19.1 C
Delhi
शनिवार, जनवरी 28, 2023

चाहे जोड़ों में रहता हो दर्द या फिर रहती हो गले में दर्द की समस्या, छुटकारा पाने के लिए एक बार जरूर इस्तेमाल में लाए सेंधा नमक ?

व्रत के दौरान हमारे भोजन में स्वाद को बढ़ाने वाले सेंधा नमक को आपने अपने घर में जरूर देखा होगा और अगर बात करें सेंधा नमक की तो इसे केवल व्रत के दौरान ही नहीं बल्कि आप सामान्य दिनों में भी इस्तेमाल में ला सकते है।

क्योंकि जहां साधारण नमक हमारी सेहत को हानि पहुंचाता है वहीं सेंधा नमक हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है और इसीलिए इसका प्रयोग सालों से औषधि बनाने के लिए भी किया जाता आया है।

सेंधा नमक में कई प्रकार के मिनरल्स मौजूद होते है जो कि हमारे शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने में मदद करते है। वैसे तो हाई बल्ड प्रेशर की समस्या वाले लोगों को नमक के इस्तेमाल की मनाही होती है लेकिन हाई बल्ड प्रेशर वाले लोग भी इसका इस्तेमाल कर सकते है।

क्योंकि सेंधा नमक बल्ड प्रेशर को कंट्रोल में लाने में बहुत मददगार होता है। इसके अलावा इससे जोड़ों के दर्द और गले में दर्द की समस्या से भी राहत पाई जा सकती है। तो आइए अब आपको सेंधा नमक से मिलने वाले सभी फायदों से अवगत कराते है।

Table of Contents

सेंधा नमक को उपयोग में लाने से मिलने वाले फायदें ?

बल्ड प्रेशर को करता है कंट्रोल

अगर किसी व्यक्ति को बल्ड प्रेशर की समस्या रहती हो तो ऐसे व्यक्ति को सेंधा नमक का सेवन करना चाहिए क्योंकि सेंधा नमक में ऐसे तत्व पाए जाते है जो कि बल्ड प्रेशर को कंट्रोल में लाने में काफी मददगार होते है। इसके अलावा इसके सेवन से हार्ट अटैक के खतरे को भी टाला जा सकता है।

जोड़ों के दर्द में लाता है आराम

जोड़ों के दर्द की समस्या से छुटकारा पाने में भी सेंधा नमक काफी असरदार होता है। इसके लिए आपको तिल के तेल में 1 चुटकी के बराबर सेंधा नमक मिलाकर उसे गर्म कर लेना चाहिए और जब तेल हल्का गर्म हो जाए तो हल्के हाथों से उसे अपने जोड़ों पर लगाएं ऐसा करने से जोडों के दर्द में काफी आराम मिलता है।

गले के दर्द को करता है ठीक

जब हमें सर्दी लग जाती है तो सबसे पहले खराब होता है हमारा गला और इस दौरान होने वाला गले का दर्द हमें चिड़चिड़ा बनाने लगता है। लेकिन अगर गले के दर्द से छुटकारा पाना हो तो गुनगुने पानी में 1 चुटकी सेंधा नमक मिलाकर उससे गरारे करने चाहिए। ऐसा करने से यह गले में दर्द और खराश दोनों में राहत पहुंचाता है।

ये भी पढ़े – जानें क्या है थायराइड, इसके प्रकार, लक्षण और 10 ऐसे घरेलू उपाय जो इसे रखतें हैं कंट्रोल!

Disclaimer

हमारा प्रयास रहता है कि हम आपके लिए एक दम सटीक जानकारी लेकर आए और इसलिए हम तथ्यों और विशेषज्ञों के द्वारा बताई गई ही जानकारी आपके लिए लेकर आते है। हम सभी का शरीर अलग-अलग तरीके का है। इसलिए इसे भी नकारा नहीं जा सकता कि हर टिप्स आपके शरीर पर एक ही तरह से काम करेगी।
इसलिए किसी भी टिप को अपनाने से पहले आप अपने डॉक्टर या फिर किसी विशेषज्ञ की राय जरूर लें। हमारा काम आपके लिए होम रेमेडी और फिटनेस टिप लेकर आना है लेकिन उन्हें ट्राई करने से पहले आपको भी उसकी पूरी पड़ताल करनी चाहिए और तभी इन टिप्स को इस्तेमाल में लाना चाहिए।

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles