29.1 C
Delhi
रविवार, जुलाई 14, 2024
Recommended By- BEdigitech

बारिश का कहर, महाराष्ट्र के 750 गांव बाढ़ की चपेट में, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में रिकॉर्ड तोड़ बरसात!

नई दिल्ली: देशभर में जगह-जगह हुई बारिश से बर्बादी की घटनाएं सामने आ रही हैं। महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और गुजरात समेत कई राज्य इसकी चपेट में आ गए हैं। बताया जा रहा है

महाराष्ट्र में 750 गांव, जहां 500 मवेशियों के बाढ़ में बह जाने की खबर है। वहीं, उत्तर प्रदेश के 11 बांधों में रिसाव शुरू हो गया है। इनमें से एक भी बांध यदि टूट जाता है तो भयानक तबाही मचा सकता है।

Table of Contents

महाराष्ट्र

जलगांव के चालीसगांव तालुका में मूसलाधार बारिश की वजह से 750 गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। भारी बारिश से यहां कमर तक पानी भर गया है। अचानक आई बाढ़ से एक महिला की मौत हुई है। 500 से ज्यादा मवेशी पानी में बह गए हैं। बताया जा रहा है कई गांव में लोग अब भी फंसे हुए हैं और रेस्क्यू किए जाने का इंतजार कर रहे हैं। मंगलवार को बारिश के बाद हुई औरंगाबाद-धुले हाईवे पर लैंडस्लाइड हुई थी। तब से वहां ट्रैफिक जाम है। सड़क पर कीचड़ है। हाईवे पर गाड़ियों की लंबी कतार लगी है।

Advertisement

उत्तर प्रदेश

गोरखपुर जिले में बाढ़ के हालत बने हुए हैं। आसपास के कई गांव पानी में डूब चुके हैं। नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है, इससे डरकर लोगों ने पलायन शुरू कर दिया है। जिन लोगों के मकान पक्के हैं, उन्होंने छत पर पनाह ले ली है। हर घंटे नदियों का जलस्तर 3 से 4 इंच बढ़ रहा है। चौरीचौरा, राप्ती रोहा बांध, गोर्रा नदी के महुआकोल बांध, लकड़िहा बांध और बोहवार बांध सहित 11 बांधों में रिसाव शुरू हो गया है। 23 साल पहले 1998 में इतने बुरे हालात बने थे। अब तक 39 लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित जगह पर पहुंचाया जा चुका है।

दिल्ली

यहाँ बारिश ने 12 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है बुधवार सुबह 8.30 बजे तक 24 घंटे के अंदर दिल्ली में 112.1 मिलीमीटर बारिश हुई। पिछले 12 साल में अगस्त में एक दिन में इतनी बारिश नहीं हुई। इससे राजधानी के निचले इलाकों में पानी भर गया। मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक दिल्ली में हर साल सितंबर महीने में करीब 125.1 मिलीमीटर बारिश होती है। इस साल सितंबर के पहले दिन ही 112.1 मिमी बारिश हो गई।

मध्यप्रदेश

मानसून का असर खूब दिखाई दे रहा है। पिछले 24 घंटे में नीमच, भोपाल, टीकमगढ़ समेत 16 से ज्यादा जिलों में रुक-रुककर बारिश जारी है। बुधवार सुबह भोपाल-इंदौर में रिमझिम बारिश हुई, तो छिंदवाड़ा में डेढ़ घंटा तेज बारिश देखने मिली।

होशंगाबाद के तवा डैम में 0.70 फीट पानी बारिश के बाद बढ़ा है। भोपाल के बड़ा तालाब, कलियासोत और केरवा और सीहोर के कोलार डैम के लेवल में भी बढ़ोतरी जारी है।

गुजरात

सौराष्ट्र और उत्तर गुजरात में जोरदार बारिश का दौर जारी है। वलसाड जिले के उमरगाम और वापी में बारिश परेशानी बन गई है। यहां बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। उमरगाम में 10 घंटे के अंदर 11 इंच बारिश हुई है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles