14.1 C
Delhi
बुधवार, दिसम्बर 7, 2022

सामुद्रिक शास्त्र : जानें शरीर के इन हिस्सों पर तिल होना शुभ है या अशुभ, पढ़ें पूरी जानकारी !

हमारी इस दूनिया में हम सभी एक दूसरे से विभिन्न है किसी के शरीर की बनावट अलग है तो किसी के शरीर पर अलग अलग जगहों में तिल मौजूद है। परंतु हम में से बहुत से लोग अक्सर इसी उलझन में फसे रहते है कि ये तिल हमारे लिए शुभ है या अशुभ। आपको बता दें आपके इस बढ़ें सवाल का जबाव सामुद्रिक शास्त्र में है। माना जाता हैं कि महर्षि समुद्र नाम के ऋषि ने इस ग्रंथ की रचना की थी और इसी वजह से इस ग्रथं को सामुद्रिक शास्त्र के नाम से जाना जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें सामुद्रिक शास्त्र में हमारे शरीर में मौजूद तिलों का अर्थ बताया गया है। आज हम आपको इस आर्टिकल में शरीर के अलग-अलग हिस्सों में मौजूद तिल को लेकर सामुद्रिक शास्त्र में बताएं गए उन सभी राजों के बारें में बताने जा रहे है।

Table of Contents

• दाहिनी हथेली में तिल

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, जिस व्यक्ति के दाहिनी हथेली पर तिल होता है वो बेहद शुभ माना जाता है। माना जाता हैं कि जिनकी इस हथेली पर तिल होता है उन लोगों पर धन की देवी मां लक्ष्मी की सदैव ही कृपा रहती है और वो लोग कभी भी खराब आर्थिक स्थिति से नहीं गुजरते है। इसके अलावा ये लोग समाज में प्रतिष्ठा रखते है और ऊंचा नाम कमाते है।

• दाहिने गाल पर तिल

अक्सर बहुत से लोगों के चेहरे पर तिल होते है, लेकिन सामुद्रिक शास्त्रों की मानें तो जिस व्यक्ति के दाहिने गाल पर तिल होता है वे बेहद भाग्यशाली माना जाता है। इन लोगों को इनके जीवनसाथी हद से ज्यादा प्यार करते है और अक्सर इनकी ख्वाहिशें भी पूरी होती है। शास्त्रों के अनुसार, ये लोग सामाजिक कार्यों में आगें रहते है और इनके पास हमेशा ही धन का आगमन रहता है।

इसके अलावा जिस व्यक्ति के बायें गाल पर तिल मौजूद होता है, इनको घुमना फिरना बहुत पसंद होता है और ये लोग कभी भी पैसा खर्च करने पर बिलकुल भी नहीं सोचते और बाद में अपनी इस गलती को लेकर पछताते है।

• छाती के बीचों-बीच तिल

सामुद्रिक शास्त्र के मुताबिक, जिस व्यक्ति के सीने के बीचों बीच तील होता है इन पर अक्सर धन के देवता कुबेर की आपार कृपा बनी रहती है। इस तरह के लोग रचनात्मक स्वभाव के होते है जो आए दिन कुछ ना कुछ नया करने में लगे रहते है और समाज में इनकी ही चर्चा होती रहती है। शास्त्रों के अनुसार इस प्रकार के लोगों को सभी भौतिक सुख मिलते है और समाज में इनकी अलग ही पहचान बनती है।

• दाहिनी तरफ माथे पर तिल

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, जिस व्यक्ति के माथे पर दाहिनी तरफ तिल होता है, उनपर धन के देवता कुबेर हमेशा ही अपना आर्शीवाद बनाए रखते है। इसके साथ इस तरह के लोग समाज में मेहनत और मृदु व्यवहार के जरिए अपनी अलग पहचान बनाते है। शास्त्रों के मुताबिक, इन लोगों को कभी आर्थिक तंगी नहीं देखने को मिलती है।

इसके अलावा जिन लोगों के माथे पर बायीं ओर तिल होता है वे अक्सर किसी ना किसी परेशानी से घिरे रहते है और पैसों के साथ साथ उन्हें सेहत से जुड़ी भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

ये भी पढ़े – मीन राशि वालों को कौन सा व्रत करना चाहिए, किसकी पूजा करनी चाहिए? और क्या दान देना चाहिए

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles