Primolut N Use In Hindi। प्रिमोलुट टैबलेट का उपयोग, साइड इफेक्ट्स लाभ

Primolut N Use In Hindi – प्रिमोलुट टैबलेट क्या है, प्रिमोलुट-एन टैबलेट के मुख्य के उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Must read

राजन चौहान
राजन चौहानhttps://www.duniyakamood.com/
मेरा नाम राजन चौहान हैं। मैं एक कंटेंट राइटर/एडिटर दुनिया का मूड न्यूज़ पोर्टल के साथ काम कर रहा हूँ। मेरे अनुभव में कुछ समाचार चैनलों, वेब पोर्टलों, विज्ञापन एजेंसियों और अन्य के लिए लेखन शामिल है। मेरी एजुकेशन बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (सीएसई) हैं। कंटेंट राइटर के अलावा, मुझे फिल्म मेकिंग और फिक्शन लेखन में गहरी दिलचस्पी है।

Primolut N Use In Hindi | प्रिमोलुट टैबलेट का उपयोग और साइड इफेक्ट्स हिंदी में जाने

प्रिमोलुट-एन टैबलेट की उचित खुराक मरीज की उम्र, लिंग आदि पर निर्भर करती है। इस दवा की कितनी मात्रा लेना चाहिए यह इस पर निर्भर करता है कि मरीज को समस्या क्या है।

प्रिमोलुट-एन टैबलेट के मुख्य इस्तेमाल

Primolut N एक दवा है, जो टैबलेट के रूप में उपलब्ध है। इस दवा का उपयोग पीरियड्स में दर्द, एंडोमेट्रिओसिस, एब्नार्मल यूटराइन ब्लीडिंग के इलाज के लिए किया जाता है।

  • माहवारी में ज्यादा ब्लीडिंग के इलाज करने में
  • पीरियड और माहवारी में दर्द के इलाज में
  • प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम के इलाज में
  • एंडोमेट्रिओसिस के इलाज में

प्रीमोलुट-एन टैबलेट के लाभ

माहवारी में ज्यादा ब्लीडिंग के इलाज में

प्रिमोलुट-एन टैबलेट एक कृत्रिम हार्मोन है, जो प्रोजेस्टेरोन नामक प्राकृतिक फिमेल हार्मोन प्रभाव को दर्शाता है. प्रोजेस्टेरोन का मुख्य काम माहवारी से पहले, गर्भाशय की दीवार में वृद्धि को धीमा करना है। ये माहवारी के दौरान ब्लीडिंग कम करने में मदद करती है।

प्रिमोलुट-एन टैबलेट के क्या साइड इफेक्ट है

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट के बाद आपको डॉक्टर की सलाह लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। अगर आप इस दवा का नियमित रूप से सेवन करेंगे तो ये साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं। अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं तो आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते है

प्रिमोलुट-एन के साइड इफेक्ट

  • सिर दर्द होना
  • स्तन कोमलता
  • चक्कर आना
  • मिचली आना
  • योनि में दाग
  • पेट में क्रैम्प
  • उल्टी

प्रिमोलुट-एन का इस्तेमाल कैसे करें

इस दवा की कितनी खुराक लेना है और कितने समय के लिए इसकी खुराक ली जाएं, इसे साबुत निगलना है, इसे चबाना है, इसके लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए। प्रिमोलुट-एन टैबलेट को खाने के साथ और भूखे पेट भी ले सकते हैं।

प्रिमोलुट-एन टैबलेट किस तरह काम करती है

ये टैबलेट एक सिंथेटिक प्रोजेस्टिन है। यह प्राकृतिक प्रोजेस्टेरोन के प्रभाव का अनुकरण पर काम करती है। यह गर्भाशय की लाइनिंग के विकास और क्षय को नियंत्रित करने में मदद करती है।

सावधानियां और चेतावनियां

प्रिमोलुट एन प्रोजेस्टोजन का सिंथेटिक रूप है, जिसे नोरेथिस्टरॉन के रूप में भी जाना जाता है। जो नोरेथिस्टरॉन हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी के लिए काम करता है, ये गर्भाशय में मौजूद एस्ट्रोजन की मात्रा भी बदल सकता है। इसका उपयोग अपने चिकित्सक से परामर्श करने के बाद ही करें। बीना डॉक्टर के निर्देश के आपको इस दवा को नहीं लेना चाहिए। प्रिमोलुट एन का सेवन करने से पहले आपको अपने चिकित्सक को अपनी वर्तमान दवाओं जैसे: विटामिन, एलर्जी, हर्बल सप्लीमेंट, अपनी मौजूदा बीमारियों, और वर्तमान स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में जानकारी देनी चाहिए।

क्या प्रिमोलुट एन प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसका इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें। हालांकि, गर्भवती महिलाओं के लिए विशेषकर तीसरी तिमाही में आने के बाद महिलाओं को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप प्रेग्नेंसी के दिनों में इसका सेवन करना चाहती हैं, तो अपने डॉक्टर की देख-रेख में ही करें।

ये भी पढ़े आखिर किस काम आती है नोरेथिस्टेरोन (Norethisterone) दवा और क्या है इसके लाभ और नुकसान, यहां जाने ?

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article