सावन के आखिरी शनिवार को कर लें ये खास उपाय, शनिदेव संग मिलेगा भोलेनाथ का भी आशीर्वाद ?

सावन के आखिरी शनिवार को कर लें ये खास उपाय, शनिदेव संग मिलेगा भोलेनाथ का भी आशीर्वाद ?

Must read

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

शनिदेव को नवग्रहों में न्याय का देवता कहा जाता है क्योंकि शनिदेव हर व्यक्ति को उसके कर्मों के अनुसार फल प्रदान करते है। अगर किसी ने बुरे कर्म किए हो तो शनिदेव उसे दंडित करते है और अगर किसी ने अच्छे कर्म किए तो उसे एक खुशहाल जीवन का वरदान प्रदान करते है।

इसीलिए अगर आप भी चाहते है कि शनिदेव आप पर अपनी कृपा बनाए रखें तो आप इस शनिवार को कुछ खास उपाय जरूर करें। क्योंकि यह शनिवार आपके लिए काफी खास साबित हो सकता है। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर इस शनिवार में ऐसा क्या खास है।
तो यह शनिवार सावन का आखिरी शनिवार है और इस दिन की गई पूजा से आपको शनिदेव, हनुमान जी और भगवान भोलेनाथ तीनों का आशीर्वाद प्राप्त होता है। इसीलिए आपको इस शनिवार को यह खास उपाय जरूर करने चाहिए।

सावन के आखिरी शनिवार के खास उपाय ?

शनिवार का रखें व्रत

अगर आप शनिदेव और हनुमान जी दोनों की कृपा पाना चाहते है तो आपको सावन के आखिरी शनिवार का व्रत रखना चाहिए।

शनिवार को शिवलिंग पर अर्पित करें विभूति, चंदन या भस्म

वैसे तो शनिवार को शनिदेव की पूजा का विधान है लेकिन अगर सावन के आखिरी शनिवार के दिन शिवलिंग पर विभूति, चंदन या भस्म लगाए जाए तो भगवान भोलेनाथ और शनिदेव दोनों का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

शमी वृक्ष पर चढ़ाएं जल

भगवान भोलेनाथ को शमी का वृक्ष अत्यंत प्रिय है इसीलिए अगर सावन के आखिरी शनिवार के दिन शमी वृक्ष पर जल चढ़ाया जाए तो इससे लाभ मिलता है।

दान करें

सावन के आखिरी शनिवार के दिन दान कर्म करने से शनिदेव की कृपा प्राप्त होती है।

काले जीव को खिलाएं भोजन

अगर आप शनिदेव को प्रसन्न करना चाहते है तो आपको सावन के अंतिम शनिवार के दिन काले कुत्ते, काली गाय को रोटी और काली चिंटी और काली चिड़िया को दाने डालने चाहिए।

ये भी पढ़े सावन पुत्रदा एकादशी को यह खास उपाय करने से सारी इच्छाएं होती है पूर्ण, तिथि और शुभ मुहुर्त जानने के लिए पढ़े पूरी खबर…

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article