22.1 C
Delhi
मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022

औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं हरसिंगार के फूल, हम बताएंगे आपको इसके फायदे!

कई ऐसे पौधे होते हैं जिनका इस्तेमाल औषधि बनाने के लिए किया जाता है। उन्हें केवल छूने मात्र से ही सारी तकलीफें दूर हो जाती हैं। ऐसे ही होते हैं हरसिंगार के फूल। जिसे केवल स्‍पर्श करने से ही आपकी सारी थकान दूर हो जाती हैं। हरसिंगार के फूल दिखने में जितने खूबसूरत होते हैं, उतने ही फायदेमंद भी होते हैं।

हरसिंगार के पौधे में सफेद रंग के छोटे-छोटे फूल खिलते हैं। इसे भारत में कई अलग-अलग नाम से जाना जाता है। यह इतने खूबसूरत होते हैं कि इन्हें देखने मात्र से ही मन प्रसन्न हो जाता है। दो से आठ फुट तक लंबे इसके पौधे में अगस्त से अक्तूबर तक फूल खिलते हैं और नवंबर से मार्च तक बीज बनता है। हरसिंगार के पुष्प रात के समय खिलकर वातावरण को सुगंधित करते हैं। इन्हें ‘ रात की रानी ‘ का फूल भी कहते है। इसके फूलों का कई आयुर्वेदिक दवाओं में भी उपयोग किया जाता है।

इसका उपयोग अलग-अलग बीमारियों, जैसे — गठिया, साइटिका, हड्डी में फ्रैक्चर, त्वचा रोग, बवासीर, बुखार, डेंगू, मलेरिया, सूखी खांसी, डायबिटीज आदि का इलाज करने के लिए किया जाता है। हरसिंगार महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। मलेरिया बुखार हो या फिर सूखी खांसी हरसिंगार के पत्ते का काढ़ा बनाकर पीने से सब दूर हो जाता है। अगर आप कभी कनाव में रहते हैं तो इसके फूल की सुगंध एक माह तक लेते रहने से तनाव दूर हो जाता है। पाचन शक्ति बढ़ाने में भी इसके पत्ते और फूल का इस्तेमाल किया जाता है।

ये भी पढ़े – आम समझने की गलती ना करें हाथ पैरों में होने वाली झनझनाहट, देती है किसी बड़ी बीमारी का संकेत!

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles