fbpx

पत्रकार बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा की हत्या के मामले ने लिया नया मोड़, पुलिस ने प्रेम प्रसंग को बताया हत्या के पीछे की वजह, जानिए पूरा मामला ?

Must read

पत्रकार और आरटीआई कार्यकर्ता बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा की हत्या के मामले ने एक नया मोड़ लिया है, बिहार के मधुबनी जिला पुलिस ने बुधवार को दावा किया कि बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा का अपहरण और उनकी हत्या प्रेम प्रसंग को लेकर की गई है।

समाचार एजेंसी PTI की रिपोर्ट की माने तो, बेनीपट्टी पुलिस उपाधीक्षक अरुण कुमार सिंह ने इस मामले में छह लोगों की गिरफ्तारी और हत्याकांड का खुलासा होने का दावा करते हुए कहा कि जांच और गिरफ्तारी के बाद इस मामले में त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग का पहलू सामने आया है। लेकिन बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा के परिवार वालों ने पुलिस की इस कहानी को मानने से साफ इनकार कर दिया है।

उनका आरोप है कि पुलिस बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा की हत्या करने वाले ‘‘मेडिकल माफिया’’ को बचाने के लिए अपराध में शामिल असली दोषियों को गिरफ्तार नहीं कर इसे अब प्रेम प्रसंग बता रही है।

जबकि अरुण कुमार सिंह का कहना है कि इस मामले में पहले एक महिला पूर्णकला देवी की गिरफ्तारी की गई थी, उसके बाद रौशन कुमार साह, बिट्टू कुमार पंडित, दीपक कुमार पंडित, पवन कुमार पंडित और मनीष कुमार को गिरफ्तार किया गया।

Advertisement

अरुण कुमार सिंह ने कहा कि गिरफ्तार महिला से पवन एक तरफा प्रेम करता था जबकि बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा के साथ महिला ने प्रेम की बात स्वीकारी है। अरुण कुमार सिंह ने बताया कि पवन नहीं चाहता था कि बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा और पूर्णकला आपस में बात करें। पवन पूर्णकला पर बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा से बात नहीं करने का दबाव डालता था। अरुण कुमार सिंह ने आगे कहा कि पवन और रौशन ने त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग को लेकर बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा की हत्या कर दी थी।

हालांकि पुलिस बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा के परिवार द्वारा लगाए गए आरोप कि उक्त क्षेत्र में संचालित नर्सिंग होम और अस्पताल करने वालों ने उनकी हत्या की, भी जांच कर रही है। अरुण कुमार सिंह ने कहा, ऐसा इसलिए है क्योंकि उसने अपनी ऑनलाइन समाचार रिपोर्टों में कई ‘‘फर्जी’’ नर्सिंग होम और अस्पतालों के बारे में जानकारी का खुलासा किया था।

बताते चलें कि, बिहार लोक शिकायत निवारण अधिनियम और सूचना का अधिकार अधिनियम का उपयोग करते हुए बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा ने इस साल फरवरी में बेनीपट्टी और ढकजरी में 19 अवैध पैथोलॉजी लैब को बंद करवाया था।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article