29.1 C
Delhi
रविवार, जुलाई 14, 2024
Recommended By- BEdigitech

हरियाणा के डीएम आयुष सिन्हा का वीडियो वायरल, किसानों को लेकर पुलिस को निर्देश देते नजर आए, कहा “सिर फोड़ दो उनका”

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। इसी बीच किसानों द्वारा हरियाणा के करनाल में बीते शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को मीटिंग में जाने से रोकने की कोशिश करने पर पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया था, इस लाठीचार्ज के बाद कई तस्वीरें सामने आई जिनमें देश के अन्नदाता कहे जाने वाले किसानों के सिर फूटे और खून से लथपथ नजर आए। जिसके बाद से पुलिस की इस कार्रवाई का वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

बता दें कि इसके बाद से लाठीचार्ज के विरोध में किसानों द्वारा प्रदेश के कई जिलों में हाईवे और टोल प्लाजा को जाम कर दिया गया है। इन सबके बीच में एक और वीडियो सामने आया जिसके बाद से सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई है, दरअसल यह वायरल वीडियो हरियाणा के IAS अधिकारी आयुष सिन्हा का बताया जा रहा है और इस वीडियो में IAS अधिकारी आयुष सिन्हा पुलिसकर्मियों को यह कहते नजर आ रहे है कि भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को “सिर में चोट” लगे। जिसके बाद इस घटना पर भाजपा के सांसद वरुण गांधी समेत कई लोगों ने अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दी है।

गौरतलब है कि इस वायरल वीडियो में IAS अधिकारी आयुष सिन्हा पुलिसकर्मियों के एक समूह के समक्ष खड़े यह निर्देश देते नजर आ रहे हैं कि कोई भी विरोध करने वाला किसान क्षेत्र में एक निश्चित बैरिकेड से आगे न जाए। वह पुलिस को कहते नजर आ रहे है कि, यह बहुत सरल और स्पष्ट है, वह कोई भी हो, चाहे वह कहीं से भी हो, किसी को भी वहां पहुंचने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। हम किसी भी कीमत पर इस रेखा को नहीं टूटने देंगे। बस अपनी लाठी उठाओ और उन्हें जोर से मारो, यह बहुत स्पष्ट है, किसी भी निर्देश की कोई आवश्यकता नहीं है, बस उन्हें जोर से पीटें। अगर मैं यहां एक भी प्रदर्शनकारी को देखता हूं, तो मैं उनके सिर फोड़ते देखना चाहता हूं।
इसके बाद वह अंत में पुलिस से कहते है कि, “कोई शक? क्या तुम उन्हें मारोगे?” इसपर पुलिसकर्मी भी बुलंद आवाज में जवाब देते है कि, “हां सर।” इस दौरान आदेश देने के बाद जब आयुष सिन्हा कार्यक्रम स्थल से निकले तो वह फिर से अपने आदेश को दोहराते हुए पुलिसकर्मियों से कहते है, “जो कोई भी इस रेखा का उल्लंघन करता है, उसका सिर फोड़ दिया जाना चाहिए।”

इसके बाद वायरल हो रहे आयुष सिन्हा के इस वीडियो को साझा करते हुए भाजपा सांसद वरुण गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर से ट्वीट करते हुए कहा कि, “मुझे उम्मीद है कि यह वीडियो एडिट किया गया है और डीएम ने ऐसा नहीं कहा है, अन्यथा, लोकतांत्रिक भारत में हमारे अपने नागरिकों के साथ ऐसा करना अस्वीकार्य है।”
इस वीडियो को साझा करते हुए हरियाणा के वरिष्ठ कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने भी ट्वीट किया और लिखा कि, “CM-Dy CM का करनाल में किसानों पर क़ातिलाना हमला करने का षड्यंत्र ड्यूटी मैजिस्ट्रेट के आदेशों से साफ़ है – जो पुलिस को किसानों का सर फोड़ने और सर पर लाठियाँ बरसाने का आदेश दे रहे हैं। भाजपा-जजपा है “जनरल डायर” सरकार !”

Advertisement

इसपर एक और ट्वीट करते हुए रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि, “करनाल में किसान आंदोलन से निपटने के लिए ड्यूटी मैजिस्ट्रेट के तुगलकी फ़रमान का प्रत्यक्ष परिणाम! कायर खट्टर सरकार, इसे हल्का बल प्रयोग बता रही है।”

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles