16.1 C
Delhi
बुधवार, फ़रवरी 8, 2023

बिलावल भुट्टो के बाद पाक मिनिस्टर की ‘जहरीली जुबान’, भारत को एटम बम की दी धमकी

पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो के बयान पर देश में घमासान मचा है। अमेरिका में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अधिवेशन से इतर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बिलावल भुट्टो ने भारत सरकार को महात्मा गांधी की बजाय हिटलर से प्रभावित बताया है। पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने पीएम मोदी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(RSS) को लेकर भी अमर्यादित टिप्पणी की थी। पीएम मोदी को बिलावल ने गुजरात का कसाई बताया था। बिलावल का ये बयान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एस जयशंकर की ओर से पाकिस्तान को लताड़ लगाने के बाद आया था।

बिलावल भुट्टो की अभद्र टिप्पणी के बाद अब वहां की एक मंत्री उनके बचाव में आई हैं। बिलावल भुट्टों के समर्थन में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहीं शाजिया मर्री ने भारत के खिलाफ जहर उगला है। शाजिया ने तो भारत को परमाणु हमले की धमकी तक दे डाली है। शाजिया मर्री ने मोदी सरकार का जिक्र करते हुए कहा है कि भारत को भूलना नहीं चाहिए कि पाकिस्तान एक परमाणु शक्ति है। अगर हमें थप्पड़ पड़ा तो हम उसका जवाब थप्पड़ से ही देंगे। पाकिस्तान अच्छे से जवाब देना जानता है। ये वो मुल्क नहीं जो एक गाल पर थप्पड़ पड़ने पर दूसरा गाल आगे कर दे।

Shazia Marri

ये भी पढ़े पठान फिल्म के सॉन्ग “बेशरम रंग” विवाद पर Baahubali निर्माता का रिएक्शन आया सामने, कहा- बहुत नीचे जा रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने निशाना साधते हुए पाकिस्तान को आतंकवाद का केंद्र बताया था। शाजिया के बयान में इस बात का दर्द साफ झलका है। शाजिया ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि भारत में मुसलमानों को सोची समझी साजिश के तहत निशाना बनाया जा रहा है। उन्हें आतंकवाद के साथ जोड़ा जा रहा है। दलितों पर अत्याचार किया जा रहा है। भारत में मोदी सरकार बनने के बाद से धर्मनिरपेक्ष  हिंदुत्व के नक्शे कदम पर चल रहा है। पीएम मोदी जब गुजरात के सीएम थे तब वहां खून बहाया गया था।

शाजिया मर्री ने तो भारत को एटम बम की भी धमकी दे डाली है। मर्री ने कहा है कि हमारा न्यूक्लियर स्टेटस खामोश रहने के लिए नहीं है। शाजिया मर्री ने बिलावल भुट्टो के समर्थन में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भारत के खिलाफ जहर उगला है।

Bilawal bhutto

कौन है बिलावल भुट्टो-

 बिलावल भुट्टो पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत बेनजीर भुट्टो और आसिफ अली जरदारी के पुत्र है। 27 दिसंबर, 2007 को माँ बेनज़ीर भुट्टो की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद बिलावल भुट्टो को पाकिस्तान पीपल्स पार्टी का उत्तराधिकारी बनाया गया था। उस वक्त उसकी अम्र 19 साल थी। तब वह ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी के क्राइस्ट कॉलेज में इतिहास में ग्रेजुएशन कर रहा था। 2009 में अमेरिका-पाकिस्तान-अफ़ग़ानिस्तान के एक सम्मेलन में बिलावल को पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा बनाया गया था।

ये भी पढ़े मनी लांड्रिंग केस: सत्येंद्र जैन-सिसोदिया से कनेक्शन और 60 करोड़ की डील, कमेटी के सामने खोले कई राज।

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest Articles