30.1 C
Delhi
गुरूवार, जून 20, 2024
Recommended By- BEdigitech

बिहार की सियासत में बढ़ी सियासी गर्मी, JDU विधायक गोपाल मंडल ने डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद पर लगाए गंभीर आरोप, कहा डिप्टी सीएम ने वसूले 30 लाख रुपये

बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) का हिस्सा जनता दल (युनाइटेड) के तेवर कुछ बदले-बदले से नजर आ रहे है। ऐसा प्रतीत होता है मानो पिछले कुछ दिनों से NDA में सब कुछ ठिक नहीं चल रहा है।

बता दें कि, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में शामिल जनता दल (युनाइटेड) के वरिष्ठ नेता और विधायक गोपाल मंडल द्वारा बिहार भाजपा को निशाना बनाते हुए विवादित बयान दिया गया है। जिससे NDA की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है।
दरअसल, गोपाल मंडल ने भाजपा के डिप्टी सीएम और भाजपा नेता तारकिशोर प्रसाद को निशाना बनाते हुए कहा कि डिप्टी सीएम ने भागलपुर आकर कुछ लोगों के घरों को बचाने के बदले में करीब तीस लाख की वसूली की है।

बता दें कि गोपाल मंडल ने यह आरोप अपने आवास पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान लगाया। इतना ही नहीं इस दौरान उन्होंने बिहार राज्य के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद को ही नहीं बल्कि भाजपा से बिहार राज्य मंत्री सम्राट चौधरी और भाजपा बिहार के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जैसवाल को भी निशाने पर लिया।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, गोपाल मंडल ने आरोप लगते हुए कहा कि नवगछिया (बिहार के भागलपुर जिले में एक नगर) में खरनैय धार के पास कई लोगों द्वारा सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि अवैध कब्जा करने वाले लोगों को बचाने और एसडीओ को वहां से हटाने के लिए डिप्टी सीएम ने उन लोगों से करीब 25 से 30 लाख रुपये लिए हैं।

Advertisement

उन्होंने मामले की सरकारी जांच कराए जाने को लेकर कहा कि अगर सरकार जांच करा ले तो उन्हें भी पता चल जाएंगा।

जेडीयू विधायक गोपाल मंडल ने डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद को पद से हटाए जाने के लिए आगे कहा कि मैं प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय अध्यक्ष से कहना चाहता हूं कि तारकिशोर प्रसाद को डिप्टी सीएम पद से हटा दिया जाए। हम पर क्या कार्रवाई करेंगे हम तो छोटे कर्मचारी हैं। सीएम नीतीश कुमार भी जानते हैं कि यहां क्या हुआ है, 52 घर अवैध तरीके से बने हुए हैं वे टूटेंगे ही।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, जेडीयू विधायक गोपाल मंडल ने भाजपा से बिहार राज्य मंत्री सम्राट चौधरी पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘सम्राट चौधरी खुद दल बदलू लोग हैं और हमको कहते हैं मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। इनको दल से बाहर निकाल देना चाहिए। सम्राट चौधरी की क्या औकात है? RJD में उनका जन्म हुआ, फिर वह JDU में आए। यहां से फिर वह मांझी के साथ ‘हम’ पार्टी में गया। फिर उन्हें MLC बनाकर JDU में लाया गया। मंत्री बना दिया गया। वह चुनाव लड़ के देखेंगे मैदान में तब न। चुनाव लड़ने का भी दम नहीं है। चुनाव तो मैं लड़ता हूं। मैं तो बोलता हूं 25 हजार से जीतूंगा। उन्होंने आगे कहा कि भागलपुर की सातों विधानसभा को जीतूंगा, क्योंकि हम सिर्फ विधायक ही नही हैं बल्कि हम नेता हैं नेता।’

बता दें कि लोकसभा सांसद और भाजपा बिहार के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जैसवाल ने जेडीयू विधायक गोपाल मंडल पर जदयू को कार्रवाई करने की मांग की थी, इसपर संजय जैसवाल को आड़े हाथ लेते हुए गोपाल मंडल ने कहा कि, संजय जैसवाल कौन होते हैं, मुझ पर कार्रवाई करने वाले। मुझ पर कार्रवाई करनी होगी तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह करेंगे। अगर वो हटा देंगे तो मैं घर बैठ जाऊंगा।

बताते चलें कि, बिहार NDA में भाजपा और जदयू के साथ-साथ हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) शामिल है।
गोपाल मंडल का इस तरीके का बयान सामने आने के बाद से बिहार की सियासत में हलचल मच गई है और कयास लगाए जा रहे है कि बिहार राज्य की सियासत अब गर्म हो सकती है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles