fbpx

राजधानी फिर हुई शर्मशार: शेल्टर होम में दो युवतियों के साथ दरिंदगी, विरोध करने पर जान से मारने की धमकी, महिला निदेशक समेत चार पर केस दर्ज

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

नई दिल्ली: राजधानी में फिर एक बार महिला सुरक्षा पर सवाल खड़े हो रहे हैं, आए दिन सामने आ रही महिलाओं के साथ दरिंदगी की घटनाएं एक बड़ी चुनौती बन गई है। दिल्ली के सब्जी मंडी इलाके में एक शेल्टर होम में दो युवतियों के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। शेल्टर होम की महिला कर्मी ने शेल्टर होम के एक अधिकारी पर दुष्कर्म व बाकी लोगों पर छेड़छाड़ और धमकाने का आरोप लगाया है।

पीड़िता का कहना है कि आरोपियों ने शेल्टर होम में रहने वाली एक मानसिक रूप से अशक्त युवती के साथ भी दुष्कर्म किया। इसकी शिकायत जब शेल्टर होम के अधिकारियों से की तो उन्होंने उल्टा उसको ही धमकाकर जुबान बंद रखने के लिए कहा। बाद में पीड़िता को नौकरी से निकाल दिया गया। पुलिस ने शेल्टर होम की महिला निदेशक समेत चार लोगो के खिलाफ दुष्कर्म, छेड़छाड़, जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कर लिया है।

खबरों के मुताबिक, पीड़िता सपना (26)(बदला हुआ नाम) अकेली उत्तरी दिल्ली इलाके में रहती है। इसके माता-पिता नहीं हैं। पढ़ाई करने के बाद सपना ने सब्जी मंडी इलाके में डुसिब के एक शेल्टर होम में नौकरी शुरू की। उसका आरोप है कि यहां काम करने वाले दो कर्मचारियों की उस पर बुरी नजर थी। वह उसे जानबूझकर छेड़छाड़ करते थे।

सपना ने बताया कि, नए साल पर हुई पार्टी के दौरान शेल्टर होम के एक अधिकारी ने उसके साथ जबदरस्ती करने का प्रयास किया। लेकिन वह किसी तरह बच गई। इसके बाद आठ जनवरी को आरोपी ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। पीड़िता ने एनजीओ की महिला निदेशक को कॉल कर सारी बात बताई तो उल्टा उसने पीड़िता को ही डांटना शुरू कर दिया।

Advertisement

अगले दिन पीड़िता निदेशक के दफ्तर पहुंची तो वहां उसे चुप रहने के लिए कहा गया। यह बात आरोपी और उसके साथी को पता चली तो उसने सपना को जान से मारने की धमकी दी। डर की वजह से पीड़िता चुप रही। 23 जनवरी को पीड़िता शेल्टर होम पहुंची तो यहां 25 वर्षीय मानसिक अशक्त युवती ने अपने साथ दुष्कर्म की बात बताई।

जिस अधिकारी ने सपना के साथ दुष्कर्म किया था, उसी ने इस युवती के साथ भी दुष्कर्म किया था। पीड़िता ने शुक्रवार को सब्जी मंडी थाने में महिला निदेशक, दो अधिकारियों व एक कर्मचारी के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article