वडोदरा की फैक्ट्री से 2000 करोड़ की MD ड्रग्स जब्त, केमिकल की आड़ में बन रही थी ड्रग्स

वडोदरा की फैक्ट्री से 2000 करोड़ की MD ड्रग्स जब्त, केमिकल की आड़ में बन रही थी ड्रग्स

Must read

राजन चौहान
राजन चौहानhttps://www.duniyakamood.com/
मेरा नाम राजन चौहान हैं। मैं एक कंटेंट राइटर/एडिटर दुनिया का मूड न्यूज़ पोर्टल के साथ काम कर रहा हूँ। मेरे अनुभव में कुछ समाचार चैनलों, वेब पोर्टलों, विज्ञापन एजेंसियों और अन्य के लिए लेखन शामिल है। मेरी एजुकेशन बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (सीएसई) हैं। कंटेंट राइटर के अलावा, मुझे फिल्म मेकिंग और फिक्शन लेखन में गहरी दिलचस्पी है।

गुजरात के वडोदरा में 713 किलो MD ड्रग बरामद की गई है। समुद्री रास्ते से गुजरात में ड्रग्स की सप्लाई होती रहती है,गुजरात में दो अलग-अलग जगहों से ड्रग बरामद की गई है। जिसकी कीमत 2000 करोड़ रुपए बताई जा रही है। आपको बता दें कि गुजरात ATS ने वडोदरा से और मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल ने भरूच के अंकलेश्वर से भारी मात्रा में ड्रग्स जब्त की है।

वडोदरा की एक फैक्ट्री में MD ड्रग को तैयार किया जा रहा था। जिस पर बाद में ATS ने छापा मारा है। मोक्षी गांव में इस फैक्ट्री में ATS ने 200 किलो ड्रग्स बरामद की है। जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 1000 करोड़ रुपए है। ATS के DIG दीपेन भद्रन के अनुसार ये ड्रग्स करीब 6 महीने पहले तैयार हुई थी। उन्होंने संभावना जताई है कि फैक्ट्री में एक ही बार में काफी मात्रा में ड्रग्स तैयार की गई हो, जिसे देश के अलग-अलग हिस्सों में सप्लाई किया गया हो।

गुजरात के ही भरूच जिले में अंकलेश्वर से मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल ने 513 किलो ड्रग जब्त की है। नारकोटिक्स ने एक महिला समेत सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। नारकोटिक्स के अनुसार इस ड्रग की कीमत 1 हजार 26 करोड़ है। फिलहाल पुलिस पकड़े गए सभी लोग से पूछताछ कर ड्रग की सप्लाई चेन के बारे में पता लगाया जा रहा है।

गुजरात ATS के DIG दीपेन भद्रन को मिली सूचना के अनुसार वडोदरा की सावली तहसील के पास ड्रग्स का बड़ा जत्था पकड़ा है। जिसके बाद सोमवार को ATS ने मोक्षी गांव की फैक्ट्री में छापेमारी करके ड्रग्स जब्त की है। दरअसल इस फैक्ट्री में केमिकल की आड़ में MD ड्रग तैयार किया जा रहा था। इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिए गए है।

दीपेन भद्रन के अनुसार ड्रग्स की सप्लाई गोवा और मुंबई मे की जा रही थी। ATS को शक है कि यहां से देश के दूसरे हिस्सों में भी ड्रग्स सप्लाई की जा रही है। इस रैकेट से जुड़े लोगों के बारे में ATS पता लगा रहा है।

ये भी पढ़े Shivamogga Curfew: शिवमोगा में वीर सावरकार के पोस्टर पर विवाद, तनाव के बाद स्कूल बंद करने के आदेश

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article