दुष्कर्म मामले में बसपा सांसद अतुल राय को किया गया बरी, मई 2019 में दर्ज हुआ था मुकदमा

दुष्कर्म मामले में बसपा सांसद अतुल राय को किया गया बरी, मई 2019 में दर्ज हुआ था मुकदमा

Must read

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

वाराणसी के एक कॉलेज की पूर्व छात्रा ने घोसी से बसपा सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था. इस मामले में बसपा सांसद को बरी कर दिया गया है.

आपको बता दें कि मूल रूप से बलिया की रहने वाली युवती ने एक मई 2019 को लंका थाने में दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था.

विशेष न्यायाधीश एमपी-एमएलए सियाराम चौरसिया की कोर्ट ने ये फैसला सुनाय. बसपा सांसद के अधिवक्ता ने बताया कि अभी लखनऊ में एक मामला और दर्ज है. उसमें जमानत मिलने के बाद ही उनको जेल से बाहर निकाला जाएगा.

लोकसभा चुनाव जीतने के बाद 22 जून 2019 को अतुल राय ने वाराणसी की कोर्ट में सरेंडर कर दिया था. तब से वह जेल में ही हैं.

यह मामला तीन साल पुराना है. पिछले साल 16 अगस्त को युवती ने अपने मित्र के साथ सुप्रीम कोर्ट के सामने फेसबुक पर लाइव वीडियो शेयर करते हुए आत्मदाह कर लिया था. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया.

उपचार के दौरान युवक की 21 और युवती की 24 अगस्त को मौत हो गई थी.

उन्होंने यह कदम वाराणसी पुलिस और न्याय व्यवस्था को कोसते हुए उठाया था.

ये भी पढ़े इंडियन आर्मी में अग्निवीर भर्ती की कुछ रैलियों के शेड्यूल में हुआ बदलाव

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article