17.8 C
Delhi
रविवार, मार्च 3, 2024
Recommended By- BEdigitech

देहरादून में घूमने की जगह और पर्यटन स्थल…

देहरादून भारतीय राज्य उत्तराखंड की राजधानी है, जो हिमालय की तलहटी में बसा है। इसके दक्षिण-पश्चिम में पलटन बाज़ार है, जो खरीदारी का एक व्यस्त क्षेत्र है। ठीक पूर्व में सिख मंदिर गुरुद्वारा नानकसर है। शहर के दक्षिण-पश्चिम में क्लेमेंट टाउन में, मिंड्रोलिंग मठ एक तिब्बती बौद्ध केंद्र है।

देहरादून दिल्ली से 270 किलोमीटर दूर पहाड़ी में बसा एक खूबसूरत शहर है। जो अपनी खूबसूरत वादियों और ऐतिहासिक धरोहरों के लिए प्रसिद्ध है। यहां देश विदेश से सैलानी घूमने के लिए आते हैं।

देहरादून पर्यटकों के घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह है। यदि आप एडवेंचर का शौक रखने वालो के लिए देहरादून बहुत अच्छी जगह है। देहरादून में बहुत सारे पर्यटन स्थल है। यहां कई सारी कृत्रिम झील भी हैं।

Table of Contents

Advertisement

देहरादून के प्रमुख पर्यटन स्थल-

टपकेश्वर मंदिर

टपकेश्वर मंदिर उत्तराखंड का सबसे पुराना शिव मंदिर है। यह मंदिर नंदी नदी के तट पर स्थित है। इसके निर्माण करने के लिए एक प्राकृतिक गुफा का उपयोग किया गया था। ऐसा कहा जाता है कि हर बार बारिश होने पर गुफा के अंदर स्थित शिवलिंग पर पानी की बूंदें गिरती हैं। इसी कारण इस मंदिर को तपकेशवर मंदिर कहा जाता है। शिवरात्रि के समय इस मंदिर के बाहर दर्शन पाने के लिए भक्तों की लंबी लाइन लग जाती है।

ऐसा भी कहा जाता है कि ये गुफा कभी पांडव और कौरवों के गुरु का घर हुआ करती थी। उस समय की बात है जब द्रोणाचार्य की पत्नी कल्याणी ने अश्वस्थमा को जन्म दिया था। तब वह अश्वस्थमा को ठीक से दूध नहीं पिलाती थी। वहीं उस वक्त द्रोणाचार्य गाय या दूध का खर्च नहीं उठा सकते थे। तब बच्चे ने भगवान शिव से प्रार्थना की थी, भगवान ने उनकी प्रार्थना से प्रसन्न होकर उन्हें टपक कर दूध पिलाया था।

सहस्त्रधारा देहरादून

यह देहरादून का प्राकृतिक वाटरपार्क है। टूरिस्ट यहाँ गर्मियों के मौसम में स्वीमिंग का आनंद लेने के लिए आते हैं। यह जितनी खूबसूरत है इसका सफर भी उतना ही बेहतरीन है। यह देहरादून से 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पहुचनें में आपको 40 मिनट का समय लगेगा। इस सफर में आप इसकी खूबसूरती को अपनी आँखों से देख सकते है। यहां पहुंचने के लिए आपको दर्शन लाल चौक से डायरेक्ट टैक्सी मिल जाएगी।

व्यू पॉइंट

देहरादून के इस व्यू पॉइंट पर सहत्रधारा के पास से ही रोपवे के द्वारा जा सकते है। सिखर के ऊपर पहुंचते ही आपके मन को छू जाने वाला दृश्य आपको मंत्रमुग्ध कर देगा। पहाड़ो से घिरे हुए शांत वातावरण में शहस्त्रधारा की बहती हुयी खूबसूरत जलधारा का अद्भुत नजारा देखने के लिए दूर-दूर से टूरिस्ट आते है।

रोबर्स गुफा

जब देहरादून में घूमने की बात आती है तो रोबर्स की गुफा के बारे में बात ना हो ऐया हो ही नहीं सकता। रोबर्स की गुफा देहरादून से मात्र 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आप रोमांच भरी यात्रा के लिए आप इस गुफा में जा सकते हैं, जिसे स्थानीय लोग इसे गुच्चुपानी’ कहते है। ऐसा कहा जाता है कि अंग्रेजों के कब्जे के दौरान इस गुफा का इस्तेमाल लुटेरे करते थे। यही कारण है कि इस गुफा को रॉबर की गुफा के नाम से जाना जाता है।

साई बाबा मंदिर

सहस्रधारा व्यू पॉइंट के ऊपर ही स्थित है साई बाबा का एक सुन्दर मंदिर जिनके आप दर्शन कर सकते है।

आसान बैराज

आसान रिज़र्व आसान और यमुना नदी के संगम पर स्थित है। इसे बैराज के नाम से भी जाना जाता है। ये जगह उत्तराखंड और हिमांचल प्रदेश के बॉर्डर पर स्थित है। जो देहरादून से 30 किलोमीटर की दूरी पर है ।

मालसी डियर पार्क

वर्तमान में मालसी डियर पार्क को देहरादून चिड़ियाघर के नाम से जाना जाता है। ये चिड़ियाघर हिरणों को देखने के लिए एक शानदार जगह है, इसके साथ-साथ यहाँ कई पक्षी और अन्य जानवर भी हैं। मालसी डियर पार्क 25 हेक्टेयर में फैला है। मसूरी के रास्ते में पड़ता है।

मसूरी

देहरादून से 35 किलोमीटर की दूरी पर मसूरी शहर स्थित है, जो अपने ऊँचे पहाड़ो , हिल स्टेशन , झरने झील, पैराग्लिडिन , ज़िपलीने आदि के लिए प्रसिद्ध है। मंसूरी ट्रैकिंग करते हुए चोटियों पर पहुंचेंगे तो आप यहां से केदारनाथ, बद्रीनथ और नीलगिरि पर्वत को दूरबीन से देख सकते हैं। आपको बता दें कि मसूरी भारत का 5 वां सबसे अच्छा हिल स्टेशन है, जहाँ साल भर लाखो की संख्या में देश विदेश से पर्यटक आते हैं।

ये भी पढ़े घूमने के लिए दिल्ली की ये 20 जगह है सबसे बेस्ट, इतिहास से लेकर इनकी खूबसूरती तक सब मिलेगा आपको देखने को।

ये भी पढ़े पटना में घूमने की जगह और पर्यटन स्थल..

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles