32.1 C
Delhi
रविवार, जुलाई 14, 2024
Recommended By- BEdigitech

ब्लूमबर्ग अरबपतियों की सूची: मुकेश अंबानी फिर से मार्क जुकरबर्ग से आगे निकले, लेकिन दो पायदान फिसले गौतम अडानी।

मुकेश अंबानी के नेट वर्थ में तेजी देखी गई है, जबकि मार्क जुकरबर्ग की दौलत भी बढ़ी है, लेकिन दोनों में अंतर ज्यादा है जिससे अंबानी को फायदा हुआ है। ब्लूमबर्ग अरबपतियों की सूची के अनुसार, मार्क जुकरबर्ग 85.5 अरब डॉलर के साथ अरबपतियों की सूची के 13वें पायदान पर पहुंच गए हैं।

अंबानी ने बीते 24 घंटों में 1.4 अरब डॉलर या 11,488 करोड़ रुपये की वृद्धि की है, जिससे उनकी कुल नेटवर्थ 85.8 अरब डॉलर हो गई है। इससे मुकेश अंबानी अब अमीरों की सूची में एक पायदान ऊपर चढ़कर 12वें नंबर पर पहुंच गए हैं।

इस वर्ष दोनों अरबपतियों को नुकसान हुआ है। मुकेश अंबानी को अब तक 1.36 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है, जबकि मार्क जुकरबर्ग को 39.9 अरब डॉलर का भारी नुकसान हुआ है। हालांकि, संपत्ति गंवाने के मामले में जुकरबर्ग भारतीय अरबपति गौतम अडानी से पीछे हैं, क्योंकि अडानी की नेटवर्थ में इस साल 63.5 अरब डॉलर का घाटा उठाना पड़ा है।

बीते दिनों ही गौतम अडानी दो पायदान नीचे खिसक गए हैं और उन्हें अरबपतियों की सूची के 14वें पायदान पर पहुंचना पड़ा है। इसके बावजूद, अडानी अभी भी दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं।

Advertisement

अंततः, इन संख्याओं से स्पष्ट होता है कि भारत के उद्योगपतियों और बड़े निवेशकों का संपत्ति के मामले में विश्वस्तरीय अहमियत है। यह बिना किसी शक के सत्यापित होता है कि दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से कई भारतीय होते हैं, जिससे देश का उद्योग और अर्थव्यवस्था का प्रगतिशील होने का प्रतीक भी दर्शाया जाता है।

अरबपतियों की सूची

ये भी पढ़े ईद मुबारक की पोस्ट पर ट्रोल हुए सिंगर शान, कुछ इस अंदाज में दिया ट्रोलर्स को जवाब ?

अमीरों की सूची में गौतम अडानी नीचे आये। जहाँ अरबपतियों की सूची में मुकेश अंबानी को फायदा हुआ है, वहीं गौतम अडानी को नुकसान झेलना पड़ा है। गत 24 घंटों में अडानी की नेटवर्थ में 4.78 अरब डॉलर या लगभग 39,000 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। इस नुकसान के बाद, अडानी अमीरों की सूची में 21वें पायदान से नीचे खिसककर 23वें नंबर पर पहुंच गए हैं। अडानी की नेटवर्थ 57.1 अरब डॉलर है। इस साल, अमेरिकी शॉर्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग (Hindenburg) की रिसर्च रिपोर्ट ने उनके लिए बुरा साबित हुई।

बीते 24 जनवरी को प्रकाशित इस रिपोर्ट के बाद अडानी की कंपनियों के शेयरों में सुनामी देखी गई थी और उनकी संपत्ति में हर दिन हजारों करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। हिंडनबर्ग रिपोर्ट के पहले वे टॉप-10 अरबपतियों की लिस्ट में चौथे पायदान पर थे, लेकिन दो महीने के भीतर ही उन्हें 37वें पायदान तक गिरना पड़ा था। हालांकि, मार्च के अंत के बाद से उनकी रैंकिंग में सुधार देखने को मिला है।

यह दुनिया के शीर्ष 10 अरबपतियों की सूची है। पहले स्थान पर बर्नार्ड अर्नॉल्ट (Bernard Arnault) हैं, जिनकी नेट वर्थ 208 अरब डॉलर है। दूसरे स्थान पर 170 अरब डॉलर के साथ एलन मस्क (Elon Musk) हैं। तीसरे स्थान पर जेफ बेजोस (Jeff Bezos) हैं, जिनकी नेट वर्थ 130 अरब डॉलर है। चौथे स्थान पर माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स (Bill Gates) हैं, जिनकी संपत्ति 125 अरब डॉलर है। पांचवें स्थान पर वॉरेन बफेट (Warren Buffet) हैं, जिनकी नेट वर्थ 114 अरब डॉलर है।

 दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में लैरी एलिसन (Larry Ellison) छठे स्थान पर हैं जिनकी संपत्ति 109 अरब डॉलर है। सातवें स्थान पर स्टीव बाल्मर (Steve Ballmer) हैं जिनकी संपत्ति 108 अरब डॉलर है। आठवें स्थान पर लैरी पेज (Larry Page) हैं जिनकी संपत्ति 99.4 अरब डॉलर है। सूची में नौवें स्थान पर सर्गेई ब्रिन (Sergey Brin) हैं जिनकी संपत्ति 95 अरब डॉलर है और दसवें स्थान पर Francoise Bettencourt Meyers का नाम है जिनकी संपत्ति 94 अरब डॉलर है।


ये भी पढ़े मनोज बाजपेयी के मानहानि केस ने बढ़ाई KRK की मुश्किलें, जानिए क्या है पूरा माजरा ?

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles