मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम | Muh ke chhale ka upay

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम और muh ke chhale ka upay

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

हेलो दोस्तों आपका हमारी वेबसाइट duniyakamood पर स्वागत हैं आज हम एक और अच्छा टॉपिक लेकर आये आपके लिए मुंह के छाले की टेबलेट नाम क्या हैं muh ke chale ki tablet name, मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा, मुंह के छाले कितने प्रकार के होते हैं, मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम क्या हैं, muh ke chhale ka upay, मुंह के छाले ठीक करने के घरेलू उपाय, मुंह के छाले कितने दिन में ठीक होते हैं और हम जानेंगे मुंह में छाले होने के कारण, परहेज क्या क्या होते हैं ।

हम आपको छाले की अंग्रेजी दवाई का नाम बताने वाले है लेकिन इससे पहले यह जान लेते है कि आखिर मुंह में छाले होते क्या है तो यह बेहद आम समस्या है और कभी ना कभी यह हर किसी को होती ही है।

कई बार यह समस्या गर्म खाना खा लेने से होती है तो कई बार पेट ठीक से साफ ना होने की वजह से इसलिए इसके होने की कोई एक वजह नहीं मानी जा सकती। छाले की समस्या के होने की जगह भी निर्धारित नहीं होती।

छाले कभी होंठ पर कभी गाल पर, कभी मसूड़े पर तो कभी जीभ पर हो जाते है और इनकी संख्या भी बहुत होती है और इनका साइज 5 मिमी तक ही सीमित होता है। यह दिखने में सफेद और पीले रंग के होते है और इनके चारों तरफ लाल रंग का एक बार्डर होता है।
इसके अलावा जिनको भी छालों की समस्या होती है वह यह समझ सकते है कि इनके होने से खाना खाने और बोलने दोनों में तकलीफ होती है। कई बार यह छाले किसी चोट की वजह से आ जाते है तो कभी खाना खाते समय गाल या जीभ के कट जाने की वजह से पैदा हो जाते है।

वैसे तो यह छाले 2 हफ्तों में ही ठीक हो जाते है लेकिन अगर यह 3 हफ्ते से ज्यादा समय तक रहे तो डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए क्योंकि यह किसी अन्य बीमारी के लक्षण भी हो सकते है। इसके अलावा छालों को अंग्रेजी में Mouth ulcer, Canker sores और Aphthous ulcer भी कहा जाता है।

Table of Contents

मुंह में छालों के लक्षण कैसे होते है ?

आइए अब बात कर लेते है कि आखिर मुंह के छालों को पहचाना कैसे जाए या फिर इसके लक्षण क्या होते है।

• इस प्रकार के छालों में हल्का-हल्का चुभन वाला दर्द महसूस होता है।
• मुंह में छाले होने पर बोलने, खाने और निगलने में परेशानी होती है।
• जब नमकीन, मसालेदार या खट्टे खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाता है तो मुंह के छालों में जलन महसूस होती है।
• इन छालों की वजह से आसपास कि त्वचा में सूजन और अकड़न हो जाती है जिससे दाँत ब्रश करने में भी कठीनाई होती है।
• इन छालों के कारण लिंफ नोड्स में भी सूजन आ सकती है।

छालों की गंभीरता ?

वैसे तो यह समस्या आम है लेकिन अगर छालों के दौरान आपको बुखार आने लगे या फिर छालों का आकार बढ़ने लगे तो यह समस्या गंभीर हो सकती है। ऐसे में डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए क्योंकि छालों के दौरान इस तरह की समस्या आपको किसी सीरियस इन्फेक्शन या अन्य किसी बीमारी की तरफ संकेत देती है।

मुंह में छाले किस वजह से होते है ?

वैसे तो मुंह के छालों के होने के कोई मुख्य कारण नहीं होते इसीलिए हम आपके लिए इन मुंह के छाले होने की सभी वजहों की लिस्ट लेकर आए है जो कि इस प्रकार है।

• टूथब्रश से चोट लगने की वजह से।
• नुकीले और टूटे हुए दांतों की लगातार रगड़ लगने की वजह से।
• दांतों से गाल की अंदरूनी त्वचा या जीभ कटने की वजह से।
• गर्म खाने से मुंह जलने की वजह से।
• स्ट्रोंग माउथ वॉश के अधिक इस्तेमाल की वजह से।
• हर्पीज सिम्प्लेक्स जैसे वायरल संक्रमण की वजह से।
• विटामिन या आयरन की कमी की वजह से।
• क्रोहन डिजीज या सीलिएक डिजीज जैसी पेट की बीमारी की वजह से।

मुंह के होने वाले छालों का घरेलु उपचार कैसे करना चाहिए ? (muh ke chhale ka upay)

आइए अब बात करते है कि अगर मुंह में छाले हो जाए तो उनका घरेलु उपचार कैसे करना चाहिए। तो अगर किसी को मुंह में छाले या फिर दाने हो जाए तो इस दौरान इनपर ग्लिसरीन लगानी। ऐसा करने से छाले ठीक हो जाते है।

इसके अलावा मुंह के छालों को ठीक करने के लिए इनपर शहद भी लगाया जा सकता है क्योंकि मुंह के छालों के लिए शहद एक प्रकार से दवा का काम करता है। इस उपाय को दिन में 5 से 8 बार इस्तेमाल करना चाहिए। ऐसा करने से छाले ठीक हो जाते है।

अगर किसी को छाले बहुत ही ज्यादा परेशान कर रहे हो तो ऐसे व्यक्ति को दिन में 4 से 5 बार पानी में शहद मिलाकर उसका कुल्ला करना चाहिए। ऐसा करने से मुंह के छालों में आराम मिलता है और वह ठीक भी हो जाते है।

इसके अलावा आप दही में शहद मिलाकर अगर उसे दिन में 2 से 3 बार चाटते है तो उससे भी छालों में बहुत आराम मिलता है।

कैसे मुंह के छालों से बचाव करना चाहिए ?

अगर बात करें कि आखिर मुंह के छालों का बचाव कैसे किया जाए तो आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। अगर आप इन चीजों का ध्यान रखते है तो आपको या तो छाले होंगे ही नहीं या फिर होंगे तो जल्दी ठीक हो जाएंगे।

• ज्यादा गर्म या फिर मसालेदार खाने का सेवन करने से बचना चाहिए।
• छालों के दौरान सिगरेट, गुटका और तंबाकू का सेवन बिल्कुल छोड़ देना चाहिए।
• अपने मुंह का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए और रोज मुंह और दातों को साफ करना चाहिए।
• छालों के दौरान सॉफ्ट टूथब्रश का इस्तेमाल करना चाहिए और दो महीने से ज्यादा टूथब्रश का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
• कभी भी सोडियम लॉरिल सल्फ़ेट युक्त माउथवॉश या टूथपेस्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

मुंह के छाले का इलाज कैसे करना चाहिए ?

वैसे तो आमतौर पर छालों के लिए किसी विशेष इलाज की जरूरत नहीं होती क्योंकि 2 हफ्तों तक रहने के बाद यह अपने आप चले जाते है लेकिन अगर यह छाले 2 हफ्तों से ज्यादा समय तक रहे या फिर ज्यादा परेशान करने लगे।

तो ऐसी स्थिति में आपको इलाज की जरूरत पड़ सकती है। इसके लिए दर्द निवारक दवाएं, मल्टीविटामिन और एंटीमाइक्रोबियल माउथवॉश का उपयोग किया जाता है।

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम muh ke chale ki angreji dawa name

आइए अब उस विशष पर बात कर लेते है जिसका आप काफी देर से इंतजार कर रहे थे कि आखिर मुंह के छालों में किन अंग्रेजी दवाओं का इस्तेमाल करना चाहिए। तो आइए इनकी सूची पर नजर डाल लेते है।

छालों के दौरान आप Lidocaine या फिर Benzocaine जैसी दवाओं का इस्तेमाल कर सकते है। इन दवाओं का इस्तेमाल सीधे छालों पर किया जाता है और इनकी मदद से छालों से होने वाले दर्द को कम किया जा सकता है।

इसके अलावा आप Betadine gargle 2% का भी प्रयोग कर सकते है क्योंकि यह जर्म्स को मारने वाला माउथवॉश है, इसे पानी में मिलाकर कुल्ला करने से छालों में काफी राहत मिलती है।

आप Multivitamin और Vitamin B12 भी ले सकते है क्योंकि Vitamin B12 मुंह के छालों को ठीक करने के लिए सबसे उपयोगी माना जाता है।

या फिर आप NSAIDs का इस्तेमाल कर सकते है क्योंकि इसमें नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स पाया जाता है जो कि छालों को ठीक करने में बहुत ही ज्यादा मददगार होता है।

मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा कौनसी होती है ?

यह तो हो गई अंग्रेजी दवाओं की बात आइए अब बात कर लेते है कि आखिर छालों में आप किन आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल कर सकते है। तो मुंह के छालों की सबसे प्रसिद्ध आयुर्वेदिक दवा इस प्रकार है।

• मुंह के छालों में राहत पाने के लिए आप Himalaya HiOra SG Gel, 10gm का इस्तेमाल कर सकते है।
• आप Himalaya Hiora Mouth Wash का इस्तेमाल कर सकते है।
• या फिर आप पतंजलि के Khadiradi vati का भी प्रयोग कर सकते है।
मुंह के छालों की अन्य आयुर्वेदिक दवाएं ?
• आप छालों में राहत पाने के लिए मोहता आयुर्वेदिक कंपनी द्वारा बनाई जाने वाली स्टोमेट टैबलेट का इस्तेमाल कर सकते है।
• आप डिशेन आयुर्वेदिक कंपनी द्वारा बनाई जाने वाली हेमोप्लेक्स टैबलेट का इस्तेमाल कर सकते है।
• आप चरक कंपनी के द्वारा निर्मित मेनोल टैबलेट को ले सकते है।
• या फिर आप आर्या आयुर्वेदिक कंपनी द्वारा बनाई जाने वाली एक्रीमिन टैबलेट भी इस्तेमाल में ला सकते है।

मुंह के छालों में क्या खाना चाहिए ?

• मुंह के छाले होने पर गाय के दूध का सेवन करना चाहिए।
• मुंह के छालों में गाय या फिर बकरी के दूध से बनी शक्कर और चावल से निर्मित खीर का सेवन करना चाहिए।
• गाय या बकरी का दूध उपलब्ध ना होने पर डेरी के दूध या फिर आइसक्रीम का सेवन कर सकते है।
• अगर किसी बच्चे को मुंह में छाले हो तो ऐसे बच्चे को बकरी के थन से सीधा मुंह लगाकर दूध पीलाने से छालों में राहत मिलती है।
• मुंह में छाले होने पर मीठी लस्सी का सेवन करना चाहिए। ऐसा करने से छाले ठीक हो जाते है।

मुंह के छालों में क्या नहीं खाना चाहिए ?

• मुंह के छाले होने पर तेल युक्त या फिर मसालेदार भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए।
• मुंह में छाले होने पर भूलकर भी गुटखा, शराब, तम्बाकू इत्यादि का सेवन नहीं करना चाहिए।
• मुंह में छाले होने पर चाय या फिर कॉफी भी नहीं पीनी चाहिए।

मुंह के छालों के अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल ?

मुंह के छालों को कैसे ठीक करें ?

मुंह के छालों को ठीक करने के लिए शहद, नारियल तेल, एलोवेरा जूस, तुलसी के पत्ते, एप्पल साइडर विनेगर, मुलेठी का पाउडर और संतरे के जूस का इस्तेमाल किया जा सकता है।

मुंह के छाले कितने प्रकार के हो सकते हैं ?

मुंह के छाले के दो आम प्रकार एफ्थस छाले और बुखार के छाले या फीवर ब्लिस्टर्स हैं।

मुंह के छाले में इस्तेमाल की जाने वाली क्रीम कौनसी होती है ?

अगर किसी के मुंह में छाले हो तो ओरेक्स क्रिम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

मुंह के छाले के कारण क्या होते है ?

अधिक तीखा खाना, गर्म खाना, पेट की खराबी या फिर कब्ज अधिकतर मुंह में छाले होने के कारण होते है।

मुंह में छाले होने पर यह कितने दिन में ठीक हो जाते हैं ?

अगर बात करें मुंह में छाले ठीक होने की तो यह 10 से 15 दिन में अपने आप ठीक हो जाते हैं।

हमने इस आर्टिकल में बताया की मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम या कह सकते है मुंह के छाले की टेबलेट का नाम क्या है। हमने ये जानकारी इंटरनेट से ही ली फिर भी आप दवा लेने से पहले आप डॉक्टर से कंसल्ट जरूर कर ले । हमारा आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताये और दोस्तों के साथ साझा करें ।

ये भी पढ़े मुंह में बार- बार होने वाले छालों से रहते हो परेशान तो अपनाएं ये घरेलू उपाय, जल्द मिलेगा छुटकारा!

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article