24.1 C
Delhi
बुधवार, मई 31, 2023

माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए करें घर के मुख्य द्वार पर करे ये उपाय , दूर होगी सभी परेशानियां!

वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन में भेद महत्व होता है, घर में रखी हर एक वस्तु का सीधा सीधा संबंध वास्तु शास्त्र से होता है। यदि कोई वस्तु वास्तु शास्त्र के बताए गए नियमों के अनुसार सही दिशा या सही स्थान पर नहीं होती तो उस घर में नकारात्मक ऊर्जा का वास होने लगता है और घर में आर्थिक संबंधी और स्वास्थ्य संबंधी बीमारियां आने लगती है। लेकिन वही अगर घर में सभी वस्तुएं वास्तु शास्त्र के अनुसार होती है तो उस घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है और सुख समृद्धि और खुशियों से वह घर हमेशा ही भरा रहता है।

वैसे तो घर में सुख शांति एवं समृद्धि के लिए वास्तु शास्त्र में बहुत से उपाय बताए गए हैं परंतु घर के मुख्य द्वार से जुड़े कुछ सरल उपाय आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे हैं। वास्तु शास्त्र के मुताबिक यदि आप सुबह उठते ही अपने घर के मुख्य द्वार पर यह काम कर लेते हैं तो इससे आपके घर में धन की देवी मां लक्ष्मी की सदैव कृपया बनी रहती है और आपके घर में सुख समृद्धि और संपन्नता आने लगती है। वास्तु के अनुसार, हमारे घर में प्रवेश द्वार का बेहद महत्व होता है क्योंकि इसी से ही हमारे घर में नकारात्मक और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है। इसलिए जरूरी होता है कि आपको अपने घर के मुख्य द्वार को वास्तु दोष से हमेशा के लिए मुक्त रखा जाए। चलिए जानते हैं उन उपायों के बारे में जो आप के मुख्य द्वार को रखते हैं वास्तु दोषों से दूर।

Rangoli

ये भी पढ़े घर की इन दिशाओं में लगाएं ये 4 पेंटिंग्स, सभी वास्तु…

धोएं मुख्य द्वार की देहरी

वास्तु शास्त्र के मुताबिक, यदि सुबह उठकर आप अपने इष्ट को नमन करें और उसके बाद अपने घर के सभी खिड़की और दरवाजे को खोल दें, फिर अपने घर में और प्रवेश द्वार की देहरी पर झाड़ू लगाएं। जब झाड़ू लग जाए तो उसके बाद में अपने घर के मुख्य द्वार की देहरी को पानी से धो लें, यदि आप चाहें तो इस पानी में थोड़ी हल्दी भी मिला सकते हैं। माना जाता है कि ऐसा करने से धन की देवी मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है। कहा यह भी जाता है कि नियमित रूप से यदि आप इस उपाय को करते हैं तो इससे आपकी आर्थिक तंगी दूर होती है और घर में कभी भी पैसे संबंधी कोई समस्या देखने को नहीं मिलती।

स्वास्तिक का चिन्ह

वास्तु के मुताबिक, मुख्य द्वार का हमारे घर में नकारात्मक व सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह आने का सबसे अहम स्थान होता है। इसीलिए हमें अपने घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास करने के लिए मुख्य द्वार पर गणेश जी की प्रतिमा लगानी चाहिए। परंतु यह बात ध्यान रहे कि उनकी पीठ के दर्शन ना हो। इसके अलावा आपको रोज सुबह उठने के बाद घर के मुख्य द्वार पर सिंदूर या कुमकुम से ॐ, स्वास्तिक और शुभ-लाभ आदि के चिन्ह बनाने चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो घर परिवार के सभी लोग रोक मुक्त रहते हैं और आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा नहीं आती।

रंगोली

वास्तु के मुताबिक, यदि आप अपने घर के मुख्य द्वार के दोनों ओर छोटी सी रंगोली बनाते हैं तो इससे धन की देवी महालक्ष्मी आपसे प्रसन्न होती है और आपके घर में कभी भी पैसे की तंगी नहीं होती। ऐसा आपको रोजाना नहीं करना बस हफ्ते में एक बार अपने घर के मुख्य द्वार पर रंगोली जरूर बनाएं।

ये भी पढ़े आज ही करें ये खास उपाय, फिजूल खर्चे से मिलेगी मुक्ति और दूर होगी पैसों की तंगी?

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles