fbpx
Home ज्योतिष Meen Rashi Ke Bhagyoday Upay | मीन राशि के जातक कैसे करें...

Meen Rashi Ke Bhagyoday Upay | मीन राशि के जातक कैसे करें अपना भाग्योदय, कौनसा करें व्यापार और धन प्राप्ति के उपाय?

0
119
meen raashi

Table of Contents

मीन राशि का भाग्योदय Meen Rashi Ke Bhagyoday Upay | मीन राशि के जातक कैसे करें अपना भाग्योदय, कौनसा करें व्यापार, और धन प्राप्ति के उपाय?

मीन राशि का भाग्योदय जब राशियों की बात आती है तो हर कोई यह देखता है कि आखिर हमारी राशि का सबसे बड़ा बिजनेसमैन, एक्टर या खिलाड़ी कौन है लेकिन किसी का ध्यान इसपर नहीं जाता कि आखिर उनमें ऐसा क्या है कि वह इतने आगे है और हम नहीं।

क्योंकि ऐसा तो है नहीं कि राशियों में भी ऐसा होता हो कि सबसे ऊपर कौन होगा, बीच में कौन होगा और नीचे कौन होगा। ऐसा नहीं होता ना तो फिर आप सोचिए कि आखिर उन्होंने ऐसा क्या किया होगा कि उनका भाग्योदय हो गया और आपका नहीं।

नहीं समझे ना तो आइए हम आपको विस्तार से समझाते है जैसा कि हम सभी जानते है कि हर एक राशि में साल भर में कई फेर बदल आते है कभी ग्रह आ जाते है आपकी राह का कांटा बनने तो कभी कोई दोष होता है जो आपको आगे नहीं बढ़ने देता।

Advertisement

तो ऐसी ही स्थिति से निपटने के लिए ज्योतिष शास्त्र में राशियों के अनुसार उपाय बताए गए है जिन्हें आपको अवश्य ही करना चाहिए। क्योंकि यही उपाय है जो आपकी किस्मत को चमका सकते है और आपका भाग्योदय कर सकते है।

अब आपके भी मन में आ रहा होगा कि आखिर ऐसा क्या है जो हमें करना चाहिए, जिससे हमारा भी भाग्योदय हो जाए। तो अगर आप मीन राशि के जातक है और आपका दिन शुभ नहीं चल रहा तो आपके लिए आज हम बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आए है।

यह खास जानकारी केवल मीन राशि वालों के लिए है तो अन्य राशि वाले लोग इन्हें ना अपनाएं। अगर अन्य राशि के लोग भी अपने भाग्योदय से जुड़ी जानकारी पाना चाहते है तो वह भी हमारी वेबसाइट पर दी गई है। तो आप उसे पढ़ना ना भूले। तो चलिए अब बात कर लेते है मीन राशि के भाग्योदय उपाय (Meen Rashi Ke Bhagyoday Upay)

भाग्योदय क्या होता है ? Bhagyoday kya hai

इससे पहले हम आपको आगे की जानकारी दें आइए पहले यह जान लेते है कि आखिर भाग्योदय होता क्या है। तो किसी सुअवसर का आरंभ होना, कोई सुयोग बनना, अच्छे समय का प्रारंभ या फिर भाग्य का जागना, इसे भाग्योदय कहा जाता है।

मीन राशि के भाग्योदय उपाय | Meen Rashi Ke Bhagyoday Upay

आइए अब बात कर लेते है कि मीन राशि के जातकों को अपने भाग्योदय के लिए किन उपायों को करना चाहिए।

• आप मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा या फिर सुंदर कांड का पाठ कर सकते है।
• आप लाल मसूर का दान कर सकते है।
• अनामिका ऊंगली में मूंगा रत्न धारण कर सकते है।
• आप मंगवार के दिन हनुमान जी को चमेली का तेल, सिंदूर या शुद्ध घी का चोला अर्पित कर सकते है और हनुमान जी को इमरती, जलेबी या फिर चूरमें के प्रसाद का भोग लगा सकते है।
• मीन राशि वाले जातकों को मंगलवार या फिर जन्मदिन के दिन पीपल के पेड़ की 8 परिक्रमा लगानी चाहिए।
• हर मंगलवार को पीपल के पेड़ को लाल रंग के फूल अर्पित करने चाहिए।
• मीन राशि वाले लोगों को जन्मदिन वाले दिन पीपल के नए उगे पत्ते को नहाने के पानी में डालकर स्नान करना चाहिए।
• मंगलवार के व्रत करने चाहिए।
• मंगल स्त्रोत का पाठ करना चाहिए।
• मंगलवार या जन्मदिन वाले दिन पीपल के पेड़ में तांबे के लोटे से जल अर्पित करना चाहिए।
• मंगलवार या जन्मदिन वाले दिन पीपल के पेड़ में अलसी के तेल का दीपक जलाना चाहिए।
• परिवार या दोस्तों के साथ अच्छा व्यवहार रखना चाहिए।
• हर मंगलवार को पीपल के पेड़ के नीचे शक्कर डालनी चाहिए।
• अगर आप मीन राशि के जातक हो तो आपको जन्मदिन वाले दिन 8 पीपल के पेड़ किसी भी मार्ग के किनारे लगाने चाहिए।

अगर आप मीन राशि के जातक है और ऊपर बताए गए उपायों को अपनाते है तो आपका भाग्योदय बहुत ही जल्द हो सकता है।

मीन राशि वालों को भाग्योदय के लिए क्या दान करना चाहिए ?

अगर आप मीन राशि के जातक हो तो आपको अपने भाग्योदय के लिए मूंगा, सोना, तांबा, मसूर, गुड़, घी, लाल कपड़ा, लाल कनेर का फूल, केसर, कस्तूरी, लाल बैल, खांड, सौंफ, गैहूं, माचिस, लाल चंदन, लाल गुलाब, सिंदूर, शहद, कोई भी लाल पुष्प, शेर, मृगछाला, लाल मिर्च, लाल पत्तथर एवं लाल मूंगा में से अपनी क्षमता के अनुसार दान करना चाहिए।

मीन राशि वाले जातकों के लिए भाग्योदय का मंत्र कौनसा है ? Meen rashi ke bhagyoday ke liye mantra

अगर आप मीन राशि के जातक है तो आपको ऊँ क्रां क्रीं क्रौं सः भौमाय नमः या फिर ऊँ अंगारकाय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए। ऐसा करने से भाग्योदय में काफी मदद मिलती है।

मीन राशि वाले जातकों का भाग्योदय किस-किस उम्र में होता है ?

मीन राशि वाले जातकों का भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष, 28 वर्ष या फिर 33 वर्ष की आयु में होता है।

मीन राशि वालों को कौन सा व्यापार करना चाहिए?

जैसा कि हम सभी जानते है कि किसी भी व्यापार के चलने ना चलने पर उस व्यक्ति की राशि का प्रभाव पड़ता है। तो अगर मीन राशि वाले व्यक्तियों की बात करें तो मीन राशि के जातक व्यवसाय आदि में कम रुचि रखते है।

जबकि मीन राशि वाले जातकों का ध्यान रहस्यों की खोज में अधिक होता है। लेकिन अगर व्यापार की बात की जाए तो मीन राशि के जातक जूता निर्माण, सौन्दर्य प्रसाधन, विज्ञापन एजेन्सी, संगीत संबंधी व्यवसाय में अपनी किस्मत आजमा सकते है क्योंकि राशि के अनुसार यह व्यापार मीन राशि वाले लोगों के लिए बहुत ही शुभ माना जाता है।

मीन राशि वालों को कौन सा व्रत करना चाहिए?

अगर बात करें कि भाग्योदय के लिए आखिर मीन राशि वाले जातकों को कौनसा व्रत रखना चाहिए तो आश्विन मास मे पडने वाली शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से मीन राशि के जातकों को पूर्णिमा के व्रत करना शुरू करना चाहिए। इन व्रत को करने से मीन राशि के जातक अपना भाग्योदय कर सकते है।

मीन राशि धन प्राप्ति के उपाय

  • मीन राशि के स्‍वामी बृहस्‍पति यानि गुरु को माना जाता हैं इसलिए मीन राशि वालो को नारायण भगवान की पूजा या आराधना करनी चाहिए और धन प्राप्ति के लिए इन मन्त्रों का जाप कर सकते है ॐ नारायणा नमः’ एवं ‘ॐ गुरुवे नमः’ ।
  • मीन राशि वालो को धन की प्राप्ति के लिए काली हल्दी की पूजा करके अपने गल्ले में रखना चाहिए और रोजाना उसकी पूजा करें।

भाग्योदय को लेकर मीन राशि से जुड़े अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल ?

क्या मीन राशि वाले मछली का सेवन कर सकते है ?

इसका जवाब है हां मीन राशि वाले लोग मछली का सेवन कर सकते है।

मीन राशि वाले जातकों की कमजोरी क्या होती है ?

मीन राशि वाले जातकों की कमजोरी यह होती है कि इनका बहुत ही जल्दी लोगों से मोहभंग हो जाता है क्योंकि किसी के द्वारा तंग किए जाने पर ये बहुत कठोर हो जाते हैं।

मीन राशि का अक्षर क्या होता है ?

जिन लोगों का नाम दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची अक्षर से आरंभ होता है उनकी राशि मीन कहलाती है।

मीन राशि का प्रेम किससे होता है ?

मीन राशि वाले स्वभाव से बहुत ही रोमांटिक होते हैं। उन्हें सौन्दर्य से प्रेम होता है तथा कुरूपता भी उन्हें आकर्षित कर सकती हैं।

मीन राशि के नक्षत्र क्या है ?

मीन राशि के नक्षत्र की बात करें तो इनके नक्षत्र का स्थान आकाश मंडल में छब्बीसवां माना गया है। इसीलिए इन पर शनि और गुरू दोनों का प्रभाव होता है।

मीन राशि धन प्राप्ति के उपाय?

मीन राशि वाले जातकों को काली हल्दी की पूजा कर उसे अपने गल्ले या फिर काम करने वाले स्थान पर रखना चाहिए। ऐसा करने से धन की प्राप्ति होती है।

मीन राशि वाले लोग बीमार क्यों रहते हैं ?

मीन राशि वाले लोगों की रोग प्रतिरोधी क्षमता बहुत धीमी होती है। जिसकी वजह से यह बार-बार बीमार रहते है।

मीन राशि की गुप्त बातें क्या है ?

मीन राशि वाले जातकों का स्थान दोनों पांव में होता है। इसके कारक ग्रह सूर्य, मंगल और गुरु माने जाते हैं। मीन राशि का स्वामी गुरु ग्रह को माना जाता है। भाग द्विस्वभाव है और मीन लग्न की बाधक राशि वृषभ तथा बाधक ग्रह शुक्र है, लेकिन लाल किताब अनुसार शत्रु और मित्र ग्रहों का निर्णय कुंडली अनुसार ही होता है।

मीन राशि का भगवान किसे माना जाता है ?

अगर आप भी जानना चाहते है कि मीन राशि के जातकों के भगवान कौन होते है तो मीन राशि के जातकों के लिए भगवान शिवजी की पूजा करना बहुत ही शुभ माना जाता है।

मीन राशि का निशान कौनसा होता है ?

मीन राशि के निशान के तौर पर दो मछलियां विपरीत दिशाओं में तैरती नजर आती हैं।

ये भी पढ़े सपने में बहुत सारे लोगों को देखना होता शुभ और अच्छा संकेत

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here