29.1 C
Delhi
रविवार, जुलाई 14, 2024
Recommended By- BEdigitech

भारत को पैरालिम्पिक्स में आठवां मेडल दिलाने वाले सिंहराज हुए भावुक, कहा- पत्नी ने गहने बेच बनाया था शूटर

टोक्यो पैरालंपिक्स भारत के सिंहराज अडाना ने पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल SH1 के फाइनल में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। चीन के यांग चाओ ने 237.9, यहीं के हुआंग जिंग ने 237. 5 के स्कोर के साथ गोल्ड और सिल्वर जीता जबकि हरियाणा के पैरा शूटर ने 216.8 का स्कोर किया और भारत को कांस्य पदक दिलाया।

कांस्य पदक जीतने के बाद उन्होंने कहा, ‘मैं यह पदक अपने परिवार और कोचों को समर्पित करना चाहता हूं। मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि मेरे आसपास कई अच्छे लोग हैं। ‘ब्रह्मा, विष्णु और महेश’ जैसे तीनों कोच मेरे साथ रहे, जिन्होंने मुझे प्रेरित किया और मैं उनका आभारी हूं। पदक जीतने के बाद सिंहराज ने बताया, मेरे कोच ने क्वालिफिकेशन में की गई गलतियों को दूर करने के लिए मेडिटेशन करने का सुझाव दिया। मैंने पांच मिनट तक मेडिटेशन किया और इससे मदद मिली। उन्होंने आगे कहा, ‘यह परिणाम एक बेहतर टीम के कारण हुआ है, जो मेरे साथ है।’

उनका टोक्यो पैरालंपिक तक का सफर आसान नहीं रहा। लेकिन उनकी पत्नी ने उनका बहुत साथ दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि उनके निशानेबाज बनने के सपने को पूरा करने के लिए उनकी पत्नी ने अपने गहने तक बेच दिए थे। उन्होंने पीएम से कहा था, शूटिंग बहुत ही खर्चीला खेल है और मेरे लिए यह आसान नहीं था। मेरे शूटिंग के सपने को पूरा करने करने के लिए मेरी पत्नी ने अपने जेवरात बेच दिए थे। 

इसके साथ ही भारत के खाते में 8 पदक आ गए हैं, जिसमें 2 स्वर्ण, 4 रजत और 2 कांस्य पदक शामिल हैं।

Advertisement

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles