीएसके के मालिक के दामाद गुरुनाथ मयप्पन और अब BCCI के पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन को सट्टेबाजी और सट्टेबाजों के साथ संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार किया था। आपको बता दें कि इस वजह से साल 2015 में, सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स को दो साल के लिए निलंबित कर दिया था। दोनों टीमें 2018 में IPL में लौट आई।

  • अश्विन की ‘मांकडिंग’ कांड (2019)

लीग के 12वें सीजन में ‘मांकडिंग’ विवाद हुआ था। उस वक्त पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन थे, उन्होंने राजस्थान के जोस बटलर को रन आउट किया, जो नॉन-स्ट्राइकर एंड पर थे। बटलर के आउट होने के बाद बहस छिड़ गई। हालांकि नियम अश्विन के पक्ष में थे।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article