fbpx

RLD के प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी से दिया इस्तीफा, कहां: जयंत चौधरी ने टिकटों के बंटवारे में लिए है पैसे!

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में नव निर्वाचित सरकार बने अभी देरी भी नहीं हुई और उससे पहले ही विपक्षी दल आपस में भिड़ने शुरू हो गए। सपा से गठबंधन के बाद भी राष्ट्रीय लोक दल यूपी में जीत दर्ज करने में नाकाम रही और खुद पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी प्रमुख पर टिकट बेचने का आरोप लगाया है। बता दें आर एल डी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद ने पार्टी प्रमुख जयंत चौधरी पर ही टिकटों के बंटवारे में पैसे लेने का आरोप लगाकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।

यूपी चुनाव में टिकट बेचने, टिकट देने में मनमानी करने, दलितों और मुसलमानों की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए आरएलडी के प्रदेश अध्यक्ष मसूद अहमद ने पार्टी छोड़ दी है। उन्होंने पार्टी के प्रमुख जयंत चौधरी को खुली चिट्ठी लिख कर सारी बातें बताकर इस्तीफा दे दिया।

इस्तीफे को लेकर राजनीति तेज

इस इस्तीफे को लेकर भी राजनीति तेज हो गई है। मसूद अहमद के इस्तीफे पर भाजपा प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा, “मसूद जी, आप बिल्ली को दूध की रखवाली के लिए रख रहे हैं तो आप गफलत में हैं। जिस भी पार्टी में परिवारवाद होता है, वहां लोकतंत्र नहीं होता, टिकट का बंटवारा होता है।”

Advertisement

सपा गठबंधन को मिली करारी हार

बता दें कि यूपी के विधान सभा चुनावों में बीजेपी गठबंधन ने 273 सीटें जीतकर पूर्ण बहुमत की दोबारा सरकार बनाई। वहीं सपा गठबंधन सिर्फ 124 सीटों पर सिमट गया जिसमें राष्ट्रीय लोक दल को 8 सीटें मिली हैं।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article