14.1 C
Delhi
बुधवार, दिसम्बर 7, 2022

शेन वार्न – बॉल ऑफ़ द सेंचुरी, ढेर सारी गर्ल फ्रेंड्स, मारिजुआना के कुछ कश और 708 टेस्ट विकेट

जिंदादिल, यारों का यार, दिल से ईमानदार ये शेन वार्न के व्यक्तित्व की खूबियां थी, जितना जिए राजाओं सी जिंदगी जिए, क्रिकेट की दुनिया का आज तक का सर्वश्रेष्ठ लेग स्पिनर। रिकॉर्ड बुक्स उठा कर देखें तो न जाने कितने ही रिकॉर्ड शेन अपने नाम करके गए हैं, प्यार से वार्नी कहे जाने वाले शेन वार्न जादूगर ही थे जो कलाइयों से ऐसी गेंद घुमाते थे की ना पिच के कोई मायने होते थे और ना बल्लेबाज़ कुछ खास कर पाते थे। लेकिन वार्न वो खिलाड़ी थे जिन्होंने क्रिकेट के मैदान के अंदर और बाहर जिंदगी को भरपेट जिया, किंग साइज जिंदगी जीने के लिए मशहूर वार्न ने कभी अपनी अच्छाइयों और बुराइयों को छिपाया नहीं, जो मन में आया सो कर दिया, आज हम वार्न से जुड़े ऐसे कुछ पहलुओं से आपको रूबरू कराने वाले हैं जो वार्न का पूरा जीवन आपको ढंग से समझा देंगे।

बॉल ऑफ़ द सेंचुरी

इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया 1993 का मैच, वार्न अपना एशेज डेब्यू कर रहे थे, कप्तान ने बॉल थमायी वार्न ने अपना बॉलिंग रन अप कवर किया, राइट आर्म ओवर द विकेट से बॉल ने लेग स्टंप के बाहर टप्पा खाया, बल्लेबाज़ी कर रहे माइक गेटिंग को लगा की बॉल लेग स्टंप छोड़ कर बाहर निकलेगी लेकिन बॉल ने लगभग 90 डिग्री का एंगल बनाते हुए उनका ऑफ स्टंप उड़ा दिया, ये उनके एशेज करियर की पहली ही गेंद थी, जिसको बाद में बॉल ऑफ़ द सेंचुरी भी घोषित किया गया। वार्न का ये सफर एशेज में 195 विकेट लेने के बाद ही थमा जोकि आज तक सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड भी है।

सिमोन से शादी, एलिज़ाबेथ हार्ले से अफेयर और कई सारे वन नाईट स्टैंड्स

वार्न रंगीले मिज़ाज़ के खिलाड़ी थे, उन्होंने 1995 में सिमोन कल्लाहन से शादी की जिनसे उनको 3 बच्चे, 2 बेटी और 1 बेटा भी हैं , ये शादी 10 साल चली उसके बाद टूट गयी, उसके बाद वार्न का फिल्म अभिनेत्री एलिज़ाबेथ हर्ले से कई वर्षों तक खुला अफेयर रहा लेकिन फिर ये रिश्ता भी ख़तम हो गया। लिज़ हर्ले को वार्न के साथ आईपीएल मैचों में भी अक्सर देखा जाता था। हालाँकि इनके अलावा वार्न के काफी सारे शार्ट टर्म अफेयर्स भी रहे, ऐसे ही एक अफेयर के चलते वार्न को एक बार कार के बोनट पर खुलेआम अपनी एक महिला मित्र के साथ यौन सम्बन्ध बनाते भी देखा गया था, इस वाकये के बाद ही वार्न की शादी में दरारें पैदा हुई।

ऑस्ट्रेलिया के सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज

वार्न ने अपनी निजी जिंदगी की उथल पुथल का असर अपनी बॉलिंग पर नहीं पड़ने दिया, वो मैदान पर जब भी आते विरोधी टीम के बल्लेबाज़ों को पवेलियन की राह दिखा दिया करते थे, टेस्ट क्रिकेट में 708 तो एकदिवसीय मैचों में 300 से अधिक विकेट लेने वाले वार्न अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 1000 विकेट और टेस्ट क्रिकेट में 700 से अधिक विकेट लेने वाले दुनिया के पहले गेंदबाज थे और आज तक ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं।

मारिजुआना लेते पकड़े और 1 साल का बैन लगा।

2003 का वर्ल्ड कप स्टार्ट हुआ, ऑस्ट्रेलिया अपना पहला लीग मैच खेलने की तैयारी कर रहा था कि मैच शुरू होने से एक दिन पहले शेन वार्न को मारिजुआना लेने के केस में वर्ल्ड कप से सस्पेंड कर दिया गया, जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया के ख़िताब बचाने के अभियान को झटका लगा लेकिन उनके स्थानापन्न के रूप में लाये गए स्टुअर्ट मैक्गिल ने अच्छे से संभाला और ऑस्ट्रेलिया फाइनल में भारत को हराकर अपना ख़िताब बचाने में कामयाब रहा। हालाँकि बैन के बाद शेन ने शानदार वापसी की और अगले 4 साल ऑस्ट्रेलिया के लिए खूब विकेट चटकाए।

कहते थे मुझे भगवान से नहीं क्रिकेट के भगवान से डर लगता है।

साल था 1998 शेन वार्न और सचिन तेंदुलकर दोनों का खेल अपने शिखर पर था, वार्न जिसको चाहते गिल्ल्यां बिखेर देते तो सचिन जिस बॉलर को चाहते धूल चटा देते, ऐसे में भारत की ऑस्ट्रेलिया से भिड़ंत हुई वो भी शारजाह के मैदान में, शेन का सचिन से सामना हुआ, सचिन ने उस सीरीज के सभी मैचों में शेन को ऐसा मारा की उनको सचिन के शॉट सपने में आने लगे, इस बात का खुलासा उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान किया।

पहले सीजन में राजस्थान रॉयल्स के कप्तान बने और ख़िताब जिता दिया

कहा जाता है कि वार्नी बहुत शानदार लीडर थे अगर उनको ऑस्ट्रेलिया का कप्तान बनाया गया होता तो वो काफी सफल कप्तान साबित होते । आईपीएल ले पहले सत्र में राजस्थान रॉयल्स ने वार्न को अपनी टीम में लिया और कप्तान बनाया, कप्तान के साथ उन्होंने कोच का दायित्व भी निभाया, युसूफ पठान, मुनाफ पटेल, रविंद्र जडेजा जैसे खिलाड़ी जो उस समय बिल्कुल नए थे, ऐसे खिलाड़ियों को वार्न ने मैच विनर बनाया और रॉयल्स को पहले ही सत्र में ख़िताब जिता दिया

स्टाइलिश और कमाऊ

वार्न अपने दौर के सबसे महंगे खिलाड़ियों में एक थे, सचिन तेंदुलकर के बाद वो दुनिया के सबसे कमाऊ क्रिकेटर थे, ऑस्ट्रेलिया में उनकी पॉपुलैरिटी इतनी थी कि कोई भी ब्रांड उन पर आँख बंद करके भरोसा कर लेता था, वार्न को महंगे चश्मे और स्टाइलिश एक्सेसरीज का बेहद शौक था, जिसकी वजह से उनको ऑस्ट्रेलिया में ट्रेंड सेटर और स्टाइल आइकॉन माना जाता था।

Mohit Raghav
Mohit Raghavhttps://www.duniyakamood.com
दुनिया का मूड के कंटेंट हेड मोहित राघव को वीडियो एवं लिखित कंटेंट में महारथ हासिल है, अपने जुदा अंदाज के लिए जाने जाने वाले मोहित स्पोर्ट्स एवं पॉलिटिक्स में ज्यादा रुचि रखते हैं, डिजिटल मार्केटिंग में खासा अनुभव रखने वाले मोहित कंप्यूटर एप्लीकेशंस में मास्टर्स की डिग्री हासिल किए हुए हैं

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles