21.1 C
Delhi
शनिवार, जनवरी 28, 2023

Anurag kashyap बर्थडे: अनुराग कश्यप की बर्थडे पर देखे गैंग्स ऑफ वासेपुर’ से लेकर ‘देव डी’ तक उनकी शानदार फिल्में

अनुराग कश्यप (जन्म 10 सितंबर 1972) एक भारतीय फिल्म निर्माता और अभिनेता हैं, जिन्हें हिंदी सिनेमा में उनके कामों के लिए जाना जाता है। वह चार फिल्मफेयर पुरस्कारों सहित कई पुरस्कार मिले है। फिल्म में उनके योगदान के लिए, फ्रांस सरकार ने उन्हें 2013 में ऑर्ड्रे डेस आर्ट्स एट डेस लेट्रेस (नाइट ऑफ द ऑर्डर ऑफ आर्ट्स एंड लेटर्स) से सम्मानित किया था।

एक टेलीविजन धारावाहिक लिखने के बाद, कश्यप को राम गोपाल वर्मा की फिल्म सत्या (1998) में एक सह-लेखक के रूप में ब्रेक मिला। इसके बाद उन्होंने पांच के साथ अपने निर्देशन की शुरुआत की थी, जो सेंसरशिप के मुद्दों के कारण कभी भी रिलीज़ नहीं हुई। इसके बाद उन्होंने 1993 के बॉम्बे बम धमाकों के बारे में हुसैन जैदी की किताब पर आधारित ब्लैक फ्राइडे (2004) का निर्देशन किया था। उस समय मामले के लंबित फैसले के कारण केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने इसकी रिलीज को दो साल के लिए रोक दिया था, लेकिन 2007 में फिल्म रिलीज हुई थी।

कश्यप की नो स्मोकिंग (2007) को नकारात्मक समीक्षा मिली और फिल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर खराब प्रदर्शन किया था, उनका अगला उद्यम देव.डी (2009), देवदास का एक आधुनिक रूपांतरण एक महत्वपूर्ण और व्यावसायिक सफलता थी। इसके बाद अनुराग कश्यप ने राजनीतिक ड्रामा गुलाल (2009), और थ्रिलर दैट गर्ल इन येलो बूट्स (2011) का निर्देशन किया था।

कश्यप का जन्म 10 सितंबर 1972 को गोरखपुर, उत्तर प्रदेश में हुआ था। उनके पिता श्री प्रकाश सिंह उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के एक सेवानिवृत्त चीफ इंजीनियर हैं और वाराणसी के पास सोनभद्र जिले में ओबरा थर्मल पावर स्टेशन में तैनात थे। उन्होंने अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा ग्रीन स्कूल देहरादून और आठ साल की उम्र में ग्वालियर के सिंधिया स्कूल में ली थी। गैंग्स ऑफ वासेपुर में इस्तेमाल किए गए कुछ स्थान उनके अपने पुराने घर से भी प्रभावित हैं जहां वह खुद अपने माता-पिता, बहन अनुभूति कश्यप और भाई अभिनव कश्यप के साथ रहते थे। अभिनव एक फिल्म निर्माता भी हैं, जबकि अनुभूति उनकी अधिकांश फिल्मों में उनकी सहायक रही हैं।

कश्यप उच्च शिक्षा के लिए दिल्ली गए और हंसराज कॉलेज (दिल्ली विश्वविद्यालय) में एक zoology कोर्स में दाखिला लिया था; उन्होंने 1993 में स्नातक की उपाधि प्राप्त की। इसके बाद वो स्ट्रीट थिएटर ग्रुप, जन नाट्य मंच से जुड़ गए। उन्होंने कई नुक्कड़ नाटक किए। उसी वर्ष, वह अपने कुछ दोस्तों के साथ भारत के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में गए। जहां दस दिनों में, उन्होंने उत्सव में 55 फिल्में देखीं और विटोरियो डी सिका की साइकिल थीव्स वह फिल्म थी जिसने उन्हें सबसे ज्यादा प्रभावित किया था।

अनुराग कश्यप ने साल 2012 में फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर का निर्देशन किया था। अनुराग की ये फिल्म उनके सबसे महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट में से एक थी। इस फिल्म को 2 पार्ट में रिलीज किया गया था। आप उनके जन्मदिन पर गैंग्स ऑफ वासेपुर, ‘देव डी’, गुलाल, ब्लैक फ्राइडे आदि फिल्में देख सकते हो।

ये भी पढ़े – कपड़ों के कमेंट पर भड़की उर्फी जावेद, कह दी ये बड़ी बात, जानिए क्या है पूरा माजरा ?

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles