fbpx

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस से दिया अपना इस्तीफा, नई पार्टी के नाम का किया ऐलान

Must read

पहले पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दिया। जिसके बाद कांग्रेस का मानना था कि भले ही पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया हो परंतु वह कांग्रेस का साथ नहीं छोड़ेगे लेकिन अब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब कांग्रेस का यह भ्रम भी तोड़ दिया है।


दरअसल, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बीते मंगलवार को अब कांग्रेस से पूर्ण रूप से रिश्ता खत्म करते हुए कांग्रेस पार्टी से ही इस्तीफा दे दिया है और इसकी जानकारी कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी को देते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपना इस्तीफा भेज दिया है। इतना ही नहीं एक लंबे समय से छिड़े आ रहे विवाद कि कैप्टन अमरिंदर सिंह भाजपा का हाथ थाम सकते है इसका खंडन करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी नई पार्टी के नाम की भी घोषणा कर दी है। बता दें कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी पार्टी का नाम ‘पंजाब लोक कांग्रेस’ रखा है।
मीडिया रिपोर्ट की माने तो, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री रहे कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना 7 पेज का इस्तीफा भेजा है और कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने इस्तीफे में कांग्रेस आलाकमान द्वारा पुनः नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने के फैसले पर चिंता व्यक्त की है।

PC-ANI


कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने इस्तीफे में नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए सोनिया गांधी को लिखा कि एक दिन कांग्रेस आलाकमान को अपने इस फैसले पर पछताना पड़ेगा। अपना इस्तीफा सोनिया गंधी को सौंपने के बाद पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी नई पार्टी के नाम का भी ऐलान किया।
बताते चलें कि, मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने यह भी ऐलान किया था कि अगर कांग्रेस में ऐसा ही चलता रहा तो वह जल्द कांग्रेस का साथ भी छोड़ देंगे। इसके बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी पार्टी के गठन का ऐलान भी किया था और उन्होंने यह संकेत भी दिया था कि वह पंजाब विधानसभा चुनाव में भाजपा के साथ-साथ अकाली दल से अलग हुए समान विचार वाले गुटों से भी गठबंधन कर सकते है। हालांकि, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भाजपा के साथ गठबंधन के लिए भाजपा के समक्ष कृषि कानूनों के मुद्दे के संतोषजनक समाधान करने की शर्त रख दी थी।


गौरतलब है कि, अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के साथ लंबे मतभेद और पंजाब कांग्रेस में अंदरुनी लड़ाई के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद से पिछले महीने इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद कांग्रेस ने उनके स्थान पर चरणजीत सिंह चन्नी को नया मुख्यमंत्री बनाया है।

Advertisement

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article