19.1 C
Delhi
शनिवार, जनवरी 28, 2023

शरीर में हार्मोन इम्बैलेंस के कारण हो सकती हैं ये समस्याएं, डॉक्टर से जरूर करें संपर्क

महिलाओं के शरीर में कई तरह की समस्याएं होती हैं अक्सर उन्हें हार्मोन इम्बैलेंस की समस्या का सामना करना पड़ता है। यह अक्सर गलत खान-पान के कारण होता है। लेकिन यह बहुत बड़ी समस्या का कारण हो सकता है। हमारा शरीर ठीक तरह से काम करे उसके लिए हार्मोन्स का सही से काम करना बहुत जरूरी होता है। कई बार हमें पता नहीं होता कि हमें हार्मोन इम्बैलेंस की समस्या हो रही है। महिलाएं दिनभर घर के काम ऑफिस के काम करती हैं, जिसके कारण उन्हें खुद के लिए वक्त नहीं मिल पाता।

अगर शरीर में हार्मोनल इम्बैलेंस है तो कई शारीरिक बदलाव होने लगते हैं। अगर हार्मोनल इम्बैलेंस हो रहा है तो आपकी एंग्जाइटी और डिप्रेशन का भी ये कारण हो सकता है। यहां तक कि आपकी आंतों की समस्या, न्यूट्रिशन की कमी और इन्फर्टिलिटी का कारण भी ये हो सकता है। आइए जानें हार्मोन इम्बैलेंस के कुछ ज़रूरी लक्षण जिनके ऊपर आपको घ्यान देना चाहिए।

Table of Contents

मूड स्विंग्स का होना

अगर किसी महिला के शरीर में हार्मोन लेवल में कुछ बदलाव हो रहे हैं, तो आपको मूड स्विंग्स भी हो सकता है। मूड स्विंग्स में कभी गुस्सा, दुख, तकलीफ और अन्य कई सारे इमोशन्स महसूस होते हैं।

कमजोरी होना

हार्मोन्स में गड़बड़ी के कारण पूरे दिन शरीर में कमजोरी महसूस होती है। इसके कारण अच्छी नींद नहीं आती और पूरे दिन हर काम में आलस आता रहता है। अगर नींद आती भी है तो सुबह उठकर सुस्ती होगी और आप सही महसूस नहीं करेंगी।

बालों का गिरना

हार्मोन के असंतुलन के कारण बाल भी बहुत गिरते हैं।

अचानक वजन कम होना

कभी-कभी अगर हम सही खानपान, सही रेगुलर एक्सरसाइज करते हैं और सही नींद भी लेते हैं। लेकिन इसके बावजूद वजन गिरने लगता है। यह हार्मोन्स के बदलाव का सबसे पहला लक्षण है।

स्किन पर दिखेंगे कई बदलाव

हार्मोन असंतुलन का असर हमारे चेहरे पर भी दिखता है। इसके कारण अचानक आपको स्किन पर एक्ने, पिगमेंटेशन होगा, झुर्रियां जैसी समस्या दिखने लगेंगी। स्किन डल होने लगेगी, स्किन ड्राई होने लगेगी और कुछ लोगों की स्किन ज्यादा ऑयली हो सकती है।

पीरियड्स में समस्या

इसके अलावा पीरियड्स काफी अनियमित हो जाते हैं। आपको पीरियड्स दर्द भरे हो सकते हैं, पीरियड्स जल्दी या देर से आ सकते हैं।

ये सारे संकेत हार्मोनल असंतुलन के लक्षण होते हैं। इसके लिए एक हेल्दी डाइट जरूर लें। साथ ही अगर आपको इनमें से कुछ भी लक्षण दिख रहे हैं तो अपना हार्मोन लेवल का टेस्ट जरूर करवाएं और अपने खुद को फिजिकली फिट रखने के लिए प्राणायाम करें और स्ट्रेस से डील करने के लिए आप डॉक्टर की सलाह ले सकती हैं।

ये भी पढ़े – पीरियड्स के दिनों में अगर आपको आए यह समस्या तो डॉक्टर्स से जरूर लें सलाह?

ये भी पढ़े – पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए शिल्पा शेट्टी के बताए ये 3 योगासन करें

Disclaimer

हमारा प्रयास रहता है कि हम आपके लिए एक दम सटीक जानकारी लेकर आए और इसलिए हम तथ्यों और विशेषज्ञों के द्वारा बताई गई ही जानकारी आपके लिए लेकर आते है। हम सभी का शरीर अलग-अलग तरीके का है। इसलिए इसे भी नकारा नहीं जा सकता कि हर टिप्स आपके शरीर पर एक ही तरह से काम करेगी। इसलिए किसी भी टिप को अपनाने से पहले आप अपने डॉक्टर या फिर किसी विशेषज्ञ की राय जरूर लें। हमारा काम आपके लिए होम रेमेडी और फिटनेस टिप लेकर आना है लेकिन उन्हें ट्राई करने से पहले आपको भी उसकी पूरी पड़ताल करनी चाहिए और तभी इन टिप्स को इस्तेमाल में लाना चाहिए।

शुभम सिंह
शुभम सिंह
शुभम सिंह शेखावत हिंदी कंटेंट राइटर है। वह कई टॉपिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करते है जैसे कि हेल्थ, एंटरटेनमेंट, वास्तु, एस्ट्रोलॉजी एवं राजनीति। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। वह कई समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम कर चुके है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles