fbpx

कच्चे स्प्राउट्स खाने से जुड़े जोखिम, जानें इसे खाने का सही तरीका.

Must read

स्प्राउट्स स्वस्थ आहार का एक हिस्सा हैं क्योंकि वे कई तरह से आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। वहीं दूसरी ओर, कच्चे स्प्राउट्स का सेवन आपके स्वास्थ्य पर गलत प्रभाव डाल सकता है क्योंकि इनमें हानिकारक बैक्टीरिया होते हैं। यहाँ और पढ़ें।

इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि स्प्राउट्स पोषण के पावरहाउस हैं। वे पोषक तत्वों में अत्यधिक समृद्ध हैं जो पाचन में सुधार, ब्लड़ शूगर लेवल को ठीक करने, हृदय स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने, इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए उपोग किये जाते है।, लेकिन ये कुछ को ही स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं।

हालाँकि, एक और वैज्ञानिक रूप से सिद्ध तथ्य है कि कच्चे स्प्राउट्स आपके शरीर और स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हैं! कच्चे स्प्राउट्स खाने से अक्सर फूड पॉइजनिंग, इनडाइजेशन, कोंस्टीपेशन आदि हो जाते हैं, जो इसकी उपयोगिता पर सवाल खड़े करते हैं। लंबे और स्वस्थ जीवन के लिए सही खाना जरूरी है। कच्चे स्प्राउट्स खाने के संभावित जोखिमों पर एक नज़र डालें और अपने दोस्तो के साथ साझा करें।

1 कच्चे स्प्राउट्स में हो सकते हैं हानिकारक बैक्टीरिया-

Advertisement

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि स्प्राउट्स केवल गर्म और आर्द्र जलवायु में ही उगते हैं। ऐसे में इनमें बैक्टीरिया पनपने की संभावना ज्यादा होती है। जबकि आपको यह लग सकता है कि कच्चे स्प्राउट्स का सेवन आश्चर्यजनक है, वास्तव में यह चिंताजनक है!

2 बैक्टीरियल ग्रोथ से फूड पॉइजनिंग होती है-

कच्चे स्प्राउट्स खाने वालो को फूड पॉइजनिंग होने का खतरा होता है। इन अंकुरित बीजों में हानिकारक बैक्टीरिया आसानी से जमा हो जाते हैं जो आपके पेट को खराब कर सकते हैं और आपके आंतों के स्वास्थ्य को खराब कर सकते हैं।

3 कच्चे स्प्राउट्स इम्यून सिस्टम को करते है कमजोर-

जबकि यह सभी के लिए महत्वपूर्ण है, बूढ़े लोगों, बच्चों और गर्भवती महिलाओं को विशेष रूप से कच्चे स्प्राउट्स का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। इम्युनिटी को कमजोर करने के अलावा आप अपनी जान जोखिम में डाल सकते हैं! चूंकि ये दूषित हैं, यह आपके शरीर को कमजोर और बीमारियों से ग्रस्त कर देगा। इसलिए, खाने से पहले उन्हें पकाना अनिवार्य है ताकि स्वास्थ्य संबंधी खतरों से बचा जा सके।

4 कच्चे स्प्राउट्स से हो सकती है कई बीमारियां-

जैसा कि पिछले पॉइंटर्स में बताया गया है, रोजाना कच्चे स्प्राउट्स का सेवन करने से गर्भपात, गुर्दे की विफलता, दिल का दौरा, रूमेटोइड गठिया, और यहां तक ​​​​कि मौत जैसी चिजे हो सकती है!

स्प्राउट्स से क्या लाभ मिलते है-

बालों की समस्याओं को कम कर बालों को मजबूत बनाते है

बाल देरी से सफेद होते है

शरीर में ब्लड फ्लो बेहतर होता है

कोलेस्ट्रॉल लेवल को स्थिर रखता है।

आई साइट में सुधार करता है

वजन घटाने में मदद करता है

पाचन क्रिया में सुधार करता है

एनीमिया का इलाज करता है

मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है

कुल मिलाकर त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बढ़िया है

स्प्राउट्स खाने का सही तरीका-

हो सके तो घर पर ही स्प्राउट्स बनाएं। बाजार में बिक रहे स्प्राउट्स की क्वालिटी के बारें में आप नहीं बता सकते। आप अनाज से लेकर फलियां से लेकर नट्स तक बहुत सी चीजें अंकुरित कर सकते हैं! उन्हें स्वयं आजमाएं।

स्टोर से खरीदते समय, हमेशा रेफ्रिजेरेटेड स्प्राउट्स चुनें क्योंकि उनमें बैक्टीरिया विकसित होने का जोखिम कम होता है।

खरीदने से पहले उनकी जाँच करें। अगर वे अच्छे ना हो तो खरीदारी न करें!

अगर ये नहीं पके हैं तो इन्हें कम से कम स्टर फ्राई करें ताकि इनमें मौजूद बैक्टीरिया खत्म हो जाएं।

बहुत से लोग रोजाना कच्चे स्प्राउट्स का सेवन करते हैं उन्हें कभी कोई परेशानी नहीं हुई। हालांकि, आपकी सुरक्षा के लिए, पैन में थोड़ा सा तेल डालकर स्प्राउट्स के बैक्टीरिया को मारने के लिए थोड़ी देर हिलाएं। इसके बाद नमक के पानी में 5-10 मिनट तक उबालें। इस तरह स्प्राउट्स को पका कर खाने से यह आपके पाचन तंत्र और पोषक तत्वों के लिए लाभकारी साबित होंगे ।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article