fbpx

शनिवार को इन उपायों से मिलती है शनिदेव की कृपा, बनने लगेंगे सभी काम, कौन से है ये उपाय जानने के लिए पढ़े पूरी खबर ?

Must read

शनिवार शनिदेव को समर्पित दिन माना जाता है और ज्योतिष शास्त्र में शनिदेव को कर्म फल दाता कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि शनिदेव ऐसे देवता है जो अगर क्रोधित हो जाए तो एक राजा को रंक (भिखारी) बना सकते है और अगर खुश हो जाए तो एक रंक को राजा भी बना सकते है।

वैसे तो शनिदेव का स्वभाव कठोर बताया जाता है लेकिन अगर कोई उन्हें प्रसन्न कर ले तो ऐसे व्यक्ति को जीवन में कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ता और शनिवार का दिन शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए सबसे अच्छा दिन भी माना जाता है।

इसके अलावा अगर आप शनिवार के दिन कुछ खास उपाय करते है तो आपको निश्चित ही शनिदेव की कृपा मिल सकती है। तो आइए जानते है उन उपायों के बारे में जिन्हें करने से आप भी शनिदेव की कृपा पा सकते है।

शनिवार को क्या करें उपाय ?

किन वस्तुओं को ना खरीदें ?

Advertisement

अगर आप शनिदेव की कृपा पाना चाहते है तो आपको शनिवार के दिन भूलकर भी लोहा,काली वस्तु, छाता, चमड़े के जूते या उड़द की दाल नहीं खरीदनी चाहिए क्योंकि इन चीजों को खरीदने से शनिदेव की क्रुर दृष्टी उन लोगों पर पड़ने लगती है, जो इन चीजों को खरीदते है।

शनिदेव के आगे जलाएं सरसों का दीपक

अगर शनिदेव को आप प्रसन्न करना चाहते है तो आपको शनिवार के दिन शनि मंदिर में जाकर शनिदेव के समक्ष सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए और आप शनिदेव को उड़द या फिर काले तिल भी अर्पित कर सकते है। इससे शुभ फल प्राप्त होते है।

गरीब या जरूरतमंद की करें मदद

वैसे तो जरूरतमंदों की मदद करना अच्छा माना जाता है लेकिन अगर आप शनिवार के दिन किसी गरीब या जरूरतमंद व्यक्ति की मदद करते है तो इससे शनिदेव प्रसन्न हो जाते है।

गेंहू के साथ पिसवाएं काले चने

अगर आप शनिवार के दिन गेहूं पिसवाने जा रहे हो तो आपको उन गेहूं में कुछ काले चने भी मिला देने चाहिए ऐसा करने से घर में आर्थिक समृद्धि का वास होता है।

पीपल के पेड़ के नीचे जलाएं सरसो तेल का दीपक

आपको शनिवार के दिन किसी भी पीपल के पेड़ के नीच सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए ऐसा करने से शनिदेव का अशुभ फल समाप्त होता है।

शनिवार को करें बजरंगबली की पूजा

वैसे तो बजरंगबली का वार मंगलवार होता है लेकिन अगर आप शनिवार के दिन बजरंगबली की पूजा करते है तो इससे भी शनिदेव के अशुभ फल समाप्त हो जाते हैं।

शनि ढैया से पीड़ित लोग शनिवार को पढ़े हनुमान चालीसा

अगर कोई शनि की ढैया से पीड़ित हो और उसके काम में लगातार अड़चने आ रही हो तो ऐसे लोगों को शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। इससे शनि ढैया का प्रकोप धीरे-धीरे समाप्त होने लगता है।

शनिवार को क्या काम करने से बचना चाहिए ?

अगर आप शनिदेव के अशुभ फलों से बचना चाहते है तो आपको शनिवार के दिन भूलकर भी यह काम नहीं करने चाहिए।

• झूठ बोलना।
• छल करना।
• किसी को अपमानित करना।
• शराब पीना।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article