fbpx

नहीं रहे ‘भाबी जी घर पर हैं’ शो के मलखान उर्फ दीपेश भान, 41 साल की उम्र में हुआ निधन ?

Must read

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

अपने छैल छबिले लड़के के किरदार से दर्शकों का मनोरंजन करने वाले दीपेश भान उर्फ ‘भाबी जी घर पर हैं’ शो के मलखान का आज निधन हो गया है। जिसकी खबर सामने आने के बाद से उनके फैंस अपने आप को संभाल नहीं पा रहे।

अगर दीपेश भान की बात करें तो वह शो में अपने अलग अंदाज के लिए पहचाने जाते थे। वैभव माथुर उर्फ टीका और दीपेश भान उर्फ मलखान की जोड़ी को काफी पसंद किया जाता था। लेकिन अब दर्शक अपने मलखान को फिर नहीं देख पाएंगे।

41 साल की उम्र में दीपेश भान इस दुनिया को अलविदा कहकर चले गए। अगर उनकी मौत के कारणों की बात करें तो मीडिया रिपोर्टस का कहना है कि जब दीपेश भान क्रिकेट खेल रहे थे तो उन्हें ब्रेन हैमरेज हुआ और वह बेहोश हो गए। जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों के द्वारा उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

Table of Contents

Advertisement

कैसा रहा दीपेश भान का अभिनय करियर ?

ऐसा नहीं है कि दीपेश भान ने पहली बार अपने करियर की शुरूआत ‘भाबी जी घर पर हैं’ सीरीयल से ही की बल्कि उन्होंने सबसे पहले पहले बॉलीवुड फिल्म ‘फालतू उटपटांग चटपटी कहानी’ से मनोरंजन की दुनिया में अपना कदम रखा था।

इसके बाद दीपेश भान ने ‘कॉमेडी का किंग कौन’, ‘कॉमेडी क्लब’, ‘भूतवाला’, ‘एफआईआर’ समेत कई टीवी शो में अपने अभिनय का दम दिखाया। इसके अलावा उन्होंने आमिर खान के साथ टी-20 वर्ल्ड कप के एड में भी काम किया था।

‘भाबी जी घर पर हैं’ शो से मिली पहचान ?

दीपेश भान ने कई शो किए और उन्हें उनके अभिनय के लिए सराहा भी गया लेकिन उन्हें असल मायने में पहचान ‘भाबी जी घर पर हैं’ शो के मलखान से ही मिली। उन्होंने मनोरंजन की दुनिया को 17 साल दिए और अपने अभिनय का जादू लोगों के बीच तक पहुंचाया।

लेकिन अब उनका इस प्रकार से जाना किसी के गले नहीं उतर रहा। चाहे उनकी टीम हो या फिर उनके फैंस सभी बस यही कह रहे है कि काश ये बुरा सपना हो और सब ठीक हो जाए।

ये भी पढ़े Draupadi Murmu बनीं भारत की 15वीं राष्ट्रपति, इतने वोटों से Yashwant Sinha को हराया।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article