fbpx

वायरल वीडियो: भोपाल में लोगों की भीड़ ने एक युवक के साथ स्कूटी पर जा रही लड़की का सड़क पर जबरन उतरवाया बुर्का और वीडियो बनाया।

Must read

आज जब भारत आधुनिकीकरण की तरफ बढ़ रहा है और लोग पुराने ख्यालातों को भूलकर आगे बढ़ने का प्रयास कर रहे है, वहीं समाज में कुछ लोग ऐसे भी है जिनकी मानसिकता आज भी सदियों पुरानी ही है। ऐसी ही एक घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से सामने आई है, जहां बीते शनिवार को लोगों के एक समूह ने एक युवती को सड़क पर ही बुर्का हटाने के लिए मजबूर कर दिया, क्योंकि लोगों को संदेह था कि वह एक हिंदू व्यक्ति के स्कूटर के पीछे बैठी है और इससे उनका धर्म बदनाम होगा। जिसके बाद से इस घटना का एक वीडियो अब तेजी से वायरल हो रहा है और चारो तरफ जमकर इस घटना की आलोचना की जा रही है।

इस घटना पर बात करते हुए एक पुलिस अधिकारी का कहना था कि यह घटना भोपाल स्थित इस्लाम नगर की है, लेकिन अभी तक इस घटना के संबंध में कोई भी मामला दर्ज नहीं किया गया है। रिपोर्ट्स की माने तो, वह युवती एक लड़के के साथ स्कूटर पर पीछे बैठी हुई थी, तभी वहां कुछ लोग आ धमके और उन्हें बुरा भला कहने लगे। लोगों ने उन्हें भोपाल के इस्लाम नगर में एक संकरी गली में रोक लिया और धर्म को बदनाम करने की दुहाई देते हुए युवती से हिजाब और बुर्का उतारने के लिए कहने लगे।

वायरल हो रही वीडियो में साफ तौर पर सुना जा सकता है कि वीडियो बनाने वाला शख्स लड़की से कहता है कि उसका कार्य उसके समुदाय को अपमानित करना है, इस दौरान वह युवती रोने लगती है लेकिन लोगों का दिल नहीं पसीजता और वहां मौजूद कुछ महिलाएं उस युवती को चेहरा दिखाने के लिए मजबूर करने लगती है।

वायरल वीडियो में दिखाई पड़ता है कि, पहले तो पीड़ित युवती बुर्का हटाने से इनकार कर देती है लेकिन जब उसका सहयात्री उसे समझाता है तो वह सरेआम बुर्का उतार देती है, लेकिन मामला यही नहीं रुकता लोग उस युवती को शर्मसार करने के लिए वीडियो बनाते हुए युवती से हिजाब हटाकर अपना चेहरा दिखाने के लिए मजबूर करते है। इसके बाद जब लड़की इसका विरोध करती है तो भीड़ में मौजूद महिलाएं जबरन उसका चेहरा देखने की कोशिश करने में लग जाती हैं। हालांकि, वह अपने सहयात्री लड़के से सटकर अपना चेहरा छिपा लेती है।
इस घटना पर विस्तृत जानकारी देते हुए समाचार एजेंसी PTI को ईंटखेड़ी पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक आरएस वर्मा ने बताया कि, ‘‘यह घटना शनिवार दोपहर की है जब एक युवक और लड़की इस्लाम नगर पहुंचे। वहां पर कुछ लोगों ने उन्हें रोका और लड़की से बुर्का हटाने और अपना चेहरा दिखाने को कहने लगे क्योंकि लोगों का मानना था कि वह आदमी हिंदू और लड़की मुस्लिम थी।’’

Advertisement

आरएस वर्मा ने बताया कि, युवक और लड़की के खिलाफ पुलिस ने कोई मामला दर्ज नहीं किया लेकिन वीडियो में देखे गए दो लोगों के खिलाफ धारा 151 के तहत एक निवारक कार्रवाई की गई और उन्हें भविष्य में इस प्रकार का कृत्य ना दोहराने की चेतावनी देकर छोड़ दिया गया।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article