fbpx

M2 tone syrup uses in hindi महिलाओं में होती है कई तरह की बड़ी समस्याएं, M2 Tone Syrup से होगा सबका हल, यहां जानें

Must read

राजन चौहान
राजन चौहानhttps://www.duniyakamood.com/
मेरा नाम राजन चौहान हैं। मैं एक कंटेंट राइटर/एडिटर दुनिया का मूड न्यूज़ पोर्टल के साथ काम कर रहा हूँ। मेरे अनुभव में कुछ समाचार चैनलों, वेब पोर्टलों, विज्ञापन एजेंसियों और अन्य के लिए लेखन शामिल है। मेरी एजुकेशन बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (सीएसई) हैं। कंटेंट राइटर के अलावा, मुझे फिल्म मेकिंग और फिक्शन लेखन में गहरी दिलचस्पी है।

M2 tone syrup uses in hindi- हेलो दोस्तों, आपका हमारी वेबसाइट Duniyakamood पर बहुत बहुत स्वागत हैं ! हम आपको इस लेख में बताने जा रहे हैं की M2 tone syrup uses, M2 tone syrup Side effects in Hindi, m2 tone syrup ke fayde, M2 Tone Syrup में बरती जाने वाली सावधानियां और सारी जानकारी को विस्तार से जानने के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

महिलाएं अपना ज्यादा वक्त घर-परिवार और अपने अन्य कामों पर देती हैं। जिसके कारण वो अपनी सेहत का ठीक तरह से ख्याल नहीं रख पाती और ऐसा करने से उनको अलग-अलग तरह की परेशानी होने लगती है। उनके शरीर में शारीरिक, मानसिक व हार्मोनल बदलाव होने लगते हैं। जिसके कारण उनमें कई तरह की बीमारियां होने लगती हैं। हार्मोन में बदलाव की समस्या किसी भी उम्र की महिलाओं को सकता है। हार्मोन में उतार चढ़ाव आने का सबसे बड़ा कारण है एक्सरसाइज न करना, खान-पान में बदलाव। हार्मोनल असंतुलन के कारण पीसीओडी, थायराइड की समस्या होती है, साथ ही बांझपन का कारण बनता है।

हॉर्मोन में उतार-चढ़ाव के कारण मूड स्विंग्स, खराब नींद, यौन इच्छा में कमी होना, वजन बढ़ना, चिंता, थकान, अनियमित पीरियड्स, पीरियड देरी से आना, चेहरे पर बाल आना, मुँहासे, थकान और चिंता जैसी दिक्कत होती है। आपको बता दें कि हार्मोनल असंतुलन भी PCOD और बांझपन का कारण बन सकता है। औरतों के अन्दर उनके शरीर में हार्मोन के बदलाव की वजह से रक्तस्राव होता है। इसे पीरियड्स कहते हैं। पीरियड्स महिलाओं को हर महीने होते हैं। लेकिन कई बार उनको इस दौरान कई अलग-अलग समस्या होती है। जैसे पीरियड का देर से आना या मिस हो जाना। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए कई बार वो M2 Tone Syrup का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं इसके बारे में ? अगर नहीं तो आइए जानें।

Table of Contents

Advertisement

M2 Tone Syrup

M2 Tone Syrup महिलाओं में असंतुल होते हार्मोनल को संतुलन में बनाए रखता है। यह सिरप आयुर्वेदिक जड़ी—बूटियो से बनाई जाती है। यह एक आयुर्वेदिक दवा है। महिलाओं में महावरी के दौरान होने वाले पेट दर्द, कमजोरी और मानसिक असंतुलन को दूर करने में मदद करता है। आइए जानें इसके बारे में जरूरी बातें।

M2 टोन सिरप में पाई जानें वाले सामग्री

  • कसीसा भस्म
  • अश्वगंधा
  • शतावरी
  • नारदोस्तचिस जटामांसि
  • सेड्रस देवदरा
  • लोधरा
  • मेसुआ फेरिया
  • अशोक

M2 Tone Syrup का प्रयोग | M2 tone syrup uses in hindi

M2 Tone Syrup का प्रयोग कई प्रकार की बिमिरियों के उपचार के लिए किया जाता है।

  • मासिक धर्म की समस्या
  • स्त्री रोगों के कारण होने वाले रक्तप्रवाह
  • प्रजनन प्रणाली की समस्या
  • गर्भाशय संबंधी विकारों के उचार में
  • शरीर के आंतरिक भाग में रक्तस्राव
  • पेट का फूलना
  • त्वचा के रोगों
  • चिंता एवं तनाव

यह दवा महिलाओं के अधिकतर रोगों में दी जाने वाली दवा है। M2 Tone Syrup की खुराक प्रत्येक रोगी के अलग-अलग हो सकती है। यह इस बात पर निर्भर करता है कि उसकी आयु कितनी है, उसका वजन क्या है, रोगी का चिकित्सक इतिहास, उसे रोग क्या है आदि।

M2 Tone Syrup Dosage आयु वर्ग

एक व्यस्क महिला दिन में दो बार एक-एक कैप्सूल को ले सकता है । आप इसका कप्रयोग खाना खाने के बाद भी कर सकते हो। दवा खाने के लिए आपको गुनगुना पानी का प्रयोग करना चाहिए जिससे दवा का सही प्रभाव पड़ सके। अधिक मात्रा में दवा का प्रयोग आपके एिल नुकसानदेह हो सकात है।

M2 Tone Syrup के साइड–इफेक्ट्स – M2 Tone Syrup Side effects in Hindi

कोई भी दवा बहुत लाभकारी हो सकती है साथ ही उसके कुछ नुकसान भी होते हैं। हम थोड़ी सी सावधानियां बरत कर उन नुकसानों को दूर कर सकते हैं। M2 Tone Syrup में पाई जाने वाली सामग्री से आपकेा एजर्ली हो सकती। जिससे आपको कुछ लक्षण दिखाई दे सकते हैं जिनकेा नीचे एक टेबल में दिया गया है। अगर आप इन लक्षणों को गम्भीरता से न लें तो आपको अधिक नुकसान हो सकता है।

  • उल्टी आना
  • पेट खराब या दस्त लगना
  • अचानक से भार बढ़ने का एहसास होना
  • त्वचा में खुजली और लाल दाने आना।
  • रजोरोध आंखो कम दिखना

उपरोक्त दिये गये लक्षणों से आपके लक्षण भिन्न भी हो सकते हैं। अत: आपको बड़ी सावधानी से इसका प्रयोग करना चाहिए। यदि आपको कुछ अलग से लक्षण दिखाई देते हैं तो तुरन्त डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।

M2 Tone Syrup का इस्तेमाल करना।

आप M2 Tone Syrup को गुनगुने पानी के साथ ले सकते है।

M2 Tone Syrup में बरती जाने वाली सावधानियां

  • गर्भवर्ती महिलाओं को इस दवा का इस्तेमाल से बचना चाहिए।
  • यदि दवा के प्रयोग के बाद भी आपकी स्थिति में कोई सुधार न हो तो ऐसा हो सकता है कि आपकी हालत पहले से खराब हो।
  • इस दवा को खाली पेट न लें।
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवा का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • मधुमेह के मरीज इसका प्रयोग डॉक्टर की सलाह के न करें।
  • इस शिरप का प्रयोग करने वाली महिलाओं हैं तो आपको मसालेदार भोजन, दूध दही के अधिक प्रयोग से बचना चाहिए।
  • यदि आप एम 2 शिरप का प्रयोग कर रहे हैं तो आपको शराब को अपने जीवन से हटाना ही होगा।

ये भी पढ़े क्या है डेक्सोना टेबलेट, कब और किस तरह लेने चाहिए इसकी खुराक, पढ़ें पूरी जानकारी! Dexona Tablet uses in hindi

ये भी पढ़े – Paracetamol tablet uses in hindi | पेरासिटामोल लेने से पहले जाने ये जरूरी बातें, इन दवाओं के साथ भूले से ना करें इसका सेवन!

ये भी पढ़े – Lycopodium 200 uses in hindi | लाइकोपोडियम क्या है और इसे किस लिए उपयोग किया जाता है, जाने इस्तेमाल करने के दिशानिर्देश

ये भी पढ़े – Saridon Tablet Uses In Hindi | सेरिडॉन टेबलेट से जुड़ी जानें ये खास बातें, इसके उपयोग, लाभ (Benefits), साइड इफेक्ट (Side Effects) और सावधानियां!

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article