19.1 C
Delhi
शनिवार, जनवरी 28, 2023

Insulax Capsule uses in hindi | कैसे करें इंसुलक्स कैप्सूल का इस्तेमाल, साथ ही जानिए इसके फायदे और नुकसान ?

Insulax Capsule uses in hindi – आज हम इंसुलक्स कैप्सूल Insulax Capsule की बात करने वाले है और जानेंगे कि आखिर यह दवाई किस काम आती। तो आइए शुरू करते है। अगर बात करें इंसुलक्स कैप्सूल के उपयोग की तो यह दवाई महुमेह यानी डायबिटीज के इलाज के लिए उपयोग की जाती है।

मधुमेह को दुनिया की सबसे घातक गैर-संक्रामक बीमारियों में से एक माना जाता है और मधुमेह के सबसे ज्यादा मरीज भारत में है। अगर बात करें आंकड़ों की तो भारत में मधुमेह के मरीजों का आंकड़ा 77 मिलियन से भी ज्यादा पहुंच जाता है।

Table of Contents

कैसे होता है मधुमेह ?

आइए अब बात कर लेते है कि आखिर मधुमेह शरीर में बनता कैसे है तो हमारे शरीर में एक प्रकार का हार्मोन पाया जाता है जिसके इंसुलिन कहा जाता है और इंसुलिन का काम होता है हमारे खून में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करने का।

लेकिन जब इंसुलिन की कार्य क्षमता बाधित हो जाती है तो इसकी वजह से हमारे खून में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ने लगती है जिसका नतीजा यह होता है कि शरीर में मधुमेह बढ़ने लगता है और धीरे-धीरे वह व्यक्ति शुगर का मरीज बनने लगता है।

इंसुलक्स कैप्सूल मधुमेह से छुटकारा पाने में कैसे मदद करता है ?

अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर पोस्ट को शुरू तो इंसुलक्स कैप्सूल के लिए किया गया था लेकिन बीच में मधुमेह की जानकारी कहा से आ गई। दरअसल जिस इंसुलक्स कैप्सूल की हम बात कर रहे है। वह इस्तेमाल ही मधुमेह के इलाज के लिए किया जाता है।

क्योंकि इंसुलक्स कैप्सूल एक आर्गेनिक और शत-प्रतिशत जोखिम रहित फूड सप्लीमेंट होता है। जो कि हमारे शरीर में ब्लड ग्लूकोज के लेवल को ठीक करने में मदद करता है। साथ ही यह हमारे इंसुलिन को भी प्राकृतिक रूप से ठीक और सुचारू करने में मदद करता है। जिससे मधुमेह को ठीक करने में मदद मिलती है।

इंसुलक्स कैप्सूल काम कैसे करता है ? How to work Insulax Capsule

इंसुलक्स कैप्सूल के उपयोग के साथ ही शरीर में कई तरह के परिवर्तन आने लगते है और यह परिवर्तन अच्छे होते है। जैसे कि इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार आता है और ब्लड शुगर ठीक या फिर स्थिर होने लगता है।

इंसुलक्स कैप्सूल के फायदे क्या होते है ? Benefits of Insulax Capsule

अगर बात की जाए इंसुलक्स कैप्सूल से मिलने वाले फायदों की तो इससे कई सारी समस्याओं में लाभ मिलता है। जो कि इस प्रकार है।

• यह शरीर में ब्लड ग्लूकोज को स्थिर करता है जिससे डायबिटीज से छुटकारा मिलने में मदद मिलती है।
• यह हार्मोन के संतुलन को संतुलित बनाए रखने में मदद करता है।
• इससे रक्त वाहिकाओं पर सकारात्मक असर देखने को मिलता है।
• इससे हृदय रोगों में लाभ मिलता है।
• यह इन्फ्लेमेशन को कम करता है।
• यह आंतों को ग्लूकोज का पूर्ण अब्सॉर्प्शन करने में मददगार होता है।
• यह शरीर में आई कमजोरी, तनाव या चिंता से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।
• यह पेनक्रियाज तथा लिवर को ठीक रखता है।
• यह शरीर से टोक्सिन और अनावश्यक लिक्विड को निकालने में मदद करता है।

इंसुलक्स कैप्सूल के नुकसान क्या होते है ? Side effects of Insulax Capsule

इंसुलक्स कैप्सूल के फायदे तो हम जान चुके है अब इसके नुक्सान को भी जान लेते है तो इंसुलक्स कैप्सूल एक प्रकार का प्रकृति आधारित फूड सप्लीमेंट होता है। जिसकी वजह से इससे नुकसान होने की संभावना ना के बराबर होती है। इसलिए आप अगर इसका सेवन करना चाहते तो निश्चिंत होकर इसका सेवन कर सकते है।

इंसुलक्स कैप्सूल का सेवन कैसे किया जाता है ? Insulax Capsule uses in hindi

इंसुलक्स कैप्सूल का सेवन करना बेहद ही सरल होता है क्योंकि इंसुलक्स कैप्सूल के पैक में 60 कैप्सूल आते हैं जो कि दिन में 2 बार खाने होते है। इस हिसाब से आपको इसका इस्तेमाल एक माह तक करना होता है। इसकी खुराक की बात करें तो आपको लंच तथा डिनर के 15 मिनट उपरांत एक-एक कैप्सूल का सेवन करना चाहिए।

किस चीज के साथ करें इंसुलक्स कैप्सूल का सेवन ?

अगर आप इसका सेवन करना चाहते है तो आप इसके कैप्सूल गुनगुने पानी, जूस या फिर अल्कोहल रहित किसी अन्य तरल के साथ ले सकते है। लेकिन ध्यान रहे इस दवाई का सेवन करते हुए आपको अपने शरीर को पानी की कमी से बचाना चाहिए और खूब पानी पीना चाहिए। साथ ही आपको पौष्टिक आहार लेना चाहिए।

इंसुलक्स कैप्सूल को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल ?

इंसुलक्स कैप्सूल की कीमत कितनी होती है ?

इंसुलक्स कैप्सूल के पैक में 60 कैप्सूल आते हैं। जो कि भारत में ₹2490 की कीमत पर उपलब्ध है।

भारत में इंसुलक्स कैप्सूल कहां से खरीद सकते है ?

भारत में आप इंसुलक्स कैप्सूल को कही से भी खरीद सकते है यह ऑनलाइन और आफ लाइन दोनों जगह पर उपलब्ध होते है।

क्या मधुमेह में इंसुलक्स कैप्सूल काम करता है ?

इसका जवाब है हां क्योंकि इंसुलक्स कैप्सूल का निर्माण मुख्य तौर पर मधुमेह के इलाज के लिए ही किया गया है।

इंसुलक्स कैप्सूल ऑनलाइन ऑर्डर करने पर कितने दिनों में आ जाता है ?

इंसुलक्स कैप्सूल का ऑनलाइन आर्डर करने पर यह या तो 5 से 7 दिन या फिर अधिकतम 14 दिनों के भीतर प्राप्त हो जाता है।

क्या इंसुलक्स कैप्सूल के नकारात्मक प्रभाव होते है ?

इंसुलक्स कैप्सूल एक प्राकृतिक सप्लीमेंट है इसीलिए इंसुलक्स कैप्सूल के कोई भी नकारात्मक प्रभाव नहीं है।

इंसुलक्स कैप्सूल की एक दिन में कितनी खुराक लेनी चाहिए ?

आप इंसुलक्स कैप्सूल की एक दिन में 2 खुराक ले सकते है जो कि आपको लंच तथा डिनर के 15 मिनट उपरांत लेनी चाहिए।

शुगर की सबसे अच्छी दवा कौन सी होती है ?

अगर कोई शुगर का मरीज हो तो उसे अंजीर के पत्ते या फिर मेथी का उपयोग करना चाहिए क्योंकि यही शुगर के लिए सबसे अच्छी दवाई होती है।

ये भी पढ़े – Berberis vulgaris uses in hindi | बर्बेरिस वल्गैरिस का उपयोग किस बीमारी में किया जाता है, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर ?

ये भी पढ़े – M2 tone syrup uses in hindi महिलाओं में होती है कई तरह की बड़ी समस्याएं, M2 Tone Syrup से होगा सबका हल, यहां जानें

ये भी पढ़े – Saridon Tablet Uses In Hindi | सेरिडॉन टेबलेट से जुड़ी जानें ये खास बातें, इसके उपयोग, लाभ (Benefits), साइड इफेक्ट (Side Effects) और सावधानियां!

ये भी पढ़े – क्या है डेक्सोना टेबलेट, कब और किस तरह लेने चाहिए इसकी खुराक, पढ़ें पूरी जानकारी! Dexona Tablet uses in hindi

Disclaimer
जिस प्रकार से हमारी बीमारी अलग-अलग होती है उसी प्रकार से उनका इलाज भी अलग-अलग है। इसलिए हमारा प्रयास ये रहता है कि हम जिस भी दवाई की जानकारी आपको दें उसके फायदे और नुकसान भी आपके साथ साझा करें। लेकिन केवल पढ़ने मात्र से किसी भी दवाई की पूर्ण जानकारी प्राप्त नहीं हो सकती। इसलिए हम हमेशा आपसे यही बात कहते हैं कि जब भी आप किसी दवाई को इस्तेमाल में लाएं उससे पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें। क्योंकि हमारी सावधानी ही हमें भविष्य में होने वाली समस्याओं से बचा सकती है।

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles