fbpx

राजधानी की हवा में घुले जहर को करने के लिए, दिल्ली सरकार ने शुरू किया ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’

Must read

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदुषण को रोकने के लिए ‘रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ’ अभियान शुरू किया है। सोमवार यानी 18 अक्टूबर को दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने आईटीओ चौक ‘रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ’ अभियान की शुरुआत की। इस अवसर पर पर्यावरण मंत्री ने वाहन चालकों को गुलाब का फूल भेंटकर रेड लाइट पर वाहन बंद करने का आह्वान किया।‌ इस दौरान सिविल डिफेंस वालंटियर ने लोगों को ‘मुख्यमंत्री की जनता के नाम अपील’ के पंफलेट बांटे।

जिसमें वाहन चालकों से रेड लाइन ऑन होने पर गाड़ी ऑफ करने, हफ्ते में गाड़ी की एक ट्रिप कम करने और अपने फोन में ग्रीन दिल्ली मोबाइल एप डाउनलोड करने की अपील की गई।

वहीं अभियान के दौरान गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के हिस्से के वाहन प्रदूषण को कम करने के लिए रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ’ अभियान शुरू किया है। दूसरे राज्यों में पराली जलाने की घटनाएं जैसे-जैसे बढ़ रही हैं उसी तेजी से दिल्ली का प्रदूषण स्तर बढ़ रहा है। दिल्ली सरकार ने घोल तैयार करने से लेकर खेतों में छिड़काव करने तक की जिम्मेदारी उठाई अगर दूसरी राज्य सरकारों ने जिम्मेदारी उठाई होती तो पराली नहीं जलती।

पर्यावरण मंत्री ने आगे कहा कि पैट्रोलियम कंजर्वेशन रिसर्च एसोसिएशन के आंकड़ों के मुताबिक रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ अभियान को सफलता पूर्वक लोग पालन करते हैं तो दिल्ली के अंदर 13 से 20 फीसदी तक वाहन प्रदूषण को कम किया जा सकता है। दिल्ली के अंदर गाड़ियां जो सितंबर के महीने में चल रही थीं, वह गाड़ियां आज भी चल रही हैं। लेकिन उस समय प्रदूषण का स्तर सामान्य था। सर्दियों में मौसम बदलने और पराली जलने से प्रदूषण स्तर बढ़ रहा है। पराली जलाने की घटनाएं जैसे-जैसे बढ़ रही हैं, उसी तेजी से दिल्ली के प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। दूसरे राज्यों में जो पराली जल रही है उन राज्यों में हम कुछ नहीं कर सकते।

Advertisement

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article