जानिए ऐसे 10 फल और सब्जियों जो प्लेटलेट्स को बढ़ाने के लिए होते है बहुत फायदेमंद ? - Duniyakamood

जानिए ऐसे 10 फल और सब्जियों जो प्लेटलेट्स को बढ़ाने के लिए होते है बहुत फायदेमंद ?

Must read

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

बरसात आते ही खतरा बढ़ने लगता है डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसी बीमारिया का इन बीमारियों में देखा जाता है कि मरीज की प्लेटलेट्स तेजी से गिरने लगती है और कई बार इन प्लेटलेट्स की कमी की वजह से लोगों को अपनी जान तक गवानी पड़ती है।

लेकिन अगर आप अपनी सेहत का ख्याल रखे और पोषक तत्वों से भरपूर आहार का सेवन करें तो आप प्लेटलेट्स से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या से खुद को बचा कर रख सकते है। इसके लिए आप प्राकृतिक फल और सब्जियों को अपने आहार में ले सकते है।

क्योंकि इनके सेवन से हमारे शरीर को काफी फायदे मिलते है लेकिन लोग इसकी बजाए ऐसी गोलियों और दवाईयों का सेवन कर लेते है जो कि उनकी सेहत के लिए काफी हानिकारक साबित होती है।

इसीलिए आज हम आपके लिए ऐसी जानकारी लेकर आए है जो कि आपकी इन समस्याओं से लड़ने में काफी मदद कर सकती है। आज हम आपको ऐसे 10 फल और सब्जियों की जानकारी देंगे जो कि आपकी प्लेटलेट्स को बढ़ाने में काफी मदद कर सकती है।

तो कौनसे है वो फल और सब्जियां और आपको कैसे उनका सेवन करना चाहिए आइए उन्हें जान लेते है।

तेजी से प्लेटलेट्स को बढ़ाने वाले फल और सब्जी ?

पपीते का सेवन

अगर प्लेटलेट्स को बढ़ाने वाले फलों की बात करें तो पपीते का नाम कैसे पीछे रह सकता है क्योंकि डेंगू के वक्त पपीते के पत्तों का रस पीने की सलाह दी जाती है क्योंकि पपीता फल और उसके पत्तो में एसिटोजिनिन नाम का फाइटोकैमिकल पाया जाता है जो कि प्लेटलेट्स काउंट को बूस्ट करने का काम करता है।

इसके अलावा पपीते के पत्तो में पपेन और काइमोपपैन जैसे एंजाइम पाए जाते है जो कि हमारे शरीर में प्लेटलेट्स की कमी को पूरा करते है और इससे प्लेटलेट्स तेजी से बढ़ने लगती है।

संतरे का सेवन

केवल इम्यून सिस्टम ही नहीं बल्कि शरीर में प्लेटलेट्स काउंट को बढ़ाने में भी विटामिन सी काफी कारगर होता है और संतरा विटामिन सी का एक अच्छा स्त्रोत माना जाता है। इसीलिए अगर किसी मरीज के प्लेटलेट्स तेजी से गिर रहे हो तो उसे संतरा और उसके जूस का सेवन कराना काफी लाभकारी माना जाता है।

इतना ही नहीं अगर रोज सुबह खाली पेट संतरे का जूस पीया जाए तो इससे भी बड़ी तेजी से प्लेटलेट्स की संख्या में बढ़ोतरी होती है क्योंकि संतरे में फोलेट नाम का पोषक तत्व पाया जाता है जो कि खून से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने में काफी सहायक होता है और यह फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसानों से भी हमारे शरीर को बचाता है।

कीवी का सेवन

कीवी को एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर फल माना जाता है और अगर किसी मरीज के खून में प्लेटलेट्स की संख्या तेजी से कम हो रही हो। तो ऐसे मरीज के लिए कीवी किसी रामबाण इलाज से कम नहीं है। कीवी के लिए ऐसा कहा जाता है कि अगर एक दिन में केवल 2 कीवी फल खाए तो इससे कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है।

इसके अलावा कीवी के और भी कई फायदे होते है जैसे कि यह प्लेटलेट्स बढ़ाता है, एनिमिआ की समस्या को दूर करता है, विटामिन बी 12 की कमी को दूर करता है और हमारे शरीर को कई संक्रमण के खतरों से भी बचाता है।

अंगूर का सेवन

अंगूर में कई मिनरल्स, विटामिन और फाइबर पाए जाते है जो कि हमारे शरीर के लिए काफी अच्छे माने जाते है। यह पोषक तत्व प्लेटलेट्स को बढ़ाने में भी बहुत कारगर साबित होते है और अगर नाश्ते के वक्त अंगूर का सेवन किया जाए तो इससे पूरे दिनभर शरीर में ऊर्जा और ताजगी भरी रहती है।

जैसा कि हम जानते है कि अंगूर खट्टे फलों में आते है और हर खट्टे फल की तरह ही अंगूर में भी फ्लेवोनोइड्स और पॉलीफेनोलिक यौगिक पाया जाता है जो कि हमारे शरीर को हृदय रोग, कार्डियोवैस्कुलर डिजीज और रक्त के विकारो से सुरक्षित करता है।

चुकंदर का सेवन

फलों के अलावा सब्जियां भी प्लेटलेट्स को बढ़ाने में बहुत मददगार होती है उन्हीं में से एक सब्जी है चकुंदर, चकुंदर को औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है जो कि हमें खून से जुड़ी कई समस्याओं से छुटकारा दिलाता है।

चकुंदर का सेवन ना सिर्फ आप सलाद के रूप में बल्कि सब्जी या फिर सूप के रूप में भी कर सकते है। चकुंदर आयरन का अच्छा स्त्रोत भी माना जाता है जिससे हमारे ब्लड सेल्स को वृद्धि में काफी मदद मिलती है।

इसके अलावा अगर रोजाना चकुंदर के रस का सेवन किया जाए तो इससे कई अन्य समस्याओं में भी फायदा मिलता है जैसे कि पाचन विकार की समस्या, ब्लड प्रेशर की समस्या, एनिमिआ की समस्या, रक्त सम्बंधित समस्या और कैल्शियम की कमी की समस्या आदि और चुकंदर तो चकुंदर इसकी जड़ भी हमारे शरीर को प्लेटलेट्स के फ्री रेडिकल्स से होने वाली समस्याओं से बचाती है।

नारियल पानी का सेवन

नारियल के पानी को प्राकृतिक पेय कहा जाता है और इसके सेवन से हमारे शरीर कई ऐसे मिनरल मिल जाते है जिन्हें हम किसी अन्य चीज से नहीं प्राप्त कर सकते। इसके अलावा नारियल पानी कई ऐसे पोषक तत्वों का भी स्त्रोत होता है जो कि हमारे प्लेटलेट्स को बढ़ाने के लिए काफी लाभदायक होती है।

इतना ही नहीं अगर नारियल पानी का रोजाना सेवन किया जाए तो इससे खून में आयरन और हीमोग्लोबिन की कमी को भी दूर किया जा सकता है और इसमें पाए जाने वाले इलेक्ट्रोलाइट्स शरीर को पुरे दिन पानी की कमी से होने वाले खतरे से बचाते है।

ब्रोकोली का सेवन

प्लेटलेट्स को बढ़ाने वाली सब्जियों में ब्रोकोली भी काफी लाभदायक होती है। यह दिखने में तो हूबहू फूल गोभी की तरह होती है लेकिन गुणों के मामले में यह फूल गोभी से बिल्कुल अलग होती है। इसमें भी कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते है जो कि हमारी प्लेटलेट्स की संख्या को बढ़ाने के लिए जरूरी होते है।

इसके अलावा अगर ब्रोकोली को पानी में उबाल कर खाया जाए तो इससे भी हमारे शरीर को काफी फायदे मिलते है। अगर इसके पोषक तत्वों की बात करें तो ब्रोकोली में रक्त कोशिकाओं के लिए आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते है।

इतना ही नहीं इसमें विटामिन सी भी काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता है जो कि हमारे प्लेटलेट्स को सही तरह से काम करने में काफी मदद करता है और बाहरी संक्रमण से लड़ने में भी काफी लाभदायक होता है।

पालक का सेवन

प्लेटलेट्स को बढ़ाने के लिए हरी पत्तेदार सब्जिया भी बहुत गुणकारी होती है और इनमें से पालक को प्लेटलेट्स बढ़ाने वाली सबसे श्रेष्ठ सब्जी माना जाता है क्योंकि पालक ऐसी सब्जी होती है जो कि हमारे शरीर के विषाक्त पदार्थो को दूर करने में काफी लाभकारी होती है।

इसके अलावा अगर रोजाना पालक के रस का सेवन किया जाता है तो इससे खून की शुद्धि होती है और हमारे शरीर की रोग प्रतिकार प्रणाली में भी सुधार आता है।

मेथी का सेवन

मेथी को भी काफी अच्छी सब्जी माना जाता है और मेथी के लिए ऐसा भी कहा जाता है कि यह सभी स्वास्थ्यकिय समस्याओं का हल होती है और अगर बात करें मेथी के पत्तो के रस की तो यह हमारे शरीर में प्लेटलेट्स की कमी को दूर कर देती है।

इतना ही नहीं अगर डेंगू बुखार में उबाली हुई मेथी की सब्जी का सेवन किया जाए तो इससे काफी राहत भी मिलती है। साथ ही यह रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कंट्रोल करने का काम करती है एवं आरामदायक नींद के लिए भी मेथी को अच्छा माना जाता है।

गाजर का सेवन

अगर आप अपने शरीर को तंदुरूस्त रखना चाहते है या फिर प्लेटलेट्स की कमी को दूर करना चाहते है तो आपके लिए गाजर का सेवन करना भी काफी अच्छा हो सकता है क्योंकि गाजर में भी कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते है जो कि प्लेटलेट्स को बूस्ट करते है और तेजी से बढ़ाते है।

इसके अलावा अगर आप चुकंदर के रस में गाजर का रस मिला कर पीते है तो इससे डेंगू, टाइफोइड और चिकनगुनिया जैसी गंभीर बीमारियों से भी छुटकारा पाया जा सकता है। इतना ही नहीं अगर एक हफ्ते में केवल 2 बार गाजर और चुकंदर का रस पिया जाता है तो इससे ब्लड प्लेटलेट्स की मात्रा में काफी बढ़ोतरी होती है।

More articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisement -

Latest article