fbpx

वास्तु शास्त्र: घर में रखें बंद ताले समेत, ये सभी चीजें करती है नकारात्मक ऊर्जा का विकास!

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

नई दिल्ली: व्यक्ति अपने घर में सुख, शांति और खुशहाली के लिए हर तरह के प्रयास करता है। लेकिन कई उपयों के बाद भी वह घर से नकारात्मक ऊर्जा निकालने में विफल साबित होता है। वास्तु के हिसाब से चीजों की ठीक होना जरूरी होता है। कई बार घर पर बंद पड़ी चीजें वास्तु दोष का कारण बनती है। वास्तु दोष के कारण घर में पैसा नहीं टिकता है और कोई न कोई बीमार रहता है। अगर आपके घर में भी ऐसा हो रहा है तो इसकी वजह वास्तुदोष भी हो सकता है।

बंद घड़ियां

घड़ियां आपको जीवन में आगे ले जाती हैं। कहते हैं कि यह आपके बुरे समय को भी टाल सकती हैं। घर में बंद घड़ियां बिल्कुल नहीं रखनी चाहिए। बंद घड़ियां भाग्य में कमी लाती हैं और खराब समय खत्म होने का नाम नहीं लेता है।

बंद ताले

Advertisement

ताला आपकी बंद किस्मत जगा सकता है और हमेशा के लिए बंद भी कर सकता है। इसलिए घर में खराब या बंद ताले नहीं रखने चाहिए। कहते हैं कि ऐसा होने से करियर में बाधाएं आती हैं और शादी-विवाह में भी देरी होती है।

खराब चप्पल व जूते

शास्त्रों के अनुसार, जूते-चप्पल का संबंध संघर्ष से जुड़ा होता है। जीवन में संघर्ष को कम करने के लिए हमेशा साफ और अच्छे जूते-चप्पल पहनने चाहिए। खराब जूते चप्पल को शनिवार के दिन घर से बाहर निकाल देना चाहिए।

पुराने-फटे कपड़े

कपड़ों का सीधा नाता भाग्य से होता है। इसलिए कहा जाता है कि व्यक्ति को हमेशा साफ और उपयोगी कपड़े ही पहनने चाहिए। फटे-पुराने कपड़ों को घर से बाहर कर देना चाहिए। कहा जाता है कि पुराने-फटे कपड़े करियर में बाधा डालते हैं।

देवी-देवताओं की खंडित मूर्ति

शास्त्रों के अनुसार, देवी-देवताओं की मूर्ति या चित्र एक समय सकारात्मक ऊर्जा निकालती हैं। लेकिन खंडित मूर्तियों से नकारात्मक ऊर्जा का वास होता है। इसलिए पुरानी और खंडित मूर्तियों का जमीन में दबा देना चाहिए या जल में प्रवाहित कर देना चाहिए।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article