24.1 C
Delhi
शनिवार, दिसम्बर 10, 2022

तन के साथ मन की सेहत भी जरूरी, ऐसे रखें ख्याल ?

ऐसा कहा जाता है कि जिसका मन सेहतमंद होता है उसका तन अपने आप सेहतमंद हो जाता है लेकिन बीते कुछ सालों में कोरोना ने हम सभी की जिंदगियों को उलट-पलट कर रख दिया है और इनमें से एक सबसे बड़ा कारण है नींद की समस्या।
आज दुनियाभर के 70 प्रतिशत लोग नींद से जुड़ी समस्याओं का सामना कर रहे है और पूरी दुनिया में डिप्रेशन के मामलों में 25 प्रतिशत तक वृद्धि हुई है और इससे साफ हो जाता है कि आप भले ही तन से सेहतमंद दिख रहे हो।

लेकिन मन से दुखी है और अगर ऐसा ही चलता रहा तो एक दिन ऐसा आएगा कि लोग अपनी सेहत को कई हद तक खराब कर बैठेंगे। अब अगर आपके मन में भी यही सवाल आ रहा है कि आखिर फिर से हमारे मन को स्वस्थ कैसे बनाया जाए।

तो आप चिंता ना करें आज हम आपके लिए इससे जुड़ी ही जानकारी लेकर आए है, जिसमें आप जानेंगे कि अपने अंदर कैसे कुछ बदलाव लाकर आप फिर से अपने आप को खुशमिजाज बना सकते है। तो आइए जानते है।

समय पर भोजन है जरूरी ?

आपने कई बार देखा होगा कि जब हमें भूख लगी होती है तो हम चिड़चिड़े होने लगते है और जब हम भोजन कर लेते है तो एक खुशी हमारे अंदर समा जाती है। इसीलिए अगर आप भी अपने मन को खुश रखना चाहते है।

तो पहला काम जो आपको करना जरूरी है वो है समय पर अपना भोजन और भोजन का मतलब अब यह नहीं है कि आप तला भुना या फिर बाजार में बिकने वाले जंक फूड का सेवन करें, बल्कि इसके लिए आपको ऐसा भोजन करना चाहिए।

जिससे आपको सभी जरूरी पोषक तत्व मिल जाए जैसे कि भारतीय थाली क्योंकि हमारी रसोईयों में पकने वाले पकवान या यू कहें कि तैयार होने वाली थाली में आपको प्रोटीन, विटामिन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट जैसे कई पोषक तत्व मिल जाते है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि हमारे घरों में तैयार किए जाने वाले खाने में दाल, चपाती, सब्जियां, दही, छाछ, चटनी, रायता सभी मौजूद होते है। जिससे आपको कार्ब और प्रोटीन दोनों ही मिल जाते है।

इसलिए आपको अगर अपने मन और तन दोनों का ख्याल रखना है तो घर में तैयार होने वाले भोजन का ही सेवन करना चाहिए और आपको समय पर ही अपनी मील लेनी चाहिए जैसे कि सुबह 7 बजे नाश्ता, दोपहर 12.45 बजे भोजन और शाम 7 बजे डिनर।

योग व्यायाम है जरूरी

अगर आप स्वस्थ शरीर की कामना करते है तो सबसे पहले जरूरी है कि आपका मन स्वस्थ हो। तभी हम अपनी फिटनेस का ध्यान रख सकते है। इसके लिए आप भारतीय संस्कृति की सबसे पुरानी धरोहर यानी कि योग और व्यायाम की मदद ले सकते है।
अगर योग की बात करें तो ना तो इसमें आपको भारी वजन उठाना होता और ना ही भागना होता इसीलिए योग को युवा से लेकर बुजुर्ग तक हर कोई कर सकता है और अगर आप भी अपने मन का ख्याल रखना चाहते है। तो आप भी योग का सहारा ले सकते है।

कौनसे योग करें

अगर अब आपके मन में यह सवाल आ रहा है कि आखिर आप कौन-कौन से योग कर सकते है तो हम आपको बता दें कि वैसे तो आप योग का चयन अपने अनुसार कर सकते है लेकिन आपको आसानी हो इसलिए हम आपको कुछ योग की जानकारी दे देते है।

आप योग में ताड़ासन, बद्धकोणासान, उत्तानासन, भुजंगासन और शवासन को कर सकते है। एक तो यह योग आसान होते है और दूसरा यह हमारे मन के लिए भी काफी अच्छे माने जाते है।

नींद भी जरूरी

अगर आप सोच रहे है कि केवल अच्छा भोजन और योग की मदद से आप अपने मन के स्वास्थय को ठीक कर सकते है तो आपका यह विचार बिल्कुल गलत है। मन के अच्छे स्वास्थय के लिए आपको पूरी नींद लेने की भी बहुत जरूरत होती है।

अच्छी नींद का समय ?

अगर बात करें अच्छी नींद की तो आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप 10 बजे तक सो जाए क्योंकि यह समय नींद के लिए काफी अच्छा माना जाता है। इसके अलावा आपको सूर्योदय से पहले उठना चाहिए क्योंकि यह समय आपके मन के लिए बहुत अच्छा होता है और इससे मन को ऊर्जा मिलती है।

अगर ज्यादा नींद आए तो आप दिन में भी सो सकते है लेकिन ध्यान रहे कि दिन में आपको केवल 20 मिनट की ही झपकी लेनी चाहिए।

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles