32.1 C
Delhi
बुधवार, अप्रैल 17, 2024
Recommended By- BEdigitech

अगर आप भी करते हैं अपने पर्स के साथ ये काम तो आज ही हो जाएं सावधान, वरना हो सकते हैं ये नुकसान ?

किसी भी कार्य पर निकलने से पहले हम अपना पर्स लेना नहीं भूलते क्योंकि जरूरी कागजों से लेकर पैसों तक हर एक चीज को हम अपने पर्स में ही संभाल कर रखते हैं लेकिन हम में से अधिकतर लोग एक गलती रोजाना करते हैं जिसे आपको कभी भी नहीं करना चाहिए।

ये गलती है पर्स को अपनी पेंट की पीछे वाली जेब में रखना। हम में से अधिकतर लोग अपने पर्स को पीछे वाली जेब में ही रखना पसंद करते हैं क्योंकि ऐसा करना हमें आरामदायक लगता है लेकिन आज जो जानकारी हम आपके लिए लेकर आए हैं।

उसे अगर आपने जान लिया तो आप कभी भी ये गलती नहीं करेंगे। दरअसल, जब हम अपनी पीछे वाली जेब में अपना पर्स रखते हैं तो इससे हमें कई गंभीर बीमारियां होने का खतरा बनता है। अब ये कौनसी बीमारियां और परेशानी है आइए इन पर भी नजर डाल लेते हैं।

Table of Contents

Advertisement

पीछे की जेब में पर्स रखने के नुकसान ?

ये भी पढ़े जानें, सर्दियों के मौसम में पैरों की उंगलियां सूजने के कारण, रखें इन बातों का ध्यान

दर्द की हो सकती है समस्या

जब हम अपने पीछे की जेब में पर्स रखकर निकलते हैं तो हम अपने पर्स पर ही बैठ जाते हैं। वैसे तो ये आम बात है लेकिन आगे जो हम आपको बताने वाले है उससे जानने के बाद आप ऐसी गलती नहीं दोहराएंगे। दरअसल, जब हम अपनी पीछे की जेब में पर्स रखते हैं।

तो इससे हमारी नसें दब जाती है जिससे आगे चलकर हमें कई प्रकार के दर्द से गुजरना पड़ सकता है। वैसे तो ये दर्द अचानक शुरू नहीं होते। लेकिन अगर एक बार आपको ये दर्द हो गया तो यह आपका पीछा करीब तीन महीने तक नहीं छोड़ेगा।

इसलिए पहले तो आप पर्स को ही पीछे वाली जेब में ना रखें और अगर रखते हैं तो बैठते हुए उसे पीछे की जेब से निकालकर ही बैठे।

नसों में कमजोरी आ सकती है

जब हम पीछे वाली जेब में अपना पर्स रखते हैं तो इसका प्रभाव हमारी नसों पर पड़ता है। क्योंकि हमारा पर्स होता है मोटा जिसके लंबे समय तक हमारी पीछे वाली जेब में रहने से वह हमारी नसों को दबा देता है। इससे आपकी कमर के निचले हिस्से और स्लिप डिस्क की नस डैमेज हो सकती है।

फैट वॉलेट सिंड्रोम की समस्या

जब हम पर्स को पीछे वाली जेब में रखते हैं तो कई बार हम उसे निकालना भूल जाते हैं। जिसकी वजह से लंबे समय तक ऐसा होने से ये हमारी पाइरीफोर्मिस मसल्स को खराब कर सकता है। इसके अलावा साइटिक नस पर भी इसका प्रभाव पड़ता है क्योंकि ये नस हमारी पाइरीफोर्मिस मसल्स से होकर गुजरती है। जिसकी वजह से आपको आगे चलकर काफी गंभीर परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं।

ये भी पढ़े सर्दियों में गर्म पानी का सेवन करना सही या गलत, जानें वरना आपको भी हो सकता है भारी नुकसान

Disclaimer

हमने अपनी खबर में जो आपको जानकारी दी है वो डॉक्टर के द्वारा ही सुझाई गई है लेकिन फिर भी इनको प्रयोग में लाने से पहले आपको एक बार संबंधित विशेषज्ञ से इसकी जांच जरूर करवानी चाहिए। अगर वह सलाह दें तभी आप इस जानकारी को प्रयोग में लेकर आएं।

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles