11.1 C
Delhi
बुधवार, फ़रवरी 8, 2023

शनि की टेढ़ी नजर पर है ये 5 राशियां, अगर करना चाहते हैं अपना बचाव, तो शनिचरी अमावस्या पर करें ये खास उपाय ?

शनिदेव वह ग्रह है जो किसी भी जातक को पलक झपकते ही राजा और किसी भी जातक को राजा से रंक बना सकते है। इसीलिए हर कोई शनिदेव की टेढ़ी नजर से अपना बचाव करना चाहता है। लेकिन इस साल 5 राशियों पर पहले से ही शनि की टेढ़ी नजर पड़ चुकी है।

अब ये 5 राशियां कौनसी है इसकी जानकारी तो हम आपको आगे देंगे लेकिन पहले आपको ये जानना जरूरी है कि आखिर शनि की इस टेढ़ी नजर से बचा कैसे जाए। तो हर एक महीने में एक अमावस्या और एक पूर्णिमा तिथि आती ही है।

इस दिन अगर शनिदेव को प्रसन्न करने का प्रयास किया जाए तो जल्द ही शुभ फलों की प्राप्ती होती है और आपको जानकर खुशी होगी कि शनि देव के प्रकोप से मुक्ति पाने के लिए इस बार की अमावस्या आपके लिए खास होने वाली है। क्योंकि इस बार की अमावस्या शनिवार के दिन आ रही है।

इससे इस दिन का महत्व और भी अधिक बढ़ गया है। साल की पहली अमावस्या जिसे माघी, मौनी या फिर शनिचरी अमावस्या कहा जाता है। 21 जनवरी 2023, शनिवार को पड़ रही है और आपको इस खास दिन का लाभ उठाना ही चाहिए। इस अवसर का लाभ उठाने के लिए आपको बस कुछ खास उपायों का सहारा लेना है जो कि हम आपको आगे बताने वाले हैं।

Table of Contents

इस शनिवार के दिन करें ये खास उपाय ?

ये भी पढ़े लाल किताब के ये टोटके मात्र 24 घंटों में दिला सकते हैं आपको सभी समस्याओं से छुटकारा, जानिए कौनसे हैं ये खास उपाय ?

सर्वप्रथम करें दान-स्नान

ज्योतिष शास्त्र में ऐसा कहा जाता है कि अगर शनिवार वाले दिन पड़ने वाली अमावस्या पर स्नान-दान किया जाए तो इसका विशेष महत्व प्राप्त होता है और इस बार की अमावस्या पर तो सर्वार्थ सिद्धि योग भी बन रहा है। जिससे कि इस दिन के दान-स्नान का दोगुना फल प्राप्त होगा। अगर इस दिन आप शनि देव से संबंधित उपायों को करते हैं तो इससे शनिदेव के अशुभ प्रभावों को भी कम किया जा सकता है।

इन 5 राशियों पर है शनि देव की टेढ़ी नजर

आइए अब आपको बताते हैं कि आखिर वह कौनसी राशियां है जिनपर शनि देव की टेढ़ी नजर है। तो मौजूदा समय में शनि कुंभ राशि में विराजमान है और इसी के चलते मकर, कुंभ व मीन राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है।

इसके अलावा कर्क व वृश्चिक राशि वालों पर शनि ढैय्या का प्रभाव चल रहा है। ऐसे में इन राशियों को काफी संभल कर चलने की जरूरत है। इसके साथ ही अगर ये सभी राशि वाले लोग शनिचरी अमावस्या वाले दिन खास उपायों को करते हैं तो ये अपने आप को शनि के प्रकोप से बचा सकते हैं।

वो उपाय जो दिला सकते हैं आपको शनि देव की कृपा ?

तो चलिए अब आपको उन उपायों की जानकारी देते हैं जो कि आपको इस शनिवार के दिन यानी शनिचरी अमावस्या को करने चाहिए। क्योंकि इन उपायों को करने से आप शनि देव के प्रभाव को कम कर सकते है।

उपाय इस प्रकार से हैं ?

जब सूर्यास्त हो जाए तब पीपल के वृक्ष पर जाएं और एक सरसो के तेल का दीपल जलाएं।

शनि मंदिर में जाकर शनि देव पर तेल अर्पित करते हुए उनका पूजन करें।

पीपल के पेड़ की 7 बार परिक्रमा करें और पीपल के पेड़ पर जल अर्पित करते हुए पूजन करें।

शनिवार वाले दिन शनि देव का नाम लेते हुए सरसो तेल का दान करें।

शनिवार वाले दिन हनुमान जी को अर्पित करें सिंदूर और चमेली का तेल।

शनि चालीसा का करें पाठ।

ये भी पढ़े जानें, गुरुवार का व्रत करने से क्या होता है, इसका उद्यापन कब होता है और इस व्रत में क्या खाना चाहिए ?

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles