fbpx
Home योजना अगर आप उत्तर प्रदेश की छात्रा है, तो जानिए कैसे प्राप्त कर...

अगर आप उत्तर प्रदेश की छात्रा है, तो जानिए कैसे प्राप्त कर सकती है फ्री स्कूटी ?

0
40
student of Uttar Pradesh

पहले लड़कियों को पढ़ाया नहीं जाता था केवल उनसे घर का काम करवाया जाता था और कहा जाता था कि पढ़ लिखकर क्या करना है, एक दिन यही सब तो करना है, लेकिन अब वक्त बदल चुका है और आमिर खान की फिल्म दंगल का वो डायलोग सच होता नजर आ रहा है कि ‘म्हारी छोरियां छोरों से कम है के’

इसका जीता जागता उदाहरण अब हर किसी के सामने है। चाहे क्रिकेट हो या फिर आर्मी आपको हर एक जगह लड़कियां-लड़कों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलती नजर आ जाएंगी। कई लड़कियां तो ऐसे साहस भरे कार्य भी कर रही है। जिन्हें लड़के करने से भी कतराते है।

इसी को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकार छात्राओं का प्रोत्साहन बढ़ाने के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है। जिससे छात्राएं प्रोत्साहित तो हो ही रही है। साथ में तरक्की के नए-नए आयामों को भी हासिल कर रही है।

इन्हीं में से एक योजना है रानी लक्ष्मीबाई योजना जिसे उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा खास छात्राओं के लिए शुरू किया गया है। तो चलिए अब आपको इस योजना की विस्तार से जानकारी देते है। तो रानी लक्ष्मीबाई योजना के तहत ब्रिलियंट छात्राओं को मुफ्त में स्कूटी दी जाएंगी।

Advertisement

दरअसल इस योजना की घोषणा साल 2022 में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के दौरान बीजेपी सरकार ने की थी और अब इस योजना को धरातल पर उतारने का प्रयास किया जा रहा है। यह योजना ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन करने वाली ब्रिलियंट छात्राओं के लिए है।
इस योजना को लेकर ऐसा कहा जा रहा है कि सरकार इसके माध्यम से लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाना चाहती है। बता दें कि इस योजना का लाभ राजकीय महाविद्यालय, यूनिवर्सिटी के साथ-साथ प्राइवेट यूनिवर्सिटीज की छात्राओं को भी मिलेगा और यह योजना शीघ्र ही शुरू की जाएगी।

बस इंतजार है उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की हरी झंडी दिखाने का जिसके बाद छात्राएं आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इसके लिए आवेदन कर सकेंगी।

योजना का लाभ उठाने के लिए किन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत ?

बता दें कि इस योजना में अपना आवेदन देने के लिए छात्राओं के पास में एजुकेशन सर्टिफिकेट्स, बैंक खाता, पासपोर्ट साइज फोटो, उम्र प्रमाणपत्र, मूल निवासी प्रमाण पत्र और आधार कार्ड होना जरूरी है। इसके अलावा आवेदन दे रही छात्राओं के परिवार की आय 2.5 लाख या उससे अधिक नहीं होनी चाहिए।

इस योजना के तहत स्कूटी के लिए सरकार छात्राओं के बैंक खातों में पैसा भेजेगी। जिसका इस्तेमाल छात्राएं केवल स्कूटी लेने के लिए ही कर सकती है। सरकार का कहना है कि स्कूटी के आने से छात्राओं का कॉलेज तक का सफर आसान हो जाएगा और छात्राएं पढ़ाई में अच्छे से मन लगा सकेंगी।

योजना के दिशा-निर्देश भी जाने ?

इस योजना को लेकर कुछ दिशा-निर्देश भी जारी किए गए है जो कि इस प्रकार से है।

• छात्राओं का यूनिवर्सिटी या कॉलेज में पढ़ते होना जरूरी है।
• आवेदन दे रही छात्राओं के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट में 75 प्रतिशत अंक होना जरूरी।
• बैंक खाता आधार से लिंक होना चाहिए।
• योजना के लिए आवेदन केवल ऑनलाइन ही भरे जाने चाहिए।
• केवल यह योजना छात्राओं के लिए ही है।
• जो छात्रा आवेदन दे रही है उसे किसी दूसरी योजना का लाभ नहीं मिला होना चाहिए।

चयन की प्रक्रिया इस प्रकार होगी ?

अगर छात्राएं आवेदन भर देती है तो फिर सरकार इसके चयन के लिए ब्रिलियंट छात्राओं के अंकों को देखेगी। जैसे अगर 12वीं की छात्रा ने आवेदन दिया है तो उसके 12वीं के अंक देखे जाएंगे और अगर पोस्ट ग्रेजुएशन की छात्राएं आवेदन देती है तो उनके ग्रेजुएशन के अंकों को देखा जाएगा और इसी आधार पर छात्राओं को सिलेक्ट किया जाएगा और इन्हीं को मुफ्त स्कूटी दी जाएगी।

ये भी पढ़े दिल्लीवासियों को केजरीवाल सरकार का तोफा, सितंबर से घर घर मिलेगा PVC E-Health Card, जाने इसके फायदे!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here