fbpx

एक परिवार के दो बच्चों ने CA फाइनल टॉप 20 में बनाई जगह, बेटी ने AIR रैंक 1 हासिल की

Must read

ICAI ने सीए फाइनल और फाउंडेशन 2021 के परिणाम जारी किए। CA की अंतिम परीक्षा के लिए पंजीकृत 83,606 उम्मीदवारों में से मध्यप्रदेश के मुरैना जिले की नंदिनी अग्रवाल ने सीए फाइनल की परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक 1 हासिल की है। 19 साल की नंदनी ने 800 में से 614 नंबर लाकर ऑल इंडिया नंबर 1 रैंक हासिल की। वहीं, नंदिनी के बड़े भाई, सचिन अग्रवाल ने ऑल इंडिया रैंक 18 हासिल की है। नंदिनी ने बचपन में दो क्लास स्किप की थी इसलिए वो अपने बड़े भाई के साथ उनकी ही क्लास में पढ़ती थीं।

नंदिनी और सचिन मध्यप्रदेश के विक्टर कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ते थे। दोनों ने ही 2017 में 12वीं की परीक्षा पास की और उसके बाद CA की तैयारी में लग गए। नंदिनी और सचिन के पिता नरेश चंद्र एक टैक्स प्रैक्टिशनर हैं और इसी फील्ड में काम करते हैं। बच्चों को CA पढ़ने की प्रेरणा घर से ही मिली थी।

एक इंटरव्यू के दौरान नंदिनी ने कहा, ‘मैं और मेरा भाई स्कूल से ही साथ में पढ़ रहे हैं। हमने साथ में IPCC और CA फाइनल की भी तैयारी की। हम एक दूसरे का पढ़ाई में साथ देते हैं।” उन्होंने कह, “जब हम एक पेपर सॉल्व करते हैं, तो भाई मेरे आन्सर चेक करता है और में उसके। मेरे भाई ने मेरी बहुत सहयता की है।”

कोरना महामारी का दोनों ने बहुत फायदा उठाया। उन्होंने बताया, महामारी के दौरान उन्हें पढ़ाई करने का ज्यादा समय मिल गया और वो अपने टॉपिक्स बहुत अच्छी तरह से रिवाइज कर पाए। उनके भाई ने कहा, “कई बार हम पागलों की तरह लड़ते थे लेकिन वह केवल कुछ समय तक चलता था और हम वापस सामान्य हो जाते थे। मुझे पता था कि नंदिनी बहुत अच्छा करेगी। वह शानदार है और सभी सफलता की हकदार है। कई मायनों में, वो मेरी गुरु हैं, ”। नंदिनी फिलहाल PwC से आर्टिकलशिप कर रही है। नंदिनी ने IPCC परीक्षा में ऑल इंडिया 31 रैंक हासिल की थी।

Advertisement

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article