fbpx

राहुल गांधी ने भाजपा और आरएसएस की विचारधारा पर उठाए सवाल, कहा “ये लोग हिंदू नहीं हैं, ये सिर्फ हिंदू धर्म का इस्तेमाल करते हैं”

Must read

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर बीते बुधवार को कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी हमलावर होते हुए नजर आए। इस दौरान राहुल गांधी ने भाजपा और आरएसएस की विचारधारा पर भी सवाल खड़े किए।


दरअसल, राहुल गांधी ने भाजपा और आरएसएस पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग हिंदू नहीं हैं, ये सिर्फ हिंदू धर्म का इस्तेमाल करते हैं।
बता दें कि, राहुल गांधी ने यह आरोप ‘अखिल भारतीय महिला कांग्रेस’ के स्थापना दिवस समारोह के दौरान लगाए। इतना ही नहीं राहुल गांधी ने इस दौरान यह भी कहा कि भाजपा और आरएसएस के लोग ‘महिला शक्ति’ को दबा रहे हैं और भय का माहौल पैदा कर रहे हैं।


इस बीच राहुल गांधी ने नोटबंदी और जीएसटी पर भी कई सवाल खड़े किए, राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा द्वारा लगाई गई नोटबंदी और जीएसटी से कोई फायदा नहीं हुआ है, इससे मोदी सरकार ने ‘लक्ष्मी की शक्ति’ और ‘दुर्गा की शक्ति’ पर आक्रमण किया है।


राहुल गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा कि, ‘‘भाजपा और आरएसएस स्वयं को हिंदू पार्टी कहते हैं लेकिन उसके उलट लक्ष्मी जी और मां दुर्गा पर आक्रमण करने का काम करते हैं और फिर भी वे स्वयं को हिंदू कहते हैं। ये लोग झूठे हिंदू हैं। ये केवल राजनीति के लिए हिंदू धर्म का इस्तेमाल करते हैं।’’

Advertisement


राहुल गांधी का यह भी कहना है कि, भाजपा और आरएसएस के लोगों ने पूरे देश में डर माहौल फैलाया हुआ है, इनसे किसानों के बीच डर का माहौल बना हुआ है, महिलाएं भी डरी हुई हैं। आरएसएस पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि, आरएसएस महिला शक्ति को दबाने का काम करता है, जबकि कांग्रेस ने हमेशा से ही महिला शक्ति को बढ़ाने के लिए समान मंच प्रदान किया है।


राहुल गांधी ने इस दौरान महात्मा गांधी का उदाहरण पेश करते हुए कहा कि, “अगर पिछले 100-200 सालों में किसी ने हिंदू धर्म को सबसे अच्छे तरीके से समझा है, तो वह केवल महात्मा गांधी है और इसे हम भी मानते हैं और भाजपा और आरएसएस के लोग भी मानते हैं।


राहुल गांधी ने कहा कि, हिंदू धर्म की बुनियाद अहिंसा है और यह सभी जानते है कि महात्मा गांधी ने अहिंसा को सबसे अच्छे तरीके से जिया है और हम सभी जानते है कि, आरएसएस की विचारधारा द्वारा महात्मा गांधी को गोली क्यों मारी गई? इस बारे में आपको सोचना होगा।’’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस कभी भी आरएसएस और भाजपा की विचारधारा के साथ समझौता नहीं कर सकती।


राहुल गांधी ने भाजपा की विचारधारा पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि, ‘‘यह सभी जानते है कि देश में आरएससस और भाजपा की सरकार है। इनकी विचारधारा और कांग्रेस की विचारधारा बहुत अलग हैं। कांग्रेस ने हमेशा से गांधी जी की विचारधारा को अपना माना है और आरएसएस और भाजपा गोडसे और सावरकर की विचारधारा को अपनी मानते है।


राहुल गांधी ने कहा कि, गोडसे और सावरकर की विचारधारा और हमारी विचारधारा में बहुत फर्क है और हमें इसे समझते हुए आरएसएस और भाजपा के खिलाफ प्रेम से लड़ना है। नफरत के जरिए हम नहीं लड़ सकते।’’

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article