11.1 C
Delhi
बुधवार, फ़रवरी 8, 2023

Year Ender 2022: वह भारतीय जिन्होंने अपनी नई सोच के साथ धरती को बचाने के लिए किया है काम।

हमारे देश में केवल पॉलिटिशियन, एक्टर और देश का नाम रौशन करने वाले खिलाड़ी ही नहीं हैं। यहां कई और लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने देश के लिए कई बड़े काम किए हैं। हम यहां देश को आज़ाद करवाने में अपनी जान गवा देने वाले स्वतंत्रता सेनानी की बात नहीं कर रहे, ना ही हम उन वीर जवानों की बात कर रहे हैं जिनका देश की सरहद पर खून बहा है। हम आपको बता रहे हैं उन लोगों के बारे में जो हमारे और आपकी तरह एक आम ज़िन्दगी जीते हैं। अपना पेट पालने के लिए मेहनत करते हैं, लेकिन उन्होंने वॉटर बॉडीज को साफ करने से लेकर कचरा रिसाइकिल करने तक स्वच्छता अभियान का साथ दे रहे हैं।

सीसी कनन: दिहाड़ी पर काम करने वाले CC Kanan ने अपने पिछले 25 साल स्कूलों और सड़कों के किनारे सैकड़ों पेड़ लगाने में गुज़ार दिए।

निमल राघवन: कावेरी डेल्टा क्षेत्र में 118 वॉटर बॉडीज को नई ज़िन्दगी देने के लिए टेक्निकल एक्सपर्ट निमल राघवन ने अपनी दुबई की नौकरी छोड़ दी।

ये भी पढ़े राजस्थान के राजसमंद में भग्गा सिंह चाय वाला टी स्टॉल प्लास्टिक कचरे के बदले लोगों को देते हैं चाय और नाश्ता

राहुल महाराणा: सिक्योरिटी गार्ड राहुल महाराणा ने ओडिशा के अस्तारंगा बीच और मैंग्रोव बेल्ट को अकेले साफ करके 1 टन कचरा हटाया।

मणिकंदनः 5 तालाब, 4 झीलें, 3 नहरें, कोयम्बटूर के मणिकंदन ने गंदे और बदबूदार वॉटर बॉडीज से गंदगी निकालने और उन्हें पुनर्जीवित करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।

मोनिशा नारकेः मुंबई की मोनिशा नारके कार्टन से स्कूल डेस्क बनाती हैं और हर साल 750 टन कचरा रिसाइकिल करती हैं।

विकास अब्राहम: इंजीनियर विकास अब्राहम ने 1 लाख से अधिक किसानों को पराली जलाने की बजाय हर साल इसमें 7000 मीट्रिक टन की कटौती करने में मदद की।

नदीम शहजाद, मोहम्मद सऊदः दिल्ली के दो भाई, नदीम शहजाद और मोहम्मद सऊद ने मिलकर अपने मेकशिफ्ट बेसमेंट क्लिनिक में 23000 घायल पक्षियों को बचाया।

फरसा राम बिश्नोईः सुनने या बोलने में असमर्थ, फरसा राम बिश्नोई ने सालों तक घायल जंगली जानवरों को खाना खिलाने, आश्रय और फर्स्ट एड की सेवा दी।

ये भी पढ़े बिहार के बोधगया में विदेश से आए 11 लोग पॉजिटिव निकले, होटल में किया गया आइसोलेट

मोहित नागर
मोहित नागर
मोहित नागर एक कंटेंट राइटर है जो देश- विदेश, पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ और वास्तु से जुड़ी खबरों पर लिखना पसंद करते हैं। उन्होंने डॉ० भीमराव अम्बेडकर कॉलेज (दिल्ली यूनिवर्सिटी) से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है। मोहित को लगभग 3 वर्ष का समाचार वेब पोर्टल एवं पब्लिक रिलेशन संस्थाओं के साथ काम करने का अनुभव है।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles