27.1 C
Delhi
शनिवार, अप्रैल 13, 2024
Recommended By- BEdigitech

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आखिरी गेंद पर छक्के से जीत दिलाने वाले बल्लेबाज,इसमें एक भारतीय भी शामिल

यहाँ आपको उन खिलाड़ियों की लिस्ट बता रहे है जिन्होंने मैच की अंतिम गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलवाई है, ऐसे विरले ही बल्लेबाज होते है जिन्होंने ये कारनामा किया है. आइये हम आपको ऐसे आठ बल्लेबाजों के नाम बताते जिन्होंने अंतररास्ट्रीय वनडे क्रिकेट में ये कारनामा किया है, इस लिस्ट में भारतीय बल्लेबाज भी शामिल है.

दिनेश कार्तिक ने सौम्य सरकार को छक्का जड़ा (भारत बनाम बांग्लादेश RPICS, कोलोंबो 2018 )

भारत के विकेट कीपर तेज तर्रार बल्लेबाज़ दिनेश कार्तिक ने निदास ट्रॉफी 2018 में RPICS कोलोंबो मैदान पर बांग्लादेश के गेंदबाज सौम्य सरकार की अंतिम गेंद पर छक्का लगाकर भारत को निदास ट्रॉफी का फाइनल मैच जितवाया था उस मैच में भारत को अंतिम बॉल पर 5 रन की आवश्यकता थी मैच जीतने के लिए.

नाथन मैकुलम ने रंगना हेराथ को छक्का जड़ा (श्रीलंका बनाम न्यूजीलैंड, हंबनटोटा, 2nd ODI 2013)

Advertisement

न्यूज़ीलैंड के हरफनमौला खिलाड़ी मैकुलम ने 2013 में श्रीलंका के खिलाफ मैच में जो बारिश के कारण कम ओवर का हो गया था, उस मैच में न्यूज़ीलैंड को जीतने  के लिए 1 रन की आवश्यकता थी लेकिन मैकुलम ने रंगना हेराथ की अंतिम गेंद पर छक्का जड़कर मैच को न्यूज़ीलैंड की झोली में डाल दिया था 

रयान मैकलारेन ने जेम्स फ्रैंकलिन को छक्का जड़कर जिताया (दक्षिण अफ्रीका बनाम न्यूजीलैंड, पोटेफस्ट्रूम, 2013) 

दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर, मैक्लारेन ने 2013 में न्यूजीलैंड के खिलाफ बाएं हाथ के तेज गेंदबाज, फ्रैंकलिन की अंतिम गेंद पर जीतने के लिए तीन रन की जरुरत थी लेकिन साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज मैक्लारेन ने अंतिम गेंद पर छक्का मारकर टीम को एक अच्छी जीत दिलवाई। 

एड रेन्सफ़ोर्ड ने केविन ओ ब्रयान को छः लगाकर मैच जितवाया (जिम्बाब्वे बनाम आयरलैंड, हरारे स्पोर्ट्स क्लब, 2010) 

जिम्बाब्वे के निचले क्रम के बल्लेबाज रेंसफोर्ड ने २०१० में आयरलैंड के गेंदबाज केविन ओ ब्रयान की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलवाई थी।  उस मैच में जिम्बाब्वे को जीत के लिए अंतिम बॉल पर १ रन की  जरुरत थी। 

शिवनारायण चंद्रपॉल ने चमिंडा वास को छक्का लगाया (वेस्टइंडीज बनाम श्रीलंका, पोर्ट ऑफ स्पेन, 2008)

वेस्टइंडीज के मध्यक्रम के बल्लेबाज चंद्रपॉल अपनी धीमी बल्लेबाजी के लिए जाने जाते थे लेकिन चंद्रपॉल ने श्रीलंका के बेस्ट गेंदबाज चामिंडा वास की अंतिम गेंद पर छक्का जड़कर वेस्टइंडीज को पोर्ट ऑफ स्पेन में जीत दिलाई थी।  वेस्टइंडीज को जीत के लिए आखिरी गेंद पर छह  रन चाहिए थे लेकिन चंद्रपॉल ने अपनी टीम को विजयी बनाया।

ब्रेंडन टेलर ने मशरफे बिन मुर्तजा की गेंद को छह के लिए भेजा (ज़िम्बाब्वे बनाम बांग्लादेश, हरारे स्पोर्ट्स क्लब, 2006) 

जिम्बाब्वे के कप्तान, ब्रेंडन टेलर का भी इस लिस्ट में नाम दर्ज है.जिम्बाब्वे और बांग्लादेश का मैच हरारे स्पोर्ट्स क्लब में खेला जा रहा था और जिम्बाब्वे को जीत के लिए 236 रन बनाने थे, टेलर ने अपनी टीम को जिताने के लिए बढ़िया पारी खेली। लास्ट में जिम्बाब्वे को अंतिम गेंद पर जीत के लिए 5 रन चाहिए थे सबकी नज़र टेलर पर थी और टेलर ने सबकी उम्मीदों को तोड़ने नहीं दिया और अंतिम गेंद पर छक्का जड़कर जिम्बाब्वे को एक शानदार जीत दिलवाई थी.

लांस क्लूजनर ने गेंदबाज डायन नैश की गेंद को छक्के के लिए भेजा (न्यूजीलैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका, नेपियर, 1999)

26 मार्च 1999 को नेपियर के मैदान पर न्यूजीलैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका का मैच खेला जा रहा था। साउथ अफ्रीकी ऑलराउंडर लांस क्लूसनर स्ट्राइक पर थे तथा गेंदबाजी की डोर न्यूजीलैंड के तेज गेदबाज डयोन नैश के हाथ में थी उस समय टीम को जीतने के लिए अंतिम गेंद पर चार रन की आवश्यक्ता थी लेकिन लांस क्लूसनर ने डयोन नैश की गेंद को छक्के के लिए भेज दिया और अपनी टीम को शानदार जीत दिलवाई। 

जावेद मियांदाद ने चेतन शर्मा की गेंद को छक्के के लिए मारा (भारत बनाम पाकिस्तान, शारजाह, 1986)

अप्रैल 1986 में खेले गए एशिया कप के फाइनल में भारत और पाकिस्तान आमने सामने थे ये मैच शारजाह में खेला जा रहा था।  पाकिस्तान को जीत के लिए आखिरी गेंद पर चार रन बनाने थे और स्ट्राइक पर पाकिस्तान के महान बल्लेबाज जावेद मियांदाद थे जो की अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते थे और गेंदबाजी की कमान भारत के तेज गेंदबाज चेतन शर्मा के हाथ में थी।  जावेद ने चेतन की गेंद को बॉउंड्री पार छक्के के लिए भेज दिए और अपनी टीम को 1986 के एशिया कप का ख़िताब जितवाया था.

Related Articles

Latest Articles