fbpx

केजरीवाल सरकार ने ‌किसानों को फसल बर्बादी के लिए 50 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा देने का किया ऐलान।

Must read

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार यानी २० अक्टूबर को कहा कि बे मौसम बारिश की वजह से फसलों को पहुंची क्षति के लिए दिल्ली सरकार ने प्रभावित किसानों को प्रति हेक्टेयर 50,000 रुपये की दर से मुआवजा देने का आदेश दिया है।

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राजस्व अधिकारी बेमौसम बारिश से बर्बाद हुई फसलों का सर्वेक्षण कर रहे हैं और यह काम दो सप्ताह के भीतर पूरा हो जाएगा। दो महीने के भीतर ही प्रभावित किसानों को 50,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा राशि दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार किसानों की मदद के लिए प्रतिबद्ध है और पूर्व में भी उसने किसानों को 50,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा दिया है, जो कि देश में सबसे ज्यादा है।

उन्होंने कहा कि इस बार भी जिन किसानों को नुकसान हुआ है उन्हें 50 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा दिया जाएगा। इसके लिए हमने सर्वे शुरू कर दिया है। करीब डेढ़ महीने के अंदर सबको मुआवजा मिल जाएगा। अगर किसान की फसल खराब हुई है तो चिंता ना करें हम आपके साथ खड़े हैं। पूरा मुआवजा जल्द से जल्द देने की कोशिश करेंगे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश में ये सबसे ज्यादा मुआवजा है। कहीं पर 8 हजार मुआवजा देते हैं तो कहीं पर 10 हजार रुपये देते हैं। आपकी सरकार ने 50 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा दिया। हम सिर्फ घोषणा नहीं करते हैं बल्कि कोशिश करते हैं कि घोषणा के 2-3 महीने के अंदर अकाउंट में पैसे चले जाएं।

Advertisement

उन्होंने आगे कहा कि किसानों को मुआवजा देने के लिए मैंने ऑर्डर दे दिया है। सभी डीएम, एसडीएम पैमाइश कर रहे हैं। कहां-कहां फसलें बर्बाद हुई हैं इसके सर्वे का काम शुरू हो गया है। मुझे उम्मीद है कि दो हफ्ते के अंदर पैमाइश का काम पूरा हो जाएगा और फिर महीने डेढ़ महीने के अंदर मुआवजा आपके अकाउंट में पहुंच जाएगा।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article